वास्तु के अनुसार कलर स्कीम सिलेक्शन(Colour Scheme Selection as per Vastu Shashtra)

आपके जीवन में हमेशा ख़ुशियां शामिल हों… सुख-संपत्ति और स्वास्थ्य प्राप्त हो, इसके लिए ज़रूरी है घर को वास्तु शास्त्र से सजाना… कलर स्कीम वास्तु के सिद्धांतों के अनुसार तय करना.

 

– आसमानी रंग का इस्तेमाल मकान के उत्तर दिशा में करना चाहिए.
– लाल रंग का इस्तेमाल घर के दक्षिणी या दक्षिण-पूर्वी हिस्से में करें.

 

 

– अगर इस हिस्से में अगर बेडरूम हो तो वहां लाइट पिंक रंग लगाएं.
– हरे रंग का प्रयोग घर के उत्तर में करना चाहिए. इससे आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा.

यह भी पढ़ें: हेल्दी लाइफ और लंबी उम्र के लिए घर में रखें ये लकी चार्म

 

– पीले रंग का इस्तेमाल घर के पूर्वोत्तर में स्थित किसी भी कमरे में किया जा सकता है.

 

– अगर इस दिशा में स्टडी रूम, लाइब्रेरी या बच्चों का कमरा हो तो डार्क पीले की जगह हल्के पीले रंग का इस्तेमाल करें.
– छोटे बच्चों, लड़कियों और नवविवाहित जोड़ों के कमरे में हल्के बैंगनी रंग का इस्तेमाल करें.
यह भी पढ़ें: किचन के लिए Effective वास्तु टिप्स, जो रखेगा आपको हेल्दी

 

ध्यान रखें-

 

– दक्षिण पूर्व में कभी हल्के या गहरे ब्लू रंग का इस्तेमाल न करें.
– पूर्वोत्तर या उत्तर दिशा में कभी लाल या ऑरेंज रंगों का इस्तेमाल न करें.
– एक ही बेडरूम की चारों दीवारों पर अलग-अलग कलर न करें. इससे रिश्तोें में तनाव आता है.
– मकान के बाहरी दीवारों पर ग्रे, ब्राउन या काले रंग का इस्तेमाल कभी न करें.
यह भी पढ़ें: बेडरूम में पॉज़िटीविटी बनाए रखने के लिए फॉलो करें ये 9 वास्तु रूल्स
Pratibha Tiwari :
© Merisaheli