बालों को करें डिटॉक्सीफाई

बालों को डैमेज करनेवाली आम वजहें

– बालों को भी सही देखभाल की ज़रूरत होती है. इसमें लापरवाही बालों को नुक़सान पहुंचा सकती है.

– हेयर वॉश के बाद भी हेयर प्रोडक्ट बालों में ही रह जाते हैं, जो बालों को डैमेज करने की वजह बनते हैं. इसलिए अच्छी तरह वॉश करें.

– पॉल्यूशन और धूल-मिट्टी से भी बालों को नुक़सान पहुंचता है.

– बालों में केमिकल बेस्ड प्रोडक्ट और टूल्स का इस्तेमाल करने से बचें.

– बालों को डिटॉक्सीफाई करें. इससे आपके बाल प्रॉब्लम फ्री रहेंगे.

कैसे करें डिटॉक्सीफाई?

स्काल्प को क्लीन रखेंः हफ़्ते में दो-तीन बार हेयर वॉश करें. केमिकल फ्री शैंपू का इस्तेमाल करें. इसके अलावा शैंपू सीधे स्काल्प में न लगाएं. जड़ों से लगाना शुरू करें और फिर बालों में लगाएं. अच्छी तरह वॉश करें.

बालों को टूल्स से दूर रखेंः यानी हॉट आयरनिंग, कर्लिंग या ब्लो ड्राई से बचें. ये बालों को नुक़सान पहुंचाते हैं. बहुत ज़रूरी हो तभी इनका इस्तेमाल करें, वो भी मीडियम हीट पर.

मॉइश्‍चराइज़ करेंः बालों को भी मॉइश्‍चराइज़र की ज़रूरत होती है. इसलिए हेयर वॉश से पहले बालों को मॉइश्‍चराइज़ ज़रूर करें. इसके लिए बालों में ऑयल मसाज करें और 15 मिनट बाद शैंपू करें. शाइनी हेयर के लिए कैमोमाइल ऑयल, सॉफ्ट हेयर के लिए कोकोनट ऑयल और स्ट्रेट हेयर के लिए जिरेनियम ऑयल यूज़ करें.

हफ़्ते में एक बार डीप ट्रीटमेंट देंः हेयर क्यूटिकल्स केराटिन नामक प्रोटीन सेल्स से बना है, जो बालों की रक्षा करते हैं, लेकिन धूप और प्रदूषण से ये सेल्स प्रभावित होते हैं. इसलिए हफ़्ते में एक बार बालों को डीप प्रोटीन

ट्रीटमेंट दें. इससे बालों को एक्स्ट्रा प्रोटेक्शन मिलेगा.

एक्स्ट्रा टिप्स

– बेकिंग सोडा बेहतरीन क्लींज़र है. शैंपू में एक टेबलस्पून बेकिंग सोडा मिक्स करके बाल धोएं.

– ऑलिव ऑयल में ऐसे फैटी एसिड्स होते हैं, जो बालों को मॉइश्‍चराइज़ तो करते ही हैं, उन्हें डैमेज से प्रोटेक्ट भी करते हैं. ऑलिव ऑयल गर्म करके बालों में लगाएं. 15-20 मिनट बाद बाल धो लें.

– अंडा एमिनो एसिड और प्रोटीन से भरपूर होता है, जो बालों को शाइन, स्ट्रेंथ और वॉल्यूम देता है. हेयर वॉश से पहले एग हेयर पैक लगाएं.

– 2 टेबलस्पून एप्पल साइडर विनेगर को एक कप पानी में मिलाकर इससे बालों को फाइनल रिंस करें. बालों में ख़ूबसूरत शाइन नज़र आएगी.

 

Meri Saheli Team :
© Merisaheli