स्किन केयर मिस्टेक्स

हेल्दी और ग्लोइंग स्किन पाना चाहती हैं, तो अपने स्किन केयर रूटीन में हमेशा बचें इन ग़लतियों से.
बार-बार चेहरा धोना या बिल्कुल नहीं धोना

चेहरे से धूल-मिट्टी साफ़ करने के लिए रोज़ाना दो बार चेहरा धोना ज़रूरी होता है, पर ज़्यादातर लड़कियां दिन में कई बार अपना चेहरा धोती हैं. इससे त्वचा का नेचुरल ऑयल निकल जाता है और त्वचा को एक्स्ट्रा ऑयल प्रोड्यूस करना पड़ता है, जिससे कील-मुंहासों की समस्या होने लगती है. साथ ही चेहरे पर अतिरिक्त ऑयल दिखाई देता है.

स्किन केयर टिप: रोज़ाना दो बार फेसवॉश से चेहरा धोएं.

अधिक गरम पानी से नहाना

शावर हमेशा ठंडे पानी से लेना चाहिए, पर अगर आपको ठंडे पानी की आदत नहीं, तो गुनगुना पानी इस्तेमाल करें, क्योंकि अधिक गरम पानी से स्किन ड्राय हो जाती है और रोमछिद्र भी खुल जाते हैं. इसका असर सीधे चेहरे पर दिखाई देता है.

स्किन केयर टिप: नहाने के लिए हमेशा गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें.

कील-मुंहासों को फोड़ना-नोचना

कील-मुंहासे चेहरे की ख़ूबसूरती को बिगाड़ देते हैं, पर इसका यह बिल्कुल मतलब नहीं कि आप उन्हें नोचें या फोड़ें. ऐसा करके आप अपने लिए ही मुश्किलें बढ़ाती हैं, क्योंकि मुंहासों को फोड़ने व नोचने से उनके दाग़-धब्बे चेहरे पर हमेशा के लिए बन जाते हैं. अपने चेहरे को हमेशा दाग़रहित बनाए रखना चाहती हैं, तो ऐसा बिल्कुल न करें.

स्किन केयर टिप: पिंपल्स होने पर रात को सोते समय टूथपेस्ट लगा लें.

सोने से पहले मेकअप रिमूव न करना

मेकअप ख़ूबसूरती में चार चांद लगाता है, पर अगर उसी मेकअप को रात को चेहरे से उतारा न गया, तो वह दाग़ भी दे सकता है. दरअसल, सोते व़क्त हमारी त्वचा ख़ुद को रिजुवनेट करती है और अगर त्वचा साफ़-सुथरी न हो, तोकील-मुंहासे, डल स्किन व प्री-मैच्योर एजिंग जैसी स्किन प्रॉब्लम्स होने लगती हैं. मेकअप चेहरे की त्वचा को सांस नहीं लेने देता, इसलिए रोज़ाना रात को सोने से पहले क्लींज़र से मेकअप रिमूव करें.

स्किन केयर टिप: बाहर से घर आने पर धूल-मिट्टी और मेकअप साफ़ करने के लिए आप कच्चे दूध में थोड़ा-सा नमक डालकर भी चेहरा साफ़ कर सकती हैं. क्लींज़र के साथ-साथ टोनर और मॉइश्‍चराइज़र का इस्तेमाल हेल्दी व ग्लोइंग स्किन के लिए ज़रूरी है.

ओवर या अंडर एक्सफोलिएशन

जब बात आती है एक्सफोलिएशन की, तो इसमें दो तरह के लोग हैं, एक वो जो शायद ही कभी एक्सफोलिएट करते हों और दूसरे वो जो अक्सर करते रहते हैं. स्क्रब से स्किन के डेड सेल्स के साथ-साथ बैक्टीरिया से भी छुटकारा मिलता है. इससे चेहरा क्लीन व हेल्दी दिखाई देता है. पर याद रहे, हफ़्ते में केवल दो बार ही स्क्रब करें.

स्किन केयर टिप: एक्सफोलिएशन या स्क्रबिंग के लिए माइल्ड स्क्रब यूज़ करें. चेहरे पर सर्कुलर मोशन में हल्के हाथों से मसाज करते हुए स्क्रब करें, न कि ज़ोर से रगड़ें.

तकिए और बेडशीट्स को साफ़ न रखना

हमारे तकिए और बेडशीट कवर्स पर रोज़ाना धूल-मिट्टी, डस्ट माइट्स, जर्म्स आदि जमा होते रहते हैं. सोते व़क्त हमारी स्किन से डेड स्किन सेल्स निकलते हैं, जो डस्ट माइट्स और जर्म्स को अट्रैक्ट करते हैं और हमें पता भी नहीं चलता कि हमारे कील-मुंहासों का कारण तकिए और बेडशीट्स हैं. इसलिए हर हफ़्ते तकिए और बेडशीट्स के कवर्स साफ़ करें.

स्किन केयर टिप: अगर हर हफ़्ते सफ़ाई मुमकिन नहीं, तो 15 दिन में करें. बीच-बीच में तकिए, बेडशीट और गद्दे को धूप में सुखाएं, ताकि डस्ट माइट्स और जर्म्स मर जाएं.

