हेल्दी कुकिंग टेकनीक्स (Healthy Cooking Techniques)

ट्रेडिशनल की बजाय खाना बनाने के लिए कुछ डिफरेंट टेकनीक का इस्तेमाल कर इसे हेल्दी बनाया जा सकता है.

बेकिंग

आमतौर पर ओवन का नाम लेते ही लोगों को लगता है कि ये स़िर्फ ब्रेड व केक बनाने के ही काम आता है, मगर ऐसा नहीं है. इसमें आप सब्ज़ी आदि भी बना सकती हैं. ओवन में बने खाने में फैट व कैलरी की मात्रा बहुत कम होती है. जिससे आपका वज़न कंट्रोल में रहेगा. सब्ज़ी के अलावा आप चिकन, सी-फूड आदि भी बना सकती हैं.

और भी पढ़ें: 6 कॉमन कुकिंग मिस्टेक्स 

रोस्टिंग

यह बेकिंग से मिलता-जुलता है. इसमें खाना ओवन में गर्म करके पकाया जाता है. आमतौर पर चिकन, सी फूड, रेड मीट आदि को रोस्ट करके बनाया जाता है. इसमें खाना अच्छी तरह पक जाता है और एक्स्ट्रा फैट भी ऐड नहीं होता.

ग्रिलिंग

इस तकनीक में खाना सीधा आग में पकाया जाता है. आग में पके हुए खाने में फैट सबसे कम होता है और यह स्टोव व ओवन में पके खाने की तुलना में जल्दी भी बनता है. चिकन, मटन आदि को ग्रिल करके खाना अच्छा ऑप्शन है. इससे इसका स्वाद भी बना रहेगा और फैट भी कम होगा.

स्टीमिंग

यह खाना बनाने का सबसे आसान व हेल्दी तरीक़ा है. इडली, मोमोज़ आदि स्टीम करके बनाए जाते हैं. इस टेक्नीक में तेल का बिल्कुल इस्तेमाल नहीं होता और खाना जल्दी भी बनता है. आप सीजनल सब्ज़ियों को भी स्टीम करके बना सकती हैं.

सॉटिंग

इसमें सब्ज़ियों को बहुत कम घी या बटर में पकाया जाता है. इसमें खाने को बहुत ज़्यादा भूनने की ज़रूरत नहीं होती, बस थोड़ा सॉफ्ट करना होता है. सब्ज़ियों को लगातार चलाते हुए पकाएं और थोड़ा नरम होने पर आंच से उतार लें. इस तरह से बना खाना टेस्टी और हेल्दी होता है.

और भी पढ़ें20 स्मार्ट कुकिंग आइडियाज़

 

Poonam Sharma :
© Merisaheli