Love Stories

कहानी- परिवेश (Short Story- Parivesh)

आज के ज़माने में अपनी संस्कृति और परंपराओं से जुड़ा होना सुखद है. हम सभी एक अलग परिवेश में पले-बढ़े ...

कहानी- एम्पायर स्टेट (Short Story- Empire State)

“तुम यहां मुझे पहली बार मिले थे जेम्स और याद है, यहीं पर तुमने मुझे प्रपोज़ भी किया था, तो फिर ...

कहानी- सतरंगी अरमानों की उड़ान (Short Story- Satrangi Armano Ki Udan)

“अलग-अलग भूमिकाओं में अपने को ढालना बांटना नहीं होता, बल्कि अपने वजूद को और मज़बूत बनाना होता ...

कहानी- वर्जिन लड़की (Short Story- Virgin Ladki)

“रितु, वर्जिनिटी से बड़ा लिंग भेद कुछ भी नहीं आज हमारे समाज में. एक ओर जहां लड़कों से कुछ भी नहीं ...

कहानी- यही सच है (Short Story- Yahi Sach Hai)

मन का वर्चस्व तो हर काल में रहा है. सही है, हमने हाथों में हाथ डाल कभी डांस नहीं किया, होटल के ...

कहानी- कच्ची धूप (Short Story- Kachchi Dhoop)

“अरे… देखो, देखो कोई…! जल्दी आओ! ये लड़की तो पागल हो गयी है!” अर्पिता ख़ुशी को थामे हुए, बौखलाई ...

कहानी- यादें (Hindi Short Story- Yaaden)

हम किसी ग़लत राह पर चल पड़ें, उससे पहले दिशा बदल लेना बहुत ज़रूरी है. ऐसे संबंध अहं को तृप्त कर सकते ...

Hindi Short Story

हिंदी कहानी- बदलते रंग (Hindi Short Story- Badalte Rang)

ऐसे आदमी के लिए वह ख़ुद को सज़ा देती रही, जिसने रिश्तों को खेल बना रखा था. जैसे वर्जनाएं मात्र नारी ...

Hindi Short Story

हिंदी कहानी- धरती और आकाश (Hindi Short Story- Dharati Aur Aakash)

‘’आख़िर किस आधार पर मैं अपनी बात पर अड़ती. मेरे पास किसी का कमिटमेंट भी तो नहीं था.” कातर स्वर ...

कहानी, एक सामान्य-सी सुबह, Short Story

हिंदी कहानी- एक सामान्य-सी सुबह (Hindi Short Story- Ek Samanay-Si Subah)

किस धातु से बना होता है स्त्री मन? मन होता भी है क्या स्त्री के पास? कब कर पाती है वह अपने मन की? ...

हिंदी कहानी- कर्ज़ (Hindi Short Story- Karz)

मैं आवाक थी. क्या कोई किसी से इतना प्रेम कर सकता है कि अपना संपूर्ण जीवन ही…? मैंने ही उन्हें ...

हिंदी कहानी- प्रशंसक (Hindi Short Story- Prashansak)

परची पढ़कर आज गौतमी सदमे में नहीं आई, बल्कि उसकी धड़कनें बढ़ गईं. कौन है यह प्रशंसक-आशिक़, जो संचार ...

1 2