ब्यूटी बेसिक्स

हसीं हो तुम, हो मेरे लिए ख़ुदा भी तुम… मुहब्बत की ज़मीं भी तुम, ख़्वाबों का आसमान भी तुम… तुम ही मेरा सुकुन, तुम ही मेरा जुनून… नाज़ो-अंदाज़ के तुम्हारे क्या कहना… गुले-गुलज़ार हो या दिल का नगीना… बहुत ख़ूब लगते हैं ये जलवे तुम्हारे… पूछते हैं सभी कि कहां से आई है ये कमसिन हसीना…

 

 

 

ख़ूबसूरती का क़ायल तो हर दिल होता है, ऐसे में अगर कुछ छोटी-छोटी बातों और बेसिक चीज़ों का ख़्याल रखा जाए, तो आपके लिए भी ख़ूबसूरत बने रहना मुश्किल नहीं होगा. तो देर किस बात की, इन ब्यूटी बेसिक्स को समझिए और अपने ब्यूटी रूटीन में शामिल कर लीजिए.

बिना रिमूवर के नेलपेंट रिमूव कैसे करें: अगर नेल पेंट रिमूवर ख़त्म हो गया और आपको नेलपेंट रिमूव करनी है, तो सबसे आसान तरीक़ा है कि एक कोट नेलपेंट लगाकर फ़ौरन कॉटन से रिमूव करें. इससे पुरानी नेल पॉलिश भी निकल जाएगी.

सप्लीमेंट्स लेना बंद करें: अच्छी स्किन और बालों की चाह में अक्सर लोग सप्लीमेंट्स का सहारा लेते हैं, लेकिन बिना डॉक्टरी सलाह के यह ख़तरनाक हो सकता है. कुछ तरह के विटामिन्स और मिनरल्स को मिक्स करने पर उनका विपरीत प्रभाव भी पड़ सकता है.

बहुत ज़्यादा रोज़ी चीक्स से बचें: गालों पर बिखरी गुलाबी आभा ख़ूबसूरती को और बढ़ा देगी, लेकिन अगर यह बहुत ज़्यादा हो जाए, तो आर्टिफिशियल लुक मिलेगा. ब्लश हमेशा ही सोच-समझकर लगाएं. दो उंगलियों जितनी चौड़ाई रखें, नाक से दूर और स़िर्फ गालों के उभार पर ही अप्लाई करें. इससे नेचुरल लुक मिलेगा.

ऑयली स्किन से छुटकारा पाएं: चेहरे पर ऑयल आ जाने पर ब्लॉटिंग पेपर का इस्तेमाल करें. इससे सारा एक्सट्रा ऑयल तो वो सोख ही लेगा, साथ ही ऑयल सेक्रिशन को भी कम करेगा.

शेविंग करने का सही तरीक़ा अपनाएं: जब भी अनचाहे बालों से छुटकारा पाने के लिए शेव करना हो, तो कुछ देर तक गुनगुने पानी से स्किन को वॉश करें. इससे फॉलिकल्स खुल जाते हैं और शेव अच्छी व आसान होती है. इसके अलावा शेविंग के बाद होनेवाली जलन व लालिमा भी नहीं होती.

हेयर लिफ्ट के लिए: ब्लो ड्राय करने से पहले बालों की जड़ों में वॉल्युमाइज़िंग स्प्रे लगाएं.

अपना शेड पहचानें: जब भी फाउंडेशन सिलेक्ट करना हो, तो उसे जॉ लाइन के पास की स्किन पर ही अप्लाई करके देखें और वो भी नेचुरल लाइट में. आपके चेहरे की स्किन टोन आपकी गर्दन की नेचुरल स्किन टोन से बहुत ज़्यादा अलग नहीं होनी चाहिए.

रोज़ाना एक्सफॉलिएट करें: इससे डेड स्किन निकल जाती है और फ्रेशनेस आती है. आप रोज़ाना धूल-मिट्टी को सहते हैं, तो ऐसे में रोज़ाना एक्सफॉलिएट करना भी ज़रूरी है. लेकिन यह बहुत ही माइल्ड होना चाहिए. आजकल बहुत से माइल्ड स्क्रब या ऐसे फेश वॉश भी उपलब्ध हैं, जो एक्सफॉलिएट भी करते हैं. इन्हें यूज़ करें.

बालों के कर्ल्स को बाउंस दें: अगर आपके बालों में नेचुरल कर्ल्स हैं, तो उन्हें कभी भी हेयर ब्रश से ब्रश न करें. बेहतर होगा कि उंगलियों से ही सुलझाएं, इससे उन्हें बाउंस मिलेगा.

