10 बेस्ट ट्रैवलिंग ट्रिक्स ( 10 Best Travelling Tricks)

ट्रैवलिंग के नाम से हम जितना ख़ुश होते हैं, पैकिंग के नाम से उतना ही परेशान. पैकिंग हमेशा बोरिंग लगती है, लेकिन अगर आपने अच्छी तरह पैकिंग नहीं की, तो ट्रिप का मज़ा किरकिरा हो सकता है. 

1. कपड़ों को फोल्ड करने की बजाय रोल करके रखिए. यह जल्दी होता है और ज़्यादा स्पेस भी नहीं लेता.प अगर आप बहुत ज़्यादा कपड़े कैरी नहीं करना चाहतीं, साथ ही कपड़े रिपीट भी नहीं करना चाहतीं, तो प्रत्येक बॉटम वेयर के साथ दो टॉप्स पहनने के हिसाब से पैकिंग कीजिए.

2. गंदे शूज़ को पेपर में लपेटने की बजाय शावर कैप या शू बैग में डालकर रखें.प अगर आप रोलिंग लगेज कैरी कर रही हैं, तो सबसे भारी चीज़ सबसे नीचे यानी व्हील्स की ओर रखिए. इससे वेट डिस्ट्रिब्यूशन बराबर रहेगा और सामान इधर-उधर नहीं होगा.
3. ब्रश, टूथपेस्ट, मेकअप आइटम्स इत्यादि पारदर्शी पाउच में पैक कीजिए. इससे किसी तरह की लीकेज़ होने पर वो पूरे सूटकेस में फैलेगा नहीं, साथ ही आप सभी चीज़ें देख भी सकेंगी.
4. ईयरफोन, चार्जर व अन्य वायरवाली चीज़ों को उलझने से बचाने के लिए उन्हें रोल करके चश्मे के केस में रखें. इसे खोलना व बंद करना भी आसान होता है.
5.  परफ्यूम बॉटल जैसी टूटनेवाली चीज़ें मोज़े में रखें. इससे उनके टकराकर टूटने-स्क्रैच पड़ने का डर नहीं रहता.
6. यदि आप अपने साथ बूट्स, स्नीकर्स इत्यादि ले जा रही हैं, तो उन्हें पैक करने की बजाय पहनकर जाएं. इससे जगह की भी बचत होगी और सामान भारी भी नहीं होगा.प कभी भी एक जगह कैश रखने की ग़लती न करें. कैश को सॉक्स, बैग व टॉयलेटरीज़ केस इत्यादि में अलग-अलग जगहों पर रखें.
7. यात्रा पर जाते समय अपने पर्स में एक अच्छा मॉइश्‍चराइज़र व लिप बाम अवश्य कैरी करें. ये प्लेन या ट्रेन की ठंडी हवाओं से आपकी त्वचा को सुरक्षित रखेगा.
8. यात्रा के दौरान अचानक किसी तरह की बीमारी, जैसे- फूड पॉइज़निंग, सिरदर्द, पेटदर्द, जेट लैग, कब्ज़ियत इत्यादि हो सकती है. ऐसी स्थिति से निपटने के लिए बैग में सामान्यतौर पर इस्तेमाल आनेवाली दवाइयां कैरी करें.
9. एक नोटबुक में पैकिंग के सामानों की सूची बनाकर उसे लगेज में रखें. लंबी ट्रिप के लिए अलग व एक-दो दिन के ट्रिप के लिए अलग सूची तैयार करें.
10. अगर आप किसी होटल में पहली बार ठहर रहे हैं, तो ट्रैवल साइट्स के माध्यम से बुक करने की बजाय होटल में डायरेक्ट फोन करके रेट्स चेक करें और अपने बजट के हिसाब से उनसे बातचीत करें. थोड़ा स्मार्टली बात करके आप अच्छी डील प्राप्त कर सकते हैं. यह आइडिया छोटे व मध्यम श्रेणी के होटल्स के लिए बहुत कारगर होता है.

ये भी पढ़ेंः 5 देश, जहां आप बिना वीज़ा यात्रा कर सकते हैं 

Shilpi Sharma :
© Merisaheli