Tag Archives: Happy Birthday Farhan Akhtar

HBD फरहान अख़्तरः श्रद्धा कपूर नहीं, बल्कि इस अभिनेत्री ने तोड़ा था फरहान का घर (Happy Birthday Farhan Akhtar)

आज मल्टी टैलेंटेड बॉलीवुड एक्टर (Multi-Talented Bollywood Actor), डायरेक्टर, सिंगर, प्रोड्यूसर फरहान अख़्तर (Farhan Akhtar) अपना 45वां जन्मदिन (Birthday) मना रहे हैं. फरहान का जन्म 9 जनवरी 1974 को मुंबई में जावेद अख़्तर के घर में हुआ था. जावेद अख़्तर बॉलीवुड के मशहूर लेखक व कवि हैं. उनकी मां का नाम हनी ईरानी हैं. फरहान प्रसिद्ध उर्दू कवि जान-निसार के पोते हैं. फरहान अख़्तर की सौतेली मां शबाना आजमी भी बॉलीवुड का एक- मानी अभिनेत्रीं हैं. फरहान की एक बहन जोया अख्तर निर्देशक और लेखक हैं. फराहन निर्देशक-कोरियोग्राफर फराह खान के मौसेरे भाई हैं.

Farhan Akhtar

Farhan Akhtar

उन्होंने वर्ष 2000 में तीन साल के करीबी रिश्ते के बाद हेयर स्टाइलिस्ट अधुना भावनी के साथ शादी की. दोनों की मुलाकात एक फिल्म की शूटिंग के दौरान हुई. उनकी दो बेटियां-अकीरा और शाक्या हैं. उन्होंने शादी के 16 साल बाद आधिकारिक रूप से 21 जनवरी, 2016 को अलगाव की घोषणा कर दी.

Farhan Akhtar

 

Farhan Akhtar

उसके बाद फरहान का नाम बॉलीवुड एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर के साथ जुड़ा. लोगों ने तो यह भी कहा कि श्रद्धा कपूर की वजह से ही फरहान की शादी टूट गई, लेकिन क़रीबी सूत्रों के अनुसार फरहान के अलगाव की वजह श्रद्धा नहीं, बल्कि अदिति राव हैदरी थी. जो उस वक़्त फरहान के साथ एक फिल्म में काम कर रही थीं. खैर अब दोनों ही अभिनेत्रियां फरहान की ज़िंदगी से दूर हो चुकी हैं.  आजकल वे शिबानी दांडेकर को डेट कर रहे हैं. सुनने में आया है कि वे जल्द शादी भी करनेवाले हैं.

Farhan Akhtar

Farhan Akhtar With Shraddha Kapoor

Farhan Akhtar

जानिए फरहान अख़्तर से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

1 -फरहान अख्तर फिल्म शोले को 50 बार देख चुके हैं, लेकिन उन्हें यह दीवार से बेहतर नहीं लगी.
2-अख्तर ने फिल्म दिल चाहता है का निर्देशन तब किया था जब उनकी मां ने उन्हें घर से निकलने की धमकी दी थी. फरहान अपने माँ को अपना सबसे बड़ा आलोचक मानते हैं.
3-फिल्म जिंदगी मिलेगी ना दोबारा में फराहन ने काफी एडवेंचर किए,  लेकिन उन्हें अपनी असल जिंदगी में कॉकरोच से बेहद डर लगता है.
4 – आमिर खान को रंग दे बसंती मिलने से पहले फराहन को ऑफर हुई थी, लेकिन उन्होंने मना कर दिया था, जिसका अफ़सोस उन्हें आज भी है.
5-फराहन खान की ज़िंदगी का सबसे खराब वक्त 1992-93 में था, जब उन्हें दंगों के दौरान मुस्लिम होने का खामियाजा भुगतना पड़ा.