Categories: Skin CareMakeupBeauty

भूलकर भी न दोहराएं ये ब्यूटी मिस्टेक्स ( Beauty Mistakes You Should Never Repeat)

पूरे बालों में कंडीशनर लगाना अधिकतर महिलाएं अपने बालों में शैंपू की तरह ही कंडीशनर का प्रयोग करती हैं. उन्हें शैंपू और कंडीशनर में फ़र्क़…

पूरे बालों में कंडीशनर लगाना
अधिकतर महिलाएं अपने बालों में शैंपू की तरह ही कंडीशनर का प्रयोग करती हैं. उन्हें शैंपू और कंडीशनर में फ़र्क़ ही मालूम नहीं होता है. शैंपू बालों में जमी धूल-मिट्टी को साफ़ करता है, जबकि कंडीशनर बालों को पोषित कर उन्हें नमी और मज़बूती प्रदान करता है. कंडीशनर को स्काल्प पर लगाने की बजाय बालों के सिरे पर लगाना चाहिए. कंडीशनर को स्काल्प पर लगाने से बालों की जड़ें चिपचिपी हो जाती हैं और बाल ऑयली दिखते हैं.
सोल्यूशन: कंडीशनर को उंगलियों के पोरों से कान की ओर से शुरू करते हुए बालों के निचले सिरे तक लगाएं. इस तरह लगाने पर बालों को वॉल्यूम मिलता है.

वेल ड्रेस्ड होने के बाद ही परफ्यूम लगाना 
परफ्यूम से कपड़ों पर दाग़ लग सकते हैं, जिससेे परफ्यूम की गंध बुरी भी लग सकती है. स्प्रे करते समय परफ्यूम का इंटरैक्शन शरीर के तापमान के साथ होता है. इसलिए स्किन पर सही तरह से ही परफ्यूम का प्रयोग करें.
सोल्यूशन: ड्रेसअप होने से पहले परफ्यूम को अपने पल्स पॉइंट, जैसे- कलाई, कनपटी के पीछे और गले के आसपास हल्का-सा स्प्रे करें. परफ्यूम लगाने के बाद वहां की स्किन को रब न करें, इससे परफ्यूम का मोलीक्यूलर स्ट्रक्चर टूट जाता है.

ये भी पढ़ेंः 12 स्मार्ट मेकअप ट्रिक्स जो हर लड़की को जानना चाहिए

मॉइश्‍चराइज़र लगाने से आंखों की पफीनेस कम होती है
बदलती लाइफस्टाइल, नींद पूरी न होना और सॉल्टी डायट के कारण आंखों के आसपास की त्वचा पर नमी की कमी हो जाती है. पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर त्वचा को हाइड्रेट किया जा सकता है या फिर आई क्रीम या मॉइश्‍चराइज़र लगाकर भी त्वचा में नमी की कमी को पूरा किया जा सकता है.
सोल्यूशन: अगर आंखों के आसपास की त्वचा में सूजन है, पर आंखें लाल, उनमें जलन और खुजली नहीं हो रही है, तो आंखों पर 10-15 मिनट तक कोल्ड कंप्रेशर या आइस पैक अप्लाई करें. चाहें तो आंखों पर कैफीन से बना आई जेल भी रख सकते हैं.

मॉइश्‍चराइज़र एब्ज़ॉर्ब हुए बिना ही फाउंडेशन लगाना 
मॉइश्‍चराइज़र की नमी के कारण चेहरे पर मेकअप की पतली परत साफ़ दिखती है. इसलिए जब स्किन अच्छी तरह से मॉइश्‍चराइज़र को सोख ले, तभी फाउंडेशन का इस्तेमाल करें, नहीं तो चेहरे पर धब्बे नज़र आते हैं.
सोल्यूशन: त्वचा पर मॉइश्‍चराज़र लगाने के बाद थोड़ी देर रुकें. तब तक त्वचा मॉइश्‍चराइज़र को अच्छी तरह से एब्ज़ॉर्ब कर लेगी. अगर आपके पास समय की कमी है, तो मॉइश्‍चराइज़िंग करने के बाद चेहरे को टिश्यू पेपर से साफ़ करें. टिश्यू पेपर से ब्लॉट करने पर चेहरे की अतिरिक्त तैलीयता निकल जाएगी. उसके बाद आप चेहरे पर फाउंडेशन लगा सकती हैं.

तब तक शावर लें जब तक कि त्वचा और बाल पूरी तरह से साफ़ नहीं हो जाते
त्वचा और बालों को अधिक समय तक ज़ोर-जोर से रगड़ने पर उनका नेचुरल ऑयल ख़त्म हो जाता है.
सोल्यूशन: त्वचा और बालों के सही देखभाल और उचित पोषण के लिए अच्छी कंपनी के प्रोडक्ट्स (शैंपू, कंडीशनर, सोप आदि) और टूल्स (लूफा, प्यूमिक स्टोन आदि) का प्रयोग करना चाहिए, जिनसे त्वचा और बालों को कोई नुक़सान नहीं होता. एक्सपर्ट्स के अनुसार, शावर लेते समय गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें, न कि गर्म पानी का.

ये भी पढ़ें- ये है मेकअप का सही तरीका

Recent Posts

ब्यूटी प्रॉब्लम्स: क्या कंप्यूटर के सामने ज़्यादा बैठने से आंखों को नुकसान हो रहा है? (Beauty Problems: Protect Your Eyes While Working On Computer)

मैं वर्किंग वुमन हूं. ऑफ़िस में कंप्यूटर पर ज़्यादा देर काम करने के कारण मेरी…

कोरोना काल के लॉकडाउन के दौरान बच्‍चों का ध्‍यान कैसे रखें? (How You Can Take Care Of Children During Lockdown)

दुनियाभर में अचानक आए सोशल आइसोलेशन या क्वारंटाइन जैसी स्थिति में, लोगों का भयभीत और…

अपने फेवरेट फूड को सामने देख डाइट प्लान तक भूल जाते हैं टीवी के ये स्टार्स (These Tv Stars Forget Diet Plans For Their Favourite Food)

स्लिम लुक पाने के लिए स्टार्स को क्या-क्या नहीं करना पड़ता है, यहां तक की…

© Merisaheli