आलिंगन के 12 हेल्थ बेनेफिट्स (12 Amazing health benefits of hug)

जादू की झप्पी यानि आलिंगन (Amazing health benefits of hug) प्यार के इज़हार का एक तरीका तो है ही, इसके कई हेल्थ बेनेफिट्स भी हैं. इससे दिल की धड़कनें नियंत्रित रहती हैं, जिससे ऑक्सीटोसिन के साथ-साथ मेटाबोलिज़्म भी बेहतर होता है. आलिंगन के बाद बहुत अच्छी नींद आती है. वैज्ञानिक दावा करते हैं कि नियमित आलिंगन से उम्र बढ़ती है. इतना ही नहीं, आलिंगन मानसिक स्वास्थ्य सही रखता है. अगर कोई उदास हैं और उसका कोई साथी आकर उसे हग कर ले तो अच्छा लगता है और उदासी दूर हो जाती है.

1. सोच सकारात्मक करे

आलिंगन से हर किसी की सोच सकारात्मक हो जाती है, क्योंकि इससे दिमाग़ में सकारात्मक प्रतिक्रिया होती है. इस आधार पर कह सकते हैं कि आलिंगन इंसान की ज़िंदगी को सकारात्मकता बना देती है. नियमित आलिंगन करने वाले के स्वभाव से नकारात्मकता दूर हो जाती है.

2. बेचैनी होती है दूर

ख़ून में ऑक्सीटोसिन नाम के हार्मोन का जितना ज़्यादा रिसाव होगा, कोई भी व्यक्ति उतना ही ज़्यादा हेल्दी होगा. यह
हार्मोन इंसान की बेचैनी को भी ख़त्म करता है. यानी आप अगर बेचैनी महसूस कर रहे हैं तो अपने प्रिय को गले लगा लीजिए. आपकी बेचैनी ख़त्म हो जाएगी.

3. दिल के लिए अच्छा

किसी व्यक्ति को आलिंगन में लेने से ज़्यादातर ठंड के समय में आपका शरीर गर्म रहता है. आलिंगन में लेने से एक पल के लिए दिल धड़कना बंद करता है जो फ़ायदा पहुंचाता है, क्योंकि इससे दिल के टिश्यूज़ मज़बूत होते हैं.

4. मृत्यु का डर दूर हो जाता है

दो स्त्री-पुरुष के बीच नियमित आलिंगन और स्पर्श कई बार उनमें मौत के डर को कम करता है. रिसर्च से पता चलता है कि किसी बहुत क़रीबी व्यक्ति का आलिंगन करने से व्यक्ति को अपने अस्तित्व संबंधी डर से मुक्ति मिल जाती है.

5. ब्लडप्रेशर करे कंट्रोल

दो स्त्री-पुरुष के बाच आलिंगन से दोनों का हाई ब्लडप्रेशर भी नियंत्रित रहता है. जो लोग हाई ब्लडप्रेशर से परेशान हैं, उन्हें इस थेरेपी की मदद लेनी चाहिए. दरअसल, आलिंगन से शरीर का ऑक्सीटोसिन ख़ून में जाने लगता है और हाई ब्लडप्रेशर नियंत्रित हो जाता है.

यह भी पढ़ें: 7 तरह के सेक्सुअल पार्टनरः जानें आप कैसे पार्टनर हैं

6. दूर करे थकावट

अगर आप बहुत ज़्यादा थके हुए हैं तो आपके लिए भी आलिंगन बहुत ज़रूरी है आलिंगन में यह माद्दा है कि यह चुटकी में थकान को दूर भगाता है. आलिंगन से दिमाग शांत होता है. आपका ध्यान उस चीज़ से हटता है जिसे लेकर आप परेशान हैं.

7. एनर्जी बूस्ट करता है

अगर आप अकेलेपन और आलस्य के शिकार हैं तो आलिंगन आपके लिए फ़ायदेमंद हो सकता है. ख़ून में बढ़ी ऑक्सीटोसिन की मात्रा मोराल बुस्टअप करती है. इसीलिए आलिंगन के बाद लोग तरोताज़ा महसूस करने लगते हैं और अकेलेपन का एहसास भी दूर हो जाता है.

8. स्ट्रेस बस्टर भी है

जब कोई अपने बहुत क़रीबी साथी को गले लगाता है, तो उसके अंदर का सारा तनाव पलक झपकते दूर हो जाता है. यह ख़ून में बढ़ते ऑक्सीटोसिन का कमाल है. इसलिए कई विशेषज्ञ तनावग्रस्त लोगों को अपने प्रियतम से आलिंगन की सलाह देते है.

9. दिल के लिए लाभप्रद

अपने किसी ख़ास का नियमित रूप से आलिंगन से दिल की धड़कन नियंत्रित रहती है, जो ऑक्सीटोसिन और मेटाबॉलिज़्म का निर्माण करता है. दिल के मरीज़ों को अपने जीवन साथी या प्रेमी-प्रेमिका को नियमित रूप से हग करना चाहिए.

10. अनिद्रा का दुश्मन

आलिंगन को अनिद्रा का दुश्मन माना जाता है. जिन्हें रात में नींद न आती हो या कम नींद आती हो उन्हें अपने प्रिय से प्यार की झप्पी लेनी चाहिए. इससे उन्हें ख़ूब नींद आएगी. विशेषज्ञ कहते हैं कि आलिंगन के बाद बहुत अच्छी नींद आती है. जो लोग ख़ूब हग करते हैं, वे जमकर सोते हैं.

11. बेहतर होती है मेमोरी पावर

रिसर्च में यह भी पता चला है कि नियमित रूप से आलिंगन सुख लेने वाले स्त्री-पुरुष की स्मरणशक्ति बहुत लंबे समय तक दुरुस्त रहती है. विशेषज्ञ कहते हैं कि आलिंगन न करने वालों की तुमना मैं नियमित आलिंगन करने वाले स्त्री-पुरुष की स्मरण शक्ति भी बेहतर होती है.

12. लंबी उम्र में फायदेमंद

ऑक्सीटोसिन के रिसाव से शारीरिक दमखम बढ़ता है. इसीलिए नियमित रूप से आलिंगन करने और हमेशा ख़ुश रहने वाले लंबी उम्र जीते हैं. दरअसल, अगर कोई प्रिय आकर अचानक ज़ोर से हग कर ले तो बहुत अच्छा लगता है, इसका सकारात्मक और दूरगामी असर उम्र पर पड़ता है.

यह भी पढ़ेंसेफ सेक्स के 20 + असरदार ट्रिक्स

 

Meri Saheli Team :
© Merisaheli