सनस्क्रीन लोशन न लगाना

गर्मी के मौसम में सूरज की हानिकारक किरणों से बचने के लिए तो हर कोई सनस्क्रीन लोशन लगाता है, पर अन्य मौसम में इसे अनदेखा करते हैं. अगर आप भी सनटैन, स्किन एजिंग और स्किन कैंसर से बचना चाहती हैं, तो रोज़ाना घर से निकलते व़क्त सनस्क्रीन ज़रूर लगाएं.

स्किन केयर टिप: सनस्क्रीन लोशन लगाना जितना ज़रूरी है, उससे कहीं ज़्यादा ज़रूरी है सही सनस्क्रीन लगाना. अगर आप सही एसपीएफ युक्त सनस्क्रीन लोशन नहीं लगा रही हैं, तो वह आपकी स्किन की सुरक्षा नहीं कर पाएगा.

गंदे मेकअप ब्रश इस्तेमाल करना

महिलाओं का ध्यान मेकअप पर तो होता है, पर मेकअप ब्रशेज़ पर उनका ध्यान बहुत ही कम जाता है. बहुत-सी महिलाओं को तो पता भी नहीं कि लगातार एक ही मेकअप ब्रश इस्तेमाल करने से उसमें मेकअप की एक परत जम जाती है, जो जर्म्स व बैक्टीरिया को अपनी ओर आसानी से अट्रैक्ट करते हैं. यानी मेकअप के साथ-साथ आप जर्म्स को भी अपने चेहरे तक पहुंचा देती हैं. हर एक-दो महीने में गर्म पानी में माइल्ड सोप डालकर ब्रशों को साफ़ करें.

स्किन केयर टिप: ब्रश के अलावा अपने कॉम्पैक्ट पाउडर के पफ को भी नियमित रूप से बदलती रहें.

अनहेल्दी लाइफस्टाइल अपनाना

आजकल हमारी लाइफस्टाइल काफ़ी अनहेल्दी हो गई है, जिसका सीधा असर हमारी स्किन पर दिखाई देता है. हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाने के लिए भरपूर नींद लें, हेल्दी खाएं, पर्याप्त पानी पीएं, स्ट्रेस न लें और धूम्रपान से दूर रहें.

स्किन केयर टिप: हेल्दी स्किन के लिए एंटीऑक्सीडेंट्स बहुत ज़रूरी हैं. अपने खाने में मौसमी फल व हरी सब्ज़ियां शामिल करें. 6-8 घंटे की नींद न लेने से आपको अंडर आई सर्कल हो सकते हैं, इसलिए सुकूनभरी नींद लें.

स्किन टाइप के अनुसार प्रोडक्ट्स न लेना

बहुत-सी महिलाओं को पता ही नहीं होता कि उनकास्किन टाइप क्या है और वो कोई भी ब्यूटी प्रोडक्ट इस्तेमाल करने लगती हैं. जबकि उन्हें पता भी नहीं होता कि उन्हें उसकी ज़रूरत है भी या नहीं. अपनी स्किन टाइप यानी ड्राय, ऑयली, नॉर्मल, सेंसिटिव के अनुसार प्रोडक्ट्स ख़रीदें.

स्किन केयर टिप: कोई भी स्किन केयर या ब्यूटी प्रोडक्ट ख़रीदते व़क्त उसका लेबल चेक करें कि वह किस तरह की त्वचा के लिए बना है. उसमें मौजूद तत्वों को भी देखें, बहुत ज़्यादा केमिकल युक्त प्रोडक्ट्स अवॉइड करें.

ब्यूटी प्रोडक्ट्स की एक्सपायरी डेट चेक न करना

जिस तरह हर चीज़ की एक्सपायरी डेट होती है, उसी तरह स्किन केयर और मेकअप प्रोडक्ट्स भी एक्सपायरी डेट के साथ आते हैं. कुछ महिलाएं ब्यूटी प्रोडक्ट्स सालों तक रखे रहती हैं और उसकी एक्सपायरी डेट की ओर ध्यान ही नहीं देतीं.

स्किन केयर टिप: समय-समय पर प्रोडक्ट्स की एक्सपायरी डेट चेक करती रहें और अपने ब्यूटी बॉक्स में नए प्रोडक्ट्स ऐड करती रहें.

डर्मेटोलॉजिस्ट से कंसल्ट न करना

किसी भी तरह की स्किन प्रॉब्लम का ख़ुद इलाज करने की बजाय डर्मेटोलॉजिस्ट को दिखाना ज़रूरी होता है. बहुत-सी महिलाएं यहां-वहां से टिप्स बटोरकर काम चलाने की कोशिश करती हैं, पर ज़रूरी नहीं कि वो हर बार सफल हों. अगर घरेलू इलाज से कोई समस्या हल नहीं हो रही है, तो तुरंत डर्मेटोलॉजिस्ट से मिलें.

स्किन केयर टिप: रिंकल्स, एजिंग या चेहरे पर मौजूद दाग़-धब्बे इनसे छुटकारा दिलाने में एक्सपर्ट ही आपकी मदद कर सकते हैं. ख़ुद इलाज करने की बजाय उनसे कंसल्ट करें.

– संतारा सिंह

Meri Saheli Team :
© Merisaheli