अलविदा ओम पुरी… शोक़ में डूबा बॉलीवुड, पीएम नरेंद्र मोदी ने भी जताया दुख (Twitter reaction: Celebs Mourn Om Puri’s Death, PM Narendra Modi expresses condolences)

om-puri_650x400_81483675330 (1)

बॉलीवुड के बेहतरीन अभिनेता ओम पुरी नहीं रहे. उनके यूं अचानक चले जाने से हर कोई दुखी और सकते में है. जब शुक्रवार की सुबह ये ख़बर आई, तो पहले कई लोगों को यक़ीन ही नहीं हुआ.

बॉलीवुड से हॉलीवुड तक अपने अभिनय का लोहा मनवा चुके ओम पुरी का नाम बेहतरीन ऐक्टर्स में शुमार था. आम से चेहरे वाले ओम पुरी ने अपनी दमदार आवाज़ और ऐक्टिंग के बल पर बॉलीवुड में अपनी अलग जगह बनाई. अर्धसत्य, आक्रोश, जाने भी दो यारों और पार जैसी फिल्मों से अपने अभिनय का लोहा मनवाने वाले ओम पुरी को भुला पाना किसी के लिए संभव नहीं है. उनके निधन पर बॉलीवुड ने अपना दुख टि्वटर पर जताया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनके निधन पर संवेदना प्रकट की है.

ओम पुरी के क़रीबी दोस्त अनुपम खेर ने कहा, “उन्हें बेड पर इस तरह शांत लेटे देखकर इस बात पर विश्वास करना मुश्किल है कि ओम पुरी अब हमारे बीच नहीं रहे. बहुत गहराई तक शोक और सदमे में हूं.”

एक और ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा, ”मैं ओम पुरी को पिछले 43 साल से जानता हूं. मेरे लिए वो हमेशा एक महान अभिनेता, दयालु और दरियादिल इंसान रहेंगे और इसी तरह दुनिया उन्हें याद करेगी.”

ओम पुरी के साथ काम कर चुकीं प्रियंका चोपड़ा ने कहा, ”एक युग का अंत…धरोहर हमेशा ज़िंदा रहेगी.”

बोमन ईरानी ने भी दुख जताते हुए लिखा, “हमने एक बेहतरीन अभिनता खो दिया है. जो एक टैलेंट, एक आवाज, एक उत्साह था. हम आपको बहुत मिस करेंगे पुरी साहब.”

वीरेंद्र सहवाग ने भी टि्वटर पर अपनी संवेदना व्यक्त की.

कमल हासन ने लिखा, ”सो लॉन्ग ओमजी. आपका दोस्त, प्रशंसक और सहकर्मी होने पर मुझे गर्व है. किसने हिम्मत की कहने की कि वो नहीं रहे? वो अपने काम के ज़रिए हमेशा रहेंगे.”

अक्षय कुमार ने भी कई फिल्मों में ओम पुरी के साथ काम किया था, उन्होंने टि्वटर पर लिखा, ”प्रतिभाशाली ऐक्टर ओम पुरी के निधन की ख़बर सुनकर दुख हुआ, कई फिल्मों में वो मेरे को-ऐक्टर रह चुके हैं… उनके परिवार के लिए दिल से संवेदनाएं व्यक्त करता हूं. रेस्ट इऩ पीस.”

ओम पुरी के दोस्त महेश भट्ट भी बेहद दुखी हैं, उन्होंने लिखा, ”गुडबाय ओम! मेरा एक हिस्सा तुम्हारे साथ चला गया. मैं कैसे वो रातें भूल सकता हूं, जो हमने सिनेमा और लाइफ की बातें करते गुज़ारे थे.”

– प्रियंका सिंह