ब्रेस्ट कैंसर से छुटकारा पाने के 5 घरेलू उपाय (5 Best Home Remedies That Prevent Breast Cancer)

ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) की चपेट में आजकल कम उम्र की महिलाएं भी आ रही हैं. ब्रेस्ट कैंसर की सबसे बड़ी वजह है बदलती लाइफ स्टाइल. घरेलू उपचार से ब्रेस्ट कैंसर जैसी ख़तरनाक बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है. ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) से बचाव के लिए आप भी ये घरेलू नुस्ख़े जरूर आज़माएं.

स्तन कैंसर (Breast Cancer) के कारण
बासी खाना, ज़्यादा मांस, मछली, अंडे खाने और बीड़ी-सिगरेट पीने के कारण यह रोग पैदा होता है. शरीर के विपरीत कोशिश करने, टेढ़ी शैया पर सोने से भी स्तन कैंसर हो जाता है. दुग्ध वाहिनी में अवरोध हो जाने व चोट लगने से भी इस रोग के होने की संभावना रहती है.

स्तन कैंसर (Breast Cancer) के लक्षण
स्तन कैंसर में कभी-कभी असहनीय दर्द होता है और कभी-कभी तो दर्द बिल्कुल नहीं होता. कभी-कभी स्पर्श करने से ही दर्द होता है. स्तन फूला हुआ (बड़ी गांठ के समान फूला हुआ), गरम गोल अथवा चपटा, कड़ा और दर्दयुक्त होता है. इससे तेज़ बेचैनी और सुस्ती रहती है. स्तन कैंसर की प्रारंभिक अवस्था में निम्न नुस्ख़े लाभकारी सिद्ध हो सकते हैं.

यह भी पढ़ें: आयुर्वेदिक होम रेमेडीज़ ऐप- मेरी सहेली

 

स्तन कैंसर (Breast Cancer) की समस्या से छुटकारा पाने के 5 आसान घरेलू उपाय जानने के लिए देखें वीडियो:

ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्ख़े:
* हर रोज़ अंगूर या अनार का जूस पीने से कैंसर से बचाव होता है.
* प्रतिदिन लहसुन का सेवन करने से स्तन कैंसर की संभावनाओं को रोका जा सकता है.
* नमक, सोंठ, शमी, मूली, सरसों और सहिजन के बीज सममात्रा में लेकर खट्टे छाछ में पीसकर स्तनों पर लेप करें. एक घंटे के बाद नमक की पोटली से 10-15 मिनट तक सेंक करें.
* पोई के पत्तों को पीसकर पिण्ड बनाकर लेप करने तथा पत्तों द्वारा अच्छी तरह ढंककर पट्टी बांधने से शुरुआती अवस्था का स्तन कैंसर अच्छा हो जाता है.
* एक ग्लास पानी में हर्बल ग्रीन टी को आधा होने तक उबालें और फिर पीएं.

यह भी पढ़ें: 10 बीमारियों के लिए रामबाण रस

 

ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) होने पर इन चीज़ों से परहेज़ करें:
* जिस स्त्री को स्तन कैंसर हुआ हो, उसे ज़्यादा हाथ हिलाने-डुलाने वाले काम नहीं करने चाहिए.
* आहार में दूध, पनीर, फल एवं इनके रस, दूध, मूंगफली, गेहूं का दलिया, हरी सब्ज़ी आदि का सेवन करना चाहिए.
* रोगी को चाय, कॉफी, सिगरेट, शराब का सेवन बंद कर देना चाहिए.
* उड़द, सेम, मसूर, अंडे, मांस आदि के सेवन से बचना चाहिए.

 

Kamla Badoni :
© Merisaheli