जानें डॉक्टर्स के सीक्रेट हेल्थ मंत्र(Know health secret mantras of Doctors )

24 घंटे हमारे इलाज में तत्पर रहने वाले डॉक्टर्स क्या कभी बीमार नहीं होते? आख़िर वो ऐसी कौन-सी चीज़ खाते हैं कि 24/7 फिट और एनर्जेटिक दिखते हैं. आप भी जानें डॉक्टर्स के सीक्रेट हेल्थ मंत्र, जिसके बारे में बता रहे हैं डॉ. ए. के. मिश्रा.

दर्द में क्या करते हैं डॉक्टर?

आपकी बीमारी को दवा के ज़रिए झट से दूर करने वाले डॉक्टर को भी दर्द होता है. ऐसे में वो दर्द को दूर करने के लिए क्या करते हैं? आइए, जानते हैं.
सिरदर्द
अमूमन सिर दर्द में लोग पेन किलर खाते हैं, लेकिन ज़्यादातर डॉक्टर दवाइयों के बदले कुछ और ही करते हैं. अपने हाथों के दोनों अंगूठों को भौंहों के नीचे रखकर ऊपर से नीचे की ओर प्रेस करें. इस तरह करते रहने से ऑर्बिटल नर्व स्ट्रेस लेवल को कम करके आपको सिरदर्द से राहत देती है.
कमरदर्द
हल्का कमर दर्द होने पर डॉक्टर किसी भी तरह की दवाई लेने के बजाय योगा पर भरोसा करते हैं. ख़ुद डॉ. ए. के. मिश्रा कहते हैं कि मामूली सा कमर दर्द होने पर योगा करना ज़्यादा अच्छा होता है. कमर दर्द के लिए सबसे कारगर योगा काउ एंड कैट योगा होता है. इसके लिए एक चटाई पर गाय की तरह अपने दोनों हाथों और पैरों के बल होकर, सांस अंदर की ओर खींचकर अपने चिन को नीचे की ओर झुकाएं और फिर धीरे-धीरे चिन को ऊपर उठाते हुए सांस को छोड़ें. ऐसा करने से बहुत जल्द ही आपको इस दर्द से छुटकारा मिल जाएगा.
चोट लगने पर
ज़्यादातर लोग चोट लगने पर उसपर बैंडेज लगा लेते हैं. जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए. ख़ुद डॉक्टर कहते हैं कि ऐसा करने से उस घाव के किटाणु अंदर ही रह जाते हैं. डॉ. ए. के. मिश्रा कहते हैं, “चोट लगने पर उसे अच्छे से साफ़ करें. इससे उसके किटाणु बाहर चले जाते हैं और चोट जल्दी ठीक होती है.”

 

कोल्ड एंड प्लू में क्या करते हैं?

मौसम बदलते ही आपको ज़ुकाम, बदन दर्द आदि की शिकायत रहती है. हमारे डॉक्टर भी इस समस्या से परेशान होते हैं. ऐसे में वो क्या करते हैं? आइए, जानते हैं.
ज़ुकाम होने पर
ज़ुुकाम होने पर किसी भी तरह की कोल्ड एंड फ्लू मेडिसिन से डॉक्टर्स बचते हैं. दवा लेने की बजाय गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारा करना ज़्यादा उचित समझते हैं.डेली डायट में फल और सब्ज़ियों को ज़्यादा वरियता देते हैं, जिससे बॉडी को कोल्ड एंड फ्लू से लड़ने की ताक़त मिलती है.
थकान
कोल्ड एंड फ्लू के कारण जब बॉडी में थकान होती है या फिर पूरी बॉडी दर्द होती है तो दवा के बदले डॉक्टर्स अपनी बॉडी की ज़रूरत को समझते हुए काम करते हैं. डॉक्टर्स की डायरी में इस तरह की सिचुएशन को हैंडल करने के लिए मेडिटेशन को महत्व दिया गया है. रोज़ाना 20 मिनट की एक्सरसाइज़, मेडिटेशन और योगा से दिमाग़ स्वस्थ रहता है और शरीर को आराम मिलता है.
हर्बल को देते हैं तरज़ीह
कोल्ड से बचने के लिए ख़ुद डॉक्टर्स भी आयर्वेद पर भरोसा करते हैं. आयुर्वेदिक दवाओं का यूज़ वो ख़ुद के लिए और अपनी फैमिली के लिए करते हैं. कुछ डॉक्टर्स ज़िंक को भी तरज़ीह देते हैं.
ग्रीन सब्ज़ियों का सेवन
बदलते मौसम में बीमारियों से बचने के लिए सबसे ज़रूरी होता है शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता का मज़बूत होना. इसके लिए डॉक्टर्स अपने घर में हरी सब्ज़ियों का भंडार रखते हैं. डॉ. ए. के. मिश्रा कहते हैं, उनकी फ्रिज में हरी और पत्तेदार सब्ज़ियां हमेशा रहती हैं.

