महिला उद्यमियों के लिए बेस्ट 7 लोन सुविधाएं (7 best loan schemes for woman Entrepreneurs)


बिज़नेस के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने व उनकी आर्थिक स्थिति को मज़बूत बनाने के लिए ज़्यादातर बैंक समय-समय पर आकर्षक योजनाएं लॉन्च करते ही रहते हैं. ऐसी ही कुछ बेहतरीन योजनाओं के बारे में हम विस्तार से बता रहे हैं:


अन्नपूर्णा योजना

इस योजना के तहत फूड केटरिंग क्षेत्र से जुड़ी महिलाओं को लोन दिया जाता है. इसमें अधिकतम 50 हज़ार तक का लोन मिलता है, जिसकी समयावधि तीन साल है. ग्राहकों की सहूलियत के लिए बैंक लोन देने के बाद एक महीना ङ्गईएमआई फ्रीफ की सुविधा देते हैं. इसमें आपको गारंटर और कोलैटरल सिक्योरिटी की ज़रूरत पड़ती है. ब्याज दर मार्केट रेट के अनुसार होगी.

स्त्री शक्ति पैकेज

यह पैकेज उन महिलाओं के लिए है, जो किसी फर्म या बिज़नेस में 50% मालिकाना हक़ रखती हैं. अगर आप 2 लाख से अधिक लोन लेती हैं, तो मौजूदा ब्याज दर में आपको 0.5% की छूट दी जाती है. राज्य स्तर की एंटरप्रेनरशिप डेवलपमेंट प्रोग्राम्स में हिस्सा लेनेवाली महिलाएं ही आवेदन कर सकती हैं.

देना शक्ति योजना:

देना बैंक की यह योजना ख़ासतौर से महिला उद्यमियों के लिए है. इस योजना के तहत महिलाएं खेती, उत्पादन, रिटेल स्टोर व लघु उद्योग के लिए लोन ले सकती हैं. इसमें उन्हें 0.25% ब्याज दर में छूट मिलती है.

और भी पढ़ें: नए बिज़नेस के लिए स्टार्ट अप प्लान

उद्योगिनी योजना

पंजाब और सिंध बैंक की यह योजना है. इसके तहत महिलाओं को लोन कम ब्याज दर में मिलता है और नियम-शर्तों में भी काफ़ी छूट मिलती है.

सेंट कल्याणी योजना

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की यह योजना है. इसके तहत सरकार द्वारा जारी कार्यक्रमों, ग्रामीण इलाकों में कुटीर उद्योग, कृषि उद्योग, हैंडलूम-हैंडीक्राफ्ट, ब्यूटीपार्लर, डे केयर सेंटर, रिटेल व्यवसाय से जुड़ी महिलाओं को आसानी से लोन मिलता है. हर क्षेत्र का ब्याज दर अलग है और मार्केट रेट पर निर्धारित होता है.

महिला उद्यम निधि योजना

लघु उद्योग को बढ़ावा देनेवाला यह लोन पंजाब नेशनल बैंक द्वारा दिया जाता है. इसके तहत आपको 10 लाख तक का लोन मिल सकता है, जिसे 10 साल के भीतर भरना होता है. ज़्यादातर योजनाओं की तरह इसका ब्याज दर भी मार्केट रेट पर आधारित होता है, जो समय-समय पर बदलता रहता है. ब्यूटीपार्लर, डे केयर सेंटर, ऑटोरिक्शा, टू व्हीलर या कार के लिए स्पेशल लोन की सुविधाएं हैं.
– इनके अलावा बैंक ऑफ बड़ौदा की अक्षय महिला आर्थिक सहाय योजना और पंजाब नेशनल बैंक की महिला समृद्धि योजना, महिला उद्यम निधि योजना, महिला सशक्तिकरण योजना और ओरिएंटल बैंक व भारतीय महिला बैंक द्वारा जारी लोन योजनाएं हैं.

लघु उद्यमी क्रेडिट कार्ड

व्यापारियों को लुभाने के लिए बैंक कुछ न कुछ नया लेकर आते ही रहते हैं. इसी कड़ी में कई बैंक लघु उद्यमी क्रेडिट कार्ड लेकर आए हैं. इसकी मदद ने बिज़नेस की शुरुआत को और भी आसान बना दिया है. कई बैंक ये सुविधा देते हैं, सभी के बारे में जानकारी लेकर आप अपनी सहूलियत के मुताबिक़ क्रेडिट कार्ड ले सकते हैं.

और भी पढ़ें: कैसे करें यंगस्टर्स फाइनेंशियल प्लानिंग की शुरूआत?

सुनीता सिंह

Poonam Sharma :
© Merisaheli