सेक्स बूस्टर व सेक्स के दुश्मन फूड (Sex boosters and sex enemy food)

Sex boosters and sex enemy food

सेक्स के दुश्मन फूड्स (Sex boosters and sex enemy food)

चीज़: दरअसल बाज़ार में उपलब्ध अधिकतर चीज़ गाय के दूध से बनी होती है, जिनमें एंटीबॉडीज़ और ग्रोथ हार्मोंस होते हैं. इस तरह के डेयरी प्रोडक्ट्स के अधिक सेवन से शरीर में विषैले हार्मोंस की वृद्धि होती है, जिससे सेक्स हार्मोंस के निर्माण में रुकावट पैदा होती है.

सोडायुक्त कोल्ड ड्रिंक्स: 21,000 लोगों पर किए गए एक शोध के अनुसार शुगरयुक्त पेय पदार्थ आपके उन जींस को प्रभावित कर सकते हैं, जो वज़न बढ़ाने, डायबिटीज़, डीहाइड्रेशन, हड्डियों के घिसने की प्रक्रिया को बढ़ाते हैं. ये तमाम समस्याएं सेक्स की इच्छा को कम करती हैं, जिससे सेक्स पर बुरा प्रभाव पड़ता है.

आर्टिफिशियल स्वीटनर्स: अगर आप डायटिंग और वज़न कम करने के चक्कर में आर्टिफिशियल स्वीटनर्स का प्रयोग करते हैं, तो यह आपकी सेक्स लाइफ के लिए घातक हो सकता है, क्योंकि इसमें मौजूद तत्व सेरोटोनिन नामक हार्मोंस के स्तर को कम करते हैं. यह हार्मोन हैप्पी हार्मोन माना जाता है, जो आपके मूड को बेहतर और सेक्स की इच्छा को भी बनाए रखने का काम करता है. इसके अलावा आर्टिफिशियल स्वीटनर्स के प्रयोग से आपको बेचैनी, सिरदर्द, उल्टी, अवसाद और नींद न आने जैसी समस्याएं हो सकती हैं. ये समस्याएं भी आपकी सेक्स लाइफ से लिए घातक हैं.

Sex boosters and sex enemy food

डिब्बा बंद फूड: इनमें सोडियम की अधिक मात्रा, आर्टिफिशियल प्रिज़र्वेटिव्स और कम गुणवत्तावाले तत्व होते हैं. इनके प्रयोग से सोडियम का स्तर बढ़ सकता है और पोटेशियम का स्तर कम हो सकता है, जिससे उच्च रक्तचाप की समस्या हो सकती है. उच्च रक्तचाप से आपके सेक्सुअल अंगों में रक्तसंचार कम हो जाता है, जबकि बेहतर सेक्स के लिए इन अंगों में सेक्स के दौरान रक्तसंचार का अधिक होना बेहद ज़रूरी है.

चिप्स और क्रिस्पी चीज़ें: ये चीज़ें न स़िर्फ ख़राब तेल में बनती हैं, बल्कि बेहद अधिक तापमान पर तली भी जाती हैं, जिनसे बैड फैट्स बढ़ता है और आपके सेक्स हार्मोंस के निर्माण को प्रभावित करता है. इसी तरह से मोनोसोडियम ग्लूटामेट भी सेक्स हार्मोंस को प्रभावित करता है. मोनोसोडियम ग्लूटामेट का इस्तेमाल अधिकतर होटल के खाने या पैक्ड फूड में खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है.

कॉफी: कॉफी के अधिक सेवन से एड्रेनल ग्लांड्स प्रभावित होते हैं. ये ग्लांड्स कुछ ख़ास तरह के स्ट्रेस हार्मोंस के निर्माण के लिए ज़िम्मेदार होते हैं और जब इनकी कार्य क्षमता घटती है, तो इससे सेक्स हार्मोंस प्रभावित होते हैं.
इसके अलावा अल्कोहल का अधिक सेवन भी आपकी सेक्स क्षमता को कम कर सकता है.

सेक्स बूस्टर फूड्स

Sex boosters and sex enemy food

  • ताज़ा फल और सब्ज़ियां खाएं.
  • टमाटर में लाइकोपीन होता है, जो प्रोस्ट्रेट ग्लांड्स को हेल्दी रखता है.
  • ड्रायफ्रूट्स में भी सेक्स बूस्टर तत्व होते हैं. बादाम में ज़िंक, सेलेनियम और विटामिन ई होता है. ये सभी विटामिन और मिनरल्स बेहतर सेक्स के लिए ज़रूरी होते हैं. सेलेनियम जहां इंफर्टिलिटी से बचाता है, वहीं विटामिन ई हृदय को स्वस्थ रखता है और ज़िंक पुरुषों में सेक्स हार्मोंस के निर्माण में सहायक होता है. इसके अलावा इसमें मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड रक्तसंचार को बेहतर बनाता है.
  • स्ट्रॉबेरीज़ एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन सी से भरपूर होती हैं, जो रक्तसंचार को बेहतर बनाकर (एंटी ऑक्सीडेंट्स) और पुरुषों में स्पर्म काउंट को बढ़ाकर (विटामिन सी) सेक्स बूस्टर का काम करती हैं.
  • एवोकैडो भी एंटी ऑक्सीडेंट्स, विटामिन ई, पोटेशियम और विटामिन बी6 से भरपूर होते हैं, जो रक्तसंचार को बेहतर बनाकर हृदय और धमनियों को स्वस्थ रखते हैं. जो भी चीज़ें आपके हृदय को स्वस्थ रखती हैं, वो सेक्स को भी बेहतर बनाती हैं, क्योंकि हृदय रोग से पीड़ित व्यक्ति को सेक्स संबंधी समस्या अन्य लोगों की अपेक्षा दोगुना अधिक होती है.
  • डार्क चॉकलेट्स भी सेक्स बूस्टर का काम करती हैं.
  • शकरकंद में पोटेशियम की भरपूर मात्रा होती है, जो उच्च रक्तचाप से बचाता है और उच्च रक्तचाप का संबंध इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से जोड़कर देखा जाता है.
  • तिल भी ज़िंक का बेहतर स्रोत है और ज़िंक सेक्स की इच्छा बढ़ाने में महत्वपूर्ण होता है.
  • तरबूज भी सेक्स बूस्टर का काम करता है. तरबूज में मौजूद लाइकोपीन, सिट्रूलाइन और बीटा केरोटीन ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करता है और आपकी प्राकृतिक सेक्स इच्छा को बेहतर बनाता है.

ओरल सेक्स से जुड़े 5 मिथ्स और फैक्ट्स (Myths & Facts Related To Oral Sex)