जब हो जाएं जॉबलेस (Are You jobless?)

ओह नो! सुबह उठते ही जब रोज़ाना की तरह रवि ने अपने मोबाइल में ऑफिस का डे-प्लान देखना चाहा, तो मैसेज बॉक्स में अपनी नौकरी जाने का मैसेज पढ़कर उसके होश उड़ गए. उसे समझ नहीं आ रहा था कि सब कुछ इतने अचानक कैसे हो गया? कल तक तो ऑफिस में सब ठीक-ठाक था. इस तरह की घटनाएं आज आम हो गई हैं. आज जितनी आसानी से नौकरियां मिलती हैं, उतनी ही आसानी से छूट भी जाती हैं. अगर आप भी रवि की तरह अपनी नौकरी छूटने पर परेशान हैं, तो जानिए इस परेशानी को कम करने के कुछ आसान उपाय?

निराश न हों
करियर काउंसलर फ़रज़ाद दमानिया कहते हैं कि अचानक जॉबलेस होने पर लोग बौखला जाते हैं. उन्हें लगता है कि उनका सब कुछ लुट गया. घर का लोन, बच्चों की फीस, बाकी इनवेस्टमेंट्स आदि के लिए अब पैसे कहां से आएंगे? इन बातों को सोचकर लोग निराश रहने लगते हैं और कई बार तो डिप्रेशन में भी चले जाते हैं. आपके साथ यदि ऐसा हो, तो इस समस्या को ख़ुद पर हावी न होने दें और नई जॉब के लिए प्रयासरत रहें.

बेरोज़गारी भत्ते के लिए अप्लाई करें
प्राइवेट जॉब आज है कल नहीं रहेगी, इस बात को अपने दिमाग़ में बिठा लें. अचानक नौकरी चली जाने के बाद परेशान होने की बजाय सरकारी भत्ते के लिए अप्लाई करें. इससे आपको थोड़ी-बहुत मदद मिल सकेगी.

अपने ड्यूज़ (बकाया) क्लियर करें
माना आपकी जॉब छूट गई और आप बहुत परेशान हैं, लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि आप अपने सारे ड्यूज़ कंपनी में ही छोड़ दें. जॉब जाने के बाद सबसे पहले उस कंपनी में जाएं और एचआर से सभी औपचारिकता पूरी करके पीएफ, मेडिक्लेम, लीव इनकैशमेंट आदि का सेटलमेंट करें. ये पैसे आपके बहुत काम आएंगे.

मनोविशेषज्ञ की मदद लें
नौकरी छूटने के बाद यदि आप लगातार तनाव में रहते हैं, तो इसे हल्के में न लें. तुरंत किसी मनोविशेषज्ञ के पास जाएं और उनसे अपनी स्थिति को सही-सही बयां करें. जितनी जल्दी हो सके, तनाव की स्थिति से बाहर निकलें और नए सिरे से ज़िंदगी जीने की कोशिश करें.

रिलैक्स रहें
अचानक नौकरी छूटने पर घबराने की बजाय रिलैक्स रहें. चाहें तो इस दौरान अपने शौक पूरे करें, जैसे- डांस, स्विमिंग, सिंगिंग आदि. इसके लिए आप क्लासेस भी ज्वॉइन कर सकते हैं. इस तरह धीरे-धीरे आप नौकरी छूटने के ट्रॉमा से बाहर आ जाएंगे.

लोगों से संपर्क करें
एक नौकरी छूटने के बाद चुप होकर हाथ पर हाथ रखकर बैठने की बजाय अपने आसपास के लोगों, दोस्तों और रिश्तेदारों से अपनी जॉब के बारे में बात करें. हो सके तो सभी को अपना बायोडाटा देकर रखें. आप क्या काम कर सकते हैं और कितनी तनख़्वाह चाहते हैं? ये भी बताकर रखें.

मानसिक रूप से मज़बूत बनें
अचानक जॉब छूटने पर मानसिक रूप से मज़बूत होना बहुत ज़रूरी है. अपने आप पर ये विश्‍वास रखें कि आज नहीं तो कल जॉब तो मिलनी ही है, फिर बेकार की चिंता करने से क्या फ़ायदा?

