Categories: FILMEntertainment

‘फिल्में लगातार फ्लॉप हो रही हैं, कुछ न कुछ तो गड़बड़ ज़रूर है… स्टार्स को बहुत ज़्यादा फीस दी जा रही है, लेकिन उनसे रिटर्न में कुछ मिल नहीं रहा…’ बॉलीवुड में फ्लॉप होती फिल्मों पर बोले सैफ अली खान… (‘I Have No Idea But Something Is Happening. We Pay People Astronomically And The Returns Have Been Not Good…’ Saif Ali Khan Says On Bollywood Films Failing At The Box Office)

पिछले कुछ अरसे से बॉलीवुड (Bollywood) में बड़े बजट और बड़े स्टार्स की फ़िल्में जिस तरह औंधे मुँहे गिरी हैं उससे एक बहस छिड़ गई…

पिछले कुछ अरसे से बॉलीवुड (Bollywood) में बड़े बजट और बड़े स्टार्स की फ़िल्में जिस तरह औंधे मुँहे गिरी हैं उससे एक बहस छिड़ गई है और कई लोग इस पर कई बार बोल चुके हैं. हाल ही में सैफ़ अली खान (Saif Ali khan) और ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) की फ़िल्म विक्रम वेधा (film Vikram vedha) का हाल भी कुछ ऐसा ही हुआ. फ़िल्म को लेकर बहुत हाइप थी लेकिन फ़िल्म कमाल न कर सकी और बुरी तरह फ़्लॉप साबित हुई.

बॉलीवुड में लगातार फ़्लॉप हो रही फ़िल्मों पर अब सैफ़ अली खान ने भी चुप्पी तोड़ी है. एक मीडिया हाउस को दिए इंटरव्यू में सैफ़ ने कहा कि क्या चलेगा और क्या नहीं इसका इन दिनों अंदाज़ा लगाना भी मुमकिन नहीं. विक्रम वेधा के लिए सोचा था कि फ़िल्म बहुत अच्छा करेगी लेकिन नहीं कर पाई. सैफ़ ने स्टार्स की बढ़ती फ़ीस को लेकर भी खुलकर कहा.

सैफ़ बोले- फ़िल्में लगातार फ़्लॉप हो रही हैं इसकी कोई न कोई वजह तो ज़रूर होगी. मुझे नहीं पता कि क्या कारण है लेकिन कुछ तो है ज़रूर. फ़िल्में बन रही हैं, लोग लगातार फ़िल्में बना रहे हैं और इस बीच स्टार्स की फ़ीस में भी उतार-चढ़ाव होता है और होता रहेगा लेकिन कुछ स्टार्स बहुत ज़्यादा फ़ीस ले रहे हैं. स्टार्स इतनी ज़्यादा फ़ीस तो ले रहे हैं लेकिन रिटर्न में उनसे कुछ अच्छा मिल नहीं रहा.

सैफ़ ने कहा कि मात्र 2 फीसदी आबादी ही फिल्म देखने के लिए पैसे खर्च करती हैं, लेकिन अगर ये 20 फीसदी बढ़ जाए तो इंडस्ट्री समृद्ध हो जाएगी. हालांकि लोगों के लिए पैसे कमाने भी ज़रूरी हैं ताकि वो पैसा खर्च कर सकें.

वर्क फ़्रंट की बात करें तो सैफ़ आदिपुरुष में कृति सेनन व प्रभास के साथ नज़र आएंगे. इस फ़िल्म को लेकर पहले ही बवाल मच चुका है. इसके ट्रेलर पर काफ़ी विवाद हुआ था, ऐसे में देखते हैं कि ये फ़िल्म क्या कमाल करती है? कुछ कमाती है या इसका भी वही हश्र होगा… लेकिन सैफ़ ने खुलकर अपनी बात कही उसकी तारीफ़ ज़रूर होनी चाहिए.

Recent Posts

कहानी- पहला सबक (Short Story- Pahla Sabak)

वह सोच रही थी, ‘वरदान ने आज से पहले तो कभी इतनी लंबी चुप्पी नहीं…

© Merisaheli