सरोगेसी पर तसलीमा नसरीन के ट्वीट...

सरोगेसी पर तसलीमा नसरीन के ट्वीट से विवाद, प्रियंका चोपड़ा का नाम लिए बिना कहा- जो माएं रेडीमेड बच्चे प्राप्त करती हैं, वो…’ नाराज़ लोग बोले, आपसे ये उम्मीद नहीं थी! (‘How Do Those Mothers Feel When They Get Their Readymade Babies Through Surrogacy’ Taslima Nasreen Makes Controversial Statement On Surrogacy)

मशहूर लेखिका तसलीमा नसरीन अक्सर अपने बेबाक़ बयानों के चलते खबरों में रहती हैं. अब वो अपने ट्वीट को लेकर चर्चा में हैं. माना जा रहा है कि ये ट्वीट उन्होंने प्रियंका चोपड़ा पर निशाना साधने के इरादे से किया है. तसलीमा ने सरोगेसी पर अपनी राय ज़ाहिर की है और ट्वीट कर पूछा है कि सरोगेसी से जो माताएं बच्चे प्राप्त करती हैं क्या उनमें अपने बच्चे के प्रति वही भावनात्मक लगाव होता है जैसा जन्म देनेवाली माताओं को होता है.

तसलीमा ने ट्वीट किया है कि उन माताओं को कैसा महसूस होता होगा जो सरोगेसी से अपने रेडीमेड बच्चे प्राप्त करती हैं. क्या उनमें भी बच्चों के लिए वैसी ही भावनाएं होती हैं जैसी बच्चों को जन्म देने वाली मां में पाई जाती हैं?

तसलीमा ने एक और ट्वीट किया है जिसमें लिखा है- सरोगेसी सिर्फ़ इसलिए संभव है क्योंकि महिलाएं गरीब हैं. अमीर लोग अपने निजी स्वार्थ के चलते समाज में ग़रीबी बनाए रखना चाहते हैं. अगर आपको बच्चे की इतनी ही चाह है तो बेघर बच्चों को गोद लें. आपके बच्चों को आपके गुण विरासत में मिलने चाहिए ये सिर्फ़ एक स्वार्थी सोच व अंहकार है.

इसके बाद तसलीमा ने एक तीसरा ट्वीट भी किया जिसमें सरोगेसी और बुर्के पर अपने विचार ज़ाहिर किए.

दरअसल शुक्रवार को प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस ने पेरेंट्स बनने की न्यूज़ साझा की थी. उन्होंने सरोगेसी से बेटी के जन्म की खुशखबरी सबको दी थी.

माना जा रहा है कि तसलीमा ने ये ट्वीट प्रियंका चोपड़ा पर निशाना साधने के इरादे से किया है.

तसलीमा के इस ट्वीट से ज़्यादातर लोग ख़फ़ा दिखे. उन्होंने इस ट्वीट को असंवेदनशील करार दिया. कुछ लोगों ने कहा कि ये उन लोगों के साथ अन्याय है जो बच्चे गोद लेते हैं या पिता भी तो खुद बच्चे को जन्म नहीं देता तो वो भी अपने बच्चे के साथ कैसे जुड़ता है, क्या ये सोचा है. लोगों ने ये भी कहा कि आपसे इस तरह के विचारों की उम्मीद नहीं थी. वहीं यूज़र्स ये भी कह रहे हैं कि ये किसी भी कपल की निजी पसंद है और सरोगेसी ज़्यादातर मेडिकल प्रॉब्लम्स के कारण ही चुनी जाती है.

कुछ लोग ऐसे भी थे जो तसलीमा की राय से सहमत दिखे लेकिन अधिकांश लोगों ने इस पर असहमति ही जताई और कहा कि आप ऐसा क्यों सोचती हैं कि अपने बच्चे से जुड़ने के लिए किसी महिला को इतने दर्द और तकलीफ़ से गुज़रना ज़रूरी ही होता है…

सरोगेसी ऐसी मेडिकल प्रक्रिया है जिसमें महिला के एग और पुरुष के स्पर्म को मेडिकल प्रॉसेस के तहत निषेचित करके सेरोगेट मदर यानी जिस महिला की कोख को किराए पर लिया गया हो उसके गर्भाश्य में प्रत्यरोपित कर दिया जाता है.

ज़्यादातर लोग अपने मेडिकल कारणों के कारण ये विकल्प चुनते हैं.

×