करियर काउंसलर की सहायता लें
अगर जॉब छूटने के बाद कुछ नया ट्राई करना चाहते हैं और समझ नहीं पा रहे हैं, तो बेहतर होगा कि आप किसी करियर काउंसलर से संपर्क करें. तुरंत जॉब तलाशने की बजाय कुछ दिन घर बैठकर इत्मिनान से सोचें और फिर आगे बढ़ें.

डेली ख़र्चे में कटौती
अचानक जॉब छूटने पर सबसे बड़ी परेशानी पैसों की होती है. हर महीने सैलरी के भरोसे ख़र्चे बढ़ा लेने पर अचानक उसमें कटौती करना भारी पड़ता है या यूं कहें बहुत मुश्किल हो जाता है. नौकरी छूटने पर कुछ महीनों तक आपके घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं रहेगी. ऐसे में किसी एक चीज़ पर रोक लगाने से अच्छा है कि आप अपने हर ख़र्च में कटौती करें, जैसे- यदि सप्ताह के आख़िरी दिन फैमिली के साथ मूवी जाते थे, तो अब न जाएं, महीने में एक दिन शहर से बाहर दूर कहीं जाने का प्लान भी न बनाएं, शॉपिंग आदि पर रोक लगाएं. हर फिज़ूलख़र्च पर फुल स्टॉप लगाएं.

पार्ट टाइम जॉब करें
अचानक जॉब छूटने पर हो सकता है आपको महीनों जॉबलेस रहना पड़े. ऐसे में रोज़ के घरेलू ख़र्च में कमी तो नहीं की जा सकती, इसलिए जितनी जल्दी हो सके पार्ट टाइम जॉब ज्वाइन करें. इससे आपकी इनकम भी होती रहेगी और आप मार्केट में बने भी रहेंगे.

पसंदीदा कोर्स करें
नौकरी छूटने पर आप कुछ समय के लिए ब्रेक लेकर किसी कोर्स के बारे में भी सोच सकते हैं. सालों से दबी अपनी इच्छा को अब आप पूरा कर सकते हैं. उदाहरण के लिए, यदि आप मैनेजमेंट की पढ़ाई करना चाहते थे, लेकिन किसी कारणवश नहीं कर पाए, तो अब कर सकते हैं. इस तरह आप नए सिरे से नौकरी की शुरुआत करके जीवन को नया आयाम दे सकते हैं.

इन चीज़ों से बचें:

  • बेकार घूमने से बचें.
  • परिवार को इसके लिए दोष न दें.
  • बुरी आदतों (शराब, सिगरेट आदि) से बचें.
  • नौकरी छोड़ने के बाद कभी भी उस कंपनी की बुराई न करें.
  • नौकरी छूटने पर डिप्रेशन में आने से बचें.

नई जॉब के लिए क्या करें?

  • बायोडाटा अपडेट करें.
  • जॉब छूटने पर दुखी होकर घर में बैठने की बजाय दोस्तों, रिश्तेदारों और अपने पुराने सहकर्मियों से नई जॉब के बारे में बात करें.
  • जॉब दिलाने वाले प्रोफेशनल्स जैसे- एचआर व कंसलटेंट से बात करें.
  • जॉब को लेकर अगर कनफ्यूज़ हैं, तो करियर काउंसलर से बात करें.
  • अचानक जॉब चली जाने पर घबराहट में आकर किसी भी कंपनी में तुरंत ज्वाइन न करें.
  • नई जॉब ज्वाइन करने से पहले सैलरी को लेकर फ्लैक्सिबल रहें. मन में सैलरी का पैमाना तय न करें.
  • नई नौकरी मिलने तक मन में संतोष रखें.
  • आत्मविश्‍वास में कमी न आने दें.
  • जॉब के प्रति हमेशा सकारात्मक नज़रिया रखें.
  • जॉब पोर्टल जैसे- नौकरी डॉट कॉम, मॉन्सटर इंडिया, टाइम्स जॉब आदि पर अपना अपडेटेड बायोडाटा पोस्ट करें.

– श्वेता सिंह

Meri Saheli Team :
© Merisaheli