डिलीट हो चुकी फाइल्स को यूं करें रिकवर (how to recover deleted files?)

तुरंत रोक दें काम

जैसे ही कोई फाइल डिलीट हो जाए, उसी समय कंप्यूटर पर काम रोक दें, क्योंकि आप जितना ज़्यादा काम करेंगे, उतना ज़्यादा नया डाटा हार्ड ड्राइव में जमा होता रहेगा और आपकी फाइल मिलने की संभावना कम होती जाएगी.

फाइल रिकवरी के 3 स्मार्ट ऑप्शन्स

किसी भी डिलीट हो चुकी फाइल को वापस पाने के 3 स्मार्ट ऑप्शन्स हैं- रिसाइकल बिन, बैकअप और सॉफ्टवेयर प्रोग्राम. इनकी मदद से आप अपनी डिलीट हो चुकी फाइल या ज़रूरी डाटा रिकवर कर सकते हैं.

1. रिसाइकल बिन

– फाइल डिलीट होते ही तुरंत रिसाइकल बिन में जाएं. वहां आपको अपनी फाइल मिल जाएगी.

– फाइल पर क्लिक करके उसे रिस्टोर करें.

– याद रखें, आपकी डिलीट हो चुकी या खोई हुई फाइल आपको रिसाइकल बिन में तुरंत मिल सकती है, बशर्ते उसके बाद आपने रिसाइकल बिन क्लीयर न किया हो.

– बिना देखे कभी भी रिसाइकल बिन खाली न करें, वरना कोई ज़रूरी फाइल या डॉक्यूमेंट हमेशा के लिए डिलीट हो सकता है.

 

2. बैकअप से रिकवर करें

– अगर आपको भी रोज़ाना कंप्यूटर डाटा का बैकअप रखने की अच्छी आदत है, तो यह आपके लिए गुड न्यूज़ है.

– फाइल डिलीट होने की स्थिति में स़िर्फ आपको अपने बैकअप डाटा में जाकर फाइल रिस्टोर करनी होगी.

– बैकअप की वजह से आपको डाटा खोने का डर भी नहीं रहता.

– और अगर आप बैकअप नहीं लेेते, तो शुरू कर दीजिए, क्योंकि अगर ग़लती से फाइल डिलीट हो गई और बैकअप भी न रहा, तो पछतावे के अलावा आपके पास कुछ नहीं बचेगा.

– कोई भरोसेमंद बैकअप प्रोग्राम इंस्टॉल करें या फिर क्लाउड ड्राइव का इस्तेमाल करें.

3. इंस्टॉल करें फ्री डाटा रिकवरी सॉफ्टवेयर

– अगर आपने रिसाइकल बिन क्लीयर कर दिया हो और बैकअप भी न लिया हो, तो ऐसी स्थिति में डाटा रिकवरी सॉफ्टवेयर आपकी मदद करेगा.

– ऑनलाइन कई डाटा रिकवरी सॉफ्टवेयर्स हैं, जिन्हें इंस्टॉल कर आप इस समस्या का समाधान पा सकते हैं.

– यह प्रोग्राम पोर्टेबल भी मिलते हैं यानी बिना इंस्टॉल किए भी आप इन्हें इस्तेमाल कर सकते हैं.

बेस्ट डाटा रिकवरी सॉफ्टवेयर्स

EaseUS Data Recovery Wizard
(इज़अस डाटा रिकवरी विज़ार्ड)

– इसे इंस्टॉल कर, जिस टाइप की फाइल ढूंढ़ना चाहते हैं, उस पर क्लिक करें.

– जिस डिस्क से फाइल डिलीट हुई है या खो गई है, उसे सिलेक्ट करके स्कैन बटन पर क्लिक करें.

– स्कैन करते ही आपको वो सारी फाइल्स दिखाई देंगी.

– उन सभी फाइल्स में से अपनी फाइल चुनकर रिकवर बटन पर क्लिक करें.

– उस फाइल को किसी और डिस्क में सेव करें, ताकि फाइल ओवर राइट न हो.

Recuva (रेकुवा)

– यह एक पोर्टेबल प्रोग्राम है, जिसे आपको इंस्टॉल भी नहीं करना पड़ेगा.

– प्रोग्राम को डाउनलोड करें और फ्लैश ड्राइव पर अनज़िप करें.

– इस फ्लैश ड्राइव को कंप्यूटर से कनेक्ट करें और डिलीट हो चुकी फाइल को
रिकवर करें.

PhotoRec (फोटोरेक)

– किसी भी तरह के मीडिया को रिकवर करने के लिए यह एक बेहतरीन सॉफ्टवेयर है.

– इसके नाम पर न जाएं, यह स़िर्फ फोटोज़ ही नहीं, बल्कि सभी तरह की फाइल्स को रिकवर करने में आपकी मदद कर सकता है.

– विंडोज़ के साथ-साथ यह मैक और लिनक्स पर भी अच्छी तरह काम
करता है.

– सीडी, डीवीडी, यूएसबी, फ्लैश ड्राइव, मेमोरी कार्ड आदि सभी तरह के मीडिया प्रोग्राम्स पर काम करता है.

DMDE (डीएमडीई)

– यह एक बेहतरीन डाटा रिकवरी सॉफ्टवेयर व टूल है.

– इसमें मौजूद स्टेप बाय स्टेप गाइड की मदद से आप आसानी से डाटा रिकवर कर सकते हैं.

– यह सभी तरह की ड्राइव को रीड करके काम करता है, जिससे आपको आपकी फाइल मिलने में कोई परेशानी नहीं होगी.

MiniTool Partition Recovery Free
(मिनीटूल पार्टिशन रिकवरी फ्री)

– अगर फाइल की बजाय पूरी की पूरी डिस्क ही खो जाए या दिखाई न दे, तो सोचें क्या होगा.

– यह सॉफ्टवेयर फाइल के साथ-साथ आपकी डिस्क या ड्राइव को रिकवर करने में आपकी मदद करता है.

– फाइल करप्ट हो, डिलीट हो या ड्राइव में मौजूद बाकी डाटा खो जाए, तो घबराएं नहीं. बस, यह सॉफ्टवेयर इस्तेमाल करें और सभी डाटा तुरंत रिकवर करें.

दिनेश सिंह

Meri Saheli Team :
© Merisaheli