Movie Review: कॉमेडी में भी इरफान खान निकले लाजवाब, मज़ेदार फिल्म है ब्लैकमेल ! (Actor Irrfan Khan’s Blackmail Movie review)

एक्टर इरफान खान (Irrfan Khan) बॉलीवुड के चंद ऐसे सितारों में से एक हैं, जो हर बार अपने किरदार में नयापन लाकर दर्शकों के दिलों को जीतने का हुनर रखते हैं. एक  सीरियस एक्टर के तौर पर अपनी पहचान बनानेवाले इरफान कॉमेडी और रोमांटिक किरदार को भी बड़ी शिद्दत से निभाते हैं. बता दें कि इरफान खान की फिल्म ‘ब्लैकमेल’ सिनेमा घरों में रिलीज़ हो चुकी है. आखिर कैसी है यह फिल्म, चलिए जानते हैं.

फिल्म- ब्‍लैकमेल
डायरेक्‍टर- अभि‍नय देव 

मुख्य कलाकार- इरफान खान, कीर्त‍ि कुल्‍हारी, अरुणोदय सिंह और दिव्या दत्ता.

रेटिंग- 4/5

दिलचस्प है ब्लैकमेल की कहानी

फिल्म ‘ब्लैकमेल’ की कहानी देव (इरफान खान) नाम के एक ऐसे शख्स की है, जो टॉयलेट पेपर बेचने का काम करता है. एक दिन वो अपनी पत्नी (कीर्ति कुल्हारी) को सरप्राइज़ देने के लिए फूलों का गुलदस्ता लेकर घर जल्दी पहुंचता है, लेकिन अपनी पत्नी को रंजीत (अरुणोदय सिंह) नाम के एक गैर मर्द के साथ बिस्तर पर देखकर ख़ुद सरप्राइज़ हो जाता है. 

जब देव को अपनी पत्नी के एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर के बारे में पता चलता है तो वो उसके लवर रंजीत को ब्लैकमेल करता है और पैसे मांगता है. जब देव के इस ब्लैकमेलिंग के खेल के बारे में दूसरों को पता चलता है तो फिर वो लोग भी देव यानी इरफान को ब्लैकमेल करना शुरू कर देते हैं. इस दौरान फिल्म में कई दिलचस्प मोड़ भी आते हैं, जो दर्शकों को खूब हंसाते और उनका मनोरंजन करते हैं.

कलाकारों ने किया बेहतरीन अभिनय

ब्लैकमेल की कहानी जितनी दिलचस्प है, कलाकारों की एक्टिंग भी उतनी ही शानदार की है. इरफान ने एक कॉमन ऑफिस मैन के रूप में शानदार परफॉर्मेंस दी है. जब इरफान अपनी पत्नी के लवर को ब्लैकमेल करने की प्लानिंग करते हैं तो एक लाचार पति जैसे नज़र भी आते हैं. इरफान की लाचारी को देखकर अपने आप आपके चेहरे पर मुस्कान आ जाएगी. अरुणोदय सिंह ने अपने किरदार को प्रभावी तरीके से निभाया है. इसमें दिव्या दत्ता और कीर्ति कुल्हारी ने भी अपने-अपने किरदारों के साथ पूरा न्याय किया है.

डायरेक्शन है फूल पैसा वसूल

इस फिल्म का डायरेक्शन फूल पैसा वसूल है. इसके डायरेक्टर अभिनव देव ने यह साबित कर दिया है कि वो ब्लैक कॉमेडी के मास्टर बन चुके हैं. अपनी फिल्म ‘डेल्ही बैली’ के बाद अभिनव ने इस फिल्म में भी ब्लैक कॉमेडी का प्रयोग किया है, जिसमें वो काफ़ी हद तक सफल भी रहे हैं.

हालांकि फिल्म का फर्स्ट हाफ थोड़ा धीमा है, लेकिन जैसे-जैसे फिल्म के किरदार सामने आते हैं, फिल्म मज़ेदार होती जाती है. ब्लैकमेल का प्‍लॉट इसका हीरो है और यह डार्क और फनी के बीच के बैलेंस को अच्‍छे तरीक़े से मैनेज करता है. यहां यह कहना गलत नहीं होगा कि लंबे समय बाद एक ऐसी मज़ेदार फिल्म आई है जिसका ह्यूमर और प्रेजेंटेशन दोनों ही बेहतरीन है.

यह भी पढ़ें: जेल में दिखा सलमान का दबंग अंदाज़, नहीं खाया जेल का खाना !

 

 

Anita Ram :
© Merisaheli