ब्यूटी लेबल्स के दावों पर न जाएं: अगर कोई प्रोडक्ट यह दावा करता है कि वो आपको इंस्टेंट ग्लो या गोरापन देगा या फिर पूरा दिन सन प्रोटेक्शन का दावा करता है, तो ज़रूरी नहीं कि सच में वो ऐसा करिश्मा कर दिखाएगा. इसलिए स्किन प्रोडक्ट्स में बहुत ज़्यादा एक्सपेरिमेंट न करके वही यूज़ करें, जो आपको सूट करता हो.

फुलर लिप्स क्रिएट करें: अगर आपके लिप्स पतले हैं और आप उन्हें फुल और सेक्सी दिखाना चाहती हैं, तो न्यूट्रल टोन की लिप लाइनर पेंसिल से लिप्स की नेचुरल लाइन से बाहर लाइन ड्रॉ करें. लिपस्टिक अप्लाई करें. यहां यह ध्यान रखें कि आउटलाइन नेचुरल लाइन बहुत ज़्यादा भी बाहर न हो. चाहें तो लिपग्लॉस अप्लाई करें या फिर ग्लास का एक डॉट सेंटर में लगाएं. यह सेक्सी लुक देगा.

अपने हेयरकलर को फेड होने से बचाएं: हेयरकलर जब फेड होने लगता है, तो वो बहुत भद्दा लगने लगता है. इससे बचने के लिए महीने में एक बार डीप कंडीशनिंग ट्रीटमेंट करवाएं. इससे कलर लॉक हो जाएगा और बाल भी ड्राई व डैमेज होने से बचेंगे.

फेक आईलैशेज़ पर भी मस्कारा लगाएं: इससे नकली आईलैशेज़ आपके नेचुरल लैशेज़ के साथ ब्लेंड होकर नेचुरल लुक देंगे और आंखें सुंदर नज़र आएंगी.

पेडिक्योर का ख़र्चा कम करें: अगर आप रोज़ाना अपने पैरों की नियमित देखभाल करेंगी, तो पार्लर में जाकर पेडिक्योर की ज़रूरत नहीं पड़ेगी. रोज़ाना नहाते समय एड़ियों को स्क्रब करें और नहाने के बाद पैरों पर मॉइश्‍चराइज़िंग क्रीम अप्लाई करें. इससे आपके पैर लंबे समय तक सुंदर बने रहेंगे और पेडिक्योर कम करना पड़ेगा.

आईशैडो प्राइमर का सही एप्लीकेशन: मेकअप को लॉक करने में प्राइमर भले ही मदद करता है, लेकिन जिन हिस्सों पर आप कलर या मेकअप अप्लाई नहीं करने जा रही हों और वहां प्राइमर का ज़्यादा इस्तेमाल करेंगी, तो पूरा ध्यान प्राइमर पर ही जाएगा और आपको अपना मनचाहा लुक नहीं मिलेगा. दरअसल मेकअप शेड्स के मुकाबले प्राइमर का टोन अधिक ब्राइट होता है.

सॉफ्ट स्किन के लिए: नहाने के फ़ौरन बाद या अगर कभी बीच व पूल पर भी गई हों, तब भी पानी से बाहर निकलते ही स्किन पर कोई मॉइश्‍चराइज़िंग क्रीम या लोशन ज़रूर लगाएं, क्योंकि पानी से स्किन के नेचुरल ऑयल धुल जाते हैं. ऐसे में नमी बरक़रार रखने और स्किन को ड्राई होने से बचाने केलिए क्रीम लगाना बेहद ज़रूरी है.

क्लैरिफाई शैंपू: हफ़्ते में एक बार क्लैरिफाइंग शैंपू का इस्तेमाल ज़रूर करें. इससे डैंड्रफ, केमिकल्स से जमा हुआ वेस्ट निकल जाएगा और बालों की शाइन वापस आएगी. स्काल्प को भी यह हेल्दी रखता है.

क्यूटिकल्स पर आई क्रीम अप्लाई करें: अलग से क्यूटिकल क्रीम ख़रीदने की बजाय ड्राई क्यूटिकल्स पर आई क्रीम लगाएं. यह उन्हें हाइड्रेट व मॉइश्‍चाइज़ करेगी.

