जानिए डकार आने की 9 वजहें और उससे बचने के उपाय ( 9 Reasons Of Burping And Easy Remedies To Get Rid Of It)

आपने भी कई लोगों को खाना खाने के बाद डकार  (Reasons Of Burping) लेते हुए देखा ही होगा. आमतौर पर धारणा यह है कि खाना खाते समय जब पेट भर जाता है तब डकार आती है और इसे पाचन क्रिया से जोड़कर देखा जाता है, लेकिन बिना किसी ख़ास वजह के अगर बार-बार डकार आती है तो यह चिंता का विषय है.

क्या है डकार ? 

मुंह के रास्ते हवा को बाहर निकालने की प्रक्रिया को डकार(Reasons Of Burping) कहते हैं. हालांकि यह प्रक्रिया बेहद सामान्य होती है, लेकिन कभी-कभी यह समस्या बढ़ जाती है. डकार तब आती है, जब पेट में अतिरिक्त गैस होती है और वह मुंह के रास्ते बाहर निकलती है.

कारण
डकार ((Reasons Of Burping)) बेहद सामान्य-सी प्रक्रिया है, लेकिन अगर बिना किसी वजह के यह बार-बार आने लगे तो इसके पीछे निम्न कारण हो सकते हैं.
खान-पान- खाने-पीने का ग़लत तरीक़ा इसका कारण बन सकता है. तली-भुनी चीज़ें, कोल्ड ड्रिंक, मांस, मछली, फूलगोभी, बीन्स, ब्रोकोली, मटर जैसी चीज़ें पेट में गैस पैदा करती हैं, इसलिए इन चीज़ों को रात में खाने से बचें.
जल्दबाज़ी में खाना- कई लोगों को जल्दी-जल्दी खाने की आदत होती है तो कई लोग खाते समय बात करते हैं, जिसके कारण उनके डायजेशन पर असर पड़ता है और बार-बार डकार आने लगती है.कब्ज़- अगर आपको लंबे समय से कब्ज़ की समस्या है तो आपको बार-बार डकार आ सकती है. इसलिए डकार से निजात पाने से पहले आपको कब्ज़ की समस्या से निपटने की ज़रूरत है.
अपच- खाने के बाद जब भोजन ठीक तरह से नहीं पच पाता है तो अपच की समस्या हो जाती है. अपच बार-बार डकार आने का एक प्रमुख कारण है.
एरोफेजिया- इसकी वजह से भी डकार ज़्यादा आती है. इसके कई कारण हैं, जैसे- एक ही सांस में ज़्यादा खाने की आदत, खाते व़क्त जम्हाई लेना इत्यादि. ऐसा करने से पेट में हवा चली जाती है, जिससे बार-बार डकार आने लगती है.
आंत में इंफेक्शन- पेट या आंत में बैक्टीरियल इंफेक्शन भी इसकी वजह बन सकता है. लेक्टोज इनटॉलरेंस, इरिटेबल बाउल सिंड्रोम, अल्सर जैसी पेट की बीमारियों के कारण गैस बनती है और डकार आती है.
स्ट्रेस व टेंशन– अत्यधिक स्ट्रेस और टेंशन के कारण कुछ लोग ओवरईटिंग करते हैं, जिससे डायजेशन की प्रक्रिया धीमी हो जाती है और बार-बार डकार आने लगती है.
खाली पेट- ज़्यादा देर तक भूखे रहने या उपवास करने की वजह से पेट की खाली जगह में हवा भर जाती है. यह हवा डकार के ज़रिए बाहर निकलती है इसलिए बार-बार डकार आती है.
स्मोकिंग- जो लोग स्मोकिंग करते हैं उनके पेट में सिगरेट के धुंए के साथ ढेर सारी हवा चली जाती है. पेट में भरी ये हवा डकार के ज़रिए बाहर निकलती है.
बचाव के टिप्स
.  भोजन आराम से और चबा-चबाकर खाएं.
. खाने के दौरान ज़्यादा बात करने से बचें.
. तेल-मसाले वाले आहार कम से कम खाएं.
. प्रोबायोटिक खाद्य पदार्थों का सेवन करें.
. खान-पान का स्वच्छ और स्वस्थ तरीक़ा अपनाएं.

ये भी पढ़ेंः महीनेभर पहले दिखने लगते हैं हार्ट अटैक के ये लक्षण

अपनी पाचन क्षमता ऐसे बनाएं बेहतर, देखें वीडियो:

 

Shilpi Sharma :
© Merisaheli