डॉक्टर्स कैसे रखते हैं अपने वज़न को क़ाबू

एक्सरसा़इज
डॉक्टर ए. के. मिश्रा कहते हैं,” डॉक्टरों को फिट रहना बहुत ज़रूरी होता है. क्योंकि अगर हम ही फिट नहीं रहेंगे तो मरीजों को सलाह कैसे देंगे. फिट रहने के लिए रोज़ाना 20 मिनट तक की एक्सरसाइज़ बहुत ज़रूरी होती है. हर दिन मैं जंपिंग, रनिंग और बॉक्सिंग के साथ-साथ टेनिस भी खेलता हूं. ज़रूरी नहीं कि बहुत हार्ड एक्सरसाइज़ ही करें. आप को जो पसंद हो वो एक्सरसाइज़ कर सकते है.”
दूध है फिटनेस का राज़
एक ग्लास दूध हर दिन पीने से आप की बॉडी को सभी महत्वपूर्ण चीज़ें मिल जाती हैं. दूध पीने से आपको ज़्यादा खाने की भी ज़रूरत महसूस नहीं होती. भूख लगने पर थोड़ा बहुत स्नैक्स खाने से शरीर फिट महसूस करता है.

तनाव को कैसे रखते हैं बैकफुट पर?

भागदौड़ भरी लाइफ और 24/7 मरीज़ों के लिए काम करते हुए डॉक्टर भी तनाव से ग्रस्त होते हैं. ऐसे में वो ख़ुद को कैसे रखते हैं ठीक? आइए, जानते हैं.
लंबी सांस
स्ट्रेस लेवल बढ़ने पर ख़ुद को शांत रखने के लिए डॉक्टर लंबी-लंबी सांसे लेते और छोड़ते हैं. इससे उनका तनाव कम होता है. डॉ. ए. के. मिश्रा कहते हैं कि रोज़ाना नये-नये पेशेंट उनकी परेशानी और भागदौड़ भरी ज़िंदगी इन सब से डॉक्टरों को भी तनाव होता है, लेकिन उसके लिए वो एक शांत जगह पर बैठ कर आंखें बंद करके सांस की एक्सरसाइज़ करते हैं.
संगीत सुनना
किसी भी तरह के तनाव को दूर करने का ये सबसे आसान और कारगर तरीक़ा है. घर से ऑफ़िस जाते समय पसंदीदा संगीत सुनना डॉक्टरों की सीक्रेट डायरी में है. गाना सुनने से हमारा दिमाग़ रिलैक्स होता है और नया काम करने के लिए बिलकुल फिट होता है.
पसंदीदा काम
बहुत ज़्यादा तनाव होने पर लोगों को अपना पसंदीदा काम करना चाहिए. इस तरह से वो ख़ुद को तनाव से दूर रखने में सहायक होते हैं और धीरे-धीरे समस्या से बाहर निकलते हैं.

 

कोलेस्ट्रॉल लेवल तेज़ी से घटाने के 10+ असरदार व आसान उपाय (10+ Natural Ways to Lower Your Cholesterol Levels)

Meri Saheli Team :
© Merisaheli