ब्रॉन्ज़र का एप्लीकेशन सही रखें: अप्लाई करने से पहले दो-तीन बूंदें मॉइश्‍चराइज़िंग लोशन की मिक्स करके ब्लेंड करें और फिर ब्रॉन्ज़र को अप्लाई करें. इससे वो स्किन में अच्छी तरह से ब्लेंड हो जाएगा और स्किन को क्लीन लुक भी मिलेगा.

स्प्लिट एंड्स से छुटकारा: दोमुंहे बाल अक्सर पूरा लुक ख़राब कर देते हैं. इन्हें छिपाने का कारगर तरीक़ा है कि बालों को आयरन करने या ब्लो ड्राई से पहले भी और बाद में भी हैवी हेयर रिपेयर क्रीम लगाएं. इससे मॉइश्‍चर लॉक हो जाएगा और दोमुंहे बाल नज़र नहीं आएंगे.

ब्यूटी रूटीन बदलें: हमारा शरीर ख़ुद-ब-ख़ुद समय व मौसम को देखते हुए बदलाव की डिमांड करता है. ऐसे में मौसम को देखते हुए अपने ब्यूटी रूटीन को प्लान करें, जैसे- सर्दियों में ज़्यादा मॉइश्‍चराइज़िंग क्रीम व लोशन्स अपनी ब्यूटी लिस्ट में शामिल कर लें और गर्मियों में एसपीएफ का इस्तेमाल ज़रूर करें.

ग्रीसी बालों के लिए: कंडीशनर को बालों की जड़ों में अप्लाई न करें. बेहतर होगा कि आप बालों के सिरों पर हैवी मॉइश्‍चराइज़िंग क्रीम लगाएं.

ऑयली स्किन पर भी ऑयल अप्लाई करना ज़रूरी है: यह ज़रा अजीब-सा लगेगा, लेकिन स्किन क्लींज़िंग के लिए या मेकअप रिमूव करने के लिए भी ऑयल बेस्ड प्रोडक्ट के इस्तेमाल से आपकी नेचुरल स्किन और अच्छी बनेगी. ओवर क्लींनिंग से तेल-ग्रंथियां ज़्यादा तेल का निर्माण करने लगती हैं, जिससे स्किन और ऑयली हो सकती है.

फ्लेकी मस्कारा: अक्सर मस्कारा अप्लाई करने पर यह डर बना रहता है कि वो सूखने के बाद चेहरे पर यहां-वहां बिखर जाता है. दरअसल यह सिग्नल है कि मस्कारा या तो पुराना हो गया या फिर आप उसे यूज़ करने के बाद सील पैक नहीं करतीं. हमेशा उसका कैप टाइट बंद करें, ताकि वो ज़्यादा समय तक चले और बिखरे भी नहीं.

पिंपल्स से आसान छुटकारा: आप माने या न माने, लेकिन यह सच है कि पिंपल्स पर टूथपेस्ट लगाने से वो जल्दी सूखते हैं.

सेक्सी चीकबोन के लिए: अपनी चीकबोन को और उभार व शेप देने के लिए ब्रॉन्ज़र सीधे-सीधे चीकबोन के नीचे अप्लाई करें. चाहें तो चीकबोन पर हाईलाइटर का इस्तेमाल भी कर सकती हैं.

मेकअप टूल्स साफ़ रखें व समय पर बदलें: चाहे रेज़र हो या मेकअप ब्रश इस्तेमाल के कुछ समय बाद ही उनमें बैक्टिरिया पनपने लगते हैं, ऐसे में यदि उन्हें नियमित रूप से साफ़ नहीं किया गया या बदला नहीं गया, तो स्किन इंफेक्शन या त्वचा संबंधी अन्या समस्या हो सकती है.

लॉक इट: क्रीम बेस्ड प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते समय, चाहे लिपस्टिक हो या फाउंडेशन, ड्राई फेस पाउडर ऊपर से अप्लाई करें. इससे मेकअप या आपका लुक लॉक हो जाएगा. यही बात ब्लश पर भी लागू होती है. क्रीम ब्लश के बाद पाउडर ब्लश उस पर अप्लाई करें.

ब्यूटी प्रोडक्ट्स को नियमित रूप से बदलते रहें: जिस तरह मेकअप टूल्स पर बैक्टिरिया जमा हो जाते हैं, उसी तरह बार-बार इस्तेमाल करने से मेकअप प्रोडक्ट्स पर भी वो इकट्ठा हो जाते हैं. इसलिए लंबे समय तक उन्हें इस्तेमाल न करें. उनकी शेल्फ लाइफ को ध्यान में रखते हुए समय पर बदल दें.

Meri Saheli Team :
© Merisaheli