Super Foods

आपको शायद पता नहीं होगा कि कुछ फूड्स (Foods) ऐसे भी हैं, जो आपके सेक्सुअल पावर (Sexual Power) को तुरंत बढ़ा (Increase) देते हैं. यूं कहें, तो ये वायग्रा (Viagra) की तरह काम करते हैं. ये आपकी सेक्स ड्राइव को बढ़ाकर आपकी सेक्स लाइफ (Sex Life) को और भी हेल्दी (Healthy) बनाते हैं. क्या हैं ये सुपर फूड्स (Super Foods) आइए देखें.

 

Foods To Boost Sex Power

सुपर फूड्स
1. स्ट्रॉबेरी

ये विटामिन सी का बेहतरीन स्रोत है, जो पुरुषों में स्पर्म काउंट को बढ़ाता है. साथ ही यह हार्ट और आर्टरीज़ में रक्त संचार को सुचारू बनाए रखता है. स्ट्रॉबेरीज़ को डार्क चॉकलेट में डुबोकर खाएं, यह कामोत्तेजना को बढ़ाता है.

2. बादाम

ज़िंक, सेलेनियम और विटामिन ई के गुणों से भरपूर बादाम सेक्स बूस्टर का काम करता है. सेलेनियम जहां इंफर्टिलिटी की समस्या को दूर रखता है, वहीं ज़िंक सेक्स हार्मोन की बढ़ोत्तरी करता है और विटामिन ई हार्ट को हेल्दी रखता है.
रोज़ाना बादाम का सेवन याद्दाश्त बढ़ाने के साथ-साथ सेक्सुअल लाइफ को भी हेल्दी बनाता है.

3. तरबूज़

इसमें कामोत्तेजना बढ़ानेवाले फाइटोन्यूट्रिएंट्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. इसमें मौजूद लाइकोपीन और बीटा-कैरोटीन सेक्स ड्राइव को बूस्ट करने में मदद करता है.

4. शकरकंद

पोटैशियम से भरपूर शकरकंद हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में काफ़ी मददगार होता है, जिससे पुरुष इरेक्टाइल डायस्फंक्शन के ख़तरे से बचे रहते हैं. बीटा कैरोटीन और विटामिन ए इंफर्टिलिटी को दूर रखते हैं.

5. स़फेद तिल

ज़िंक से भरपूर तिल बेहतरीन सेक्स बूस्टर फूड है. यह टेस्टोस्टेरॉन और स्पर्म प्रोडक्शन की बढ़ोत्तरी में मदद करता है.

यह भी पढ़ें: कितना फ़ायदेमंद है हस्तमैथुन? (Health Benefits Of Masturbation)

Foods To Boost Sex Power
सेक्स किलर फूड्स

चीज़, डायट सोडा, सोया, आर्टिफीशियल स्वीटनर्स, फ्राई व फैटी फूड्स, कैन्ड फूड आदि अवॉइड करें.

स्मार्ट सेक्सी टिप्स

1. अपनी सेक्स लाइफ को थोड़ा स्पाइसी बनाएं. कभी-कभार रूटीन से हटकर कुछ नया ट्राई करें.

2. पार्टनर को आकर्षित करने के लिए सेक्सी कपड़े पहनें. यह आपकी कामोत्तेजना का बढ़ाता है.

3. अरोमा कैंडल्स की ख़ुशबू सेक्स के प्रति आकर्षित करने में आपकी मदद करती हैं. अपने बेडरूम को मनपसंद ख़ुशबू से महकाएं.

4. कोशिश करें कि साल में एक बार स़िर्फ पति-पत्नी 2-4 दिनों के लिए बाहर जाएं. यह आपकी सेक्स लाइफ को दोबारा रिवाइव कर देता है.

5. पार्टनर को मॉर्निंग किस और गुडनाइट किस देना कभी न भूलें.

6. रोमांटिक बातें आपके रिश्ते में अहम् भूमिका निभाती हैं. अपनी बातों से उन्हें रिझाने का कोई मौक़ा हाथ से न जाने दें.

7. अगर दोनों ही वर्किंग हैं, तो वर्किंग आवर्स के बीच एक बार आई लव यू या मिस यू जैसे मैसेजेस आपकी सेक्स लाइफ के रोमांच को बनाए रखते हैं.

8. पार्टनर के शौक़ को जानते हैं, तो कभी-कभार उन्हें सरप्राइज़ ज़रूर दें.

9. सिर्फ़ गिफ़्ट ही आपके पार्टनर को ख़ुश नहीं करता, बल्कि किसी दिन बिन बताए उन्हें ऑफिस से पिक अप करने पहुंच जाएं या फिर सरप्राइज़ लंच प्लान करें.

10. एक-दूसरे को अपनी फैंटसीज़ के बारे में बताएं.

11. कुछ अलग करना चाहते हैं, तो शनिवार रात की बजाय रविबार की सुबह आपके प्यार के लिए बेस्ट टाइम होगा.

12. अक्सर महिलाएं पुरुष के पहल का इंतज़ार करती हैं. इस बार आप पहल करके उन्हें ख़ुश कर सकती हैं.

– सुनीता सिंह

यह भी पढ़ें: महिलाओं के 10 कामोत्तेजक अंग (Top 10 Sexiest Erogenous Parts Of A Women’s Body)

यह भी पढ़ें: नहीं जानते होंगे आप ऑर्गैज़्म से जुड़ी ये 10 बातें (10 Surprising Facts Of Female Orgasm)

डायट व फिटनेस एक साथ चलते हैं. हम जो भी खाते हैं, उसका सीधा असर एक्सरसाइज़ और उसके नतीजों पर पड़ता है. वर्कआउट का पूरा लाभ उठाना है तो आपके लिए यह जानना बहुत ज़रूरी है कि एक्सरसाइज़ के बाद आपके शरीर को कब, क्या व कितनी मात्रा में चाहिए?

Benefits Of Workout

ऑमलेट
अंडा प्रोटीन का बेहतरीन स्रोत है. एक अंडे में 70 कैलोरी व 6.3 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है. और आपको यह तो पता ही होगा कि मसल्स बनाने के लिए प्रोटीन का सेवन कितना ज़रूरी होता है. अतः वर्कआउट के बाद ख़ूब सारी सब्ज़ियां मिला हुआ वेजिटेबल ऑमलेट टेस्टी भी होता है और फ़ायदेमंद भी.

ओटमील
वर्कआउट के बाद ओटमील खाने से ब्लड में शुगर का फ्लो धीरे-धीरे होता है. आप चाहें तो इसमें फ्रूट्स भी मिला सकते हैं. फ्रूट्स मिलाने से इसमें तरल पदार्थ की मात्रा बढ़ जाती है. जिससे शरीर हाइड्रेट रहता है.

केला
केले में भरपूर मात्रा में गुड कार्ब्स पाए जाते हैं, जिनकी वर्कआउट के बाद हमारे शरीर को ज़रूरत होती है. ये कार्ब्स शरीर में ग्लाइकोजेन के स्तर को बढ़ाने व क्षतिग्रस्त मांसपेशियों को ठीक करने में मदद करते हैं. ये हमारे शरीर को भरपूर मात्रा में पोटैशियम भी देते हैं.

वेजिटेबल सैंडविच 

Benefits Of Workout
ब्राउन ब्रेड से बने वेजिटेबल सैंडविच या पनीर सैंडविच में कार्बोहाइड्रेट के साथ-साथ भरपूर मात्रा में प्रोटीन भी पाया जाता है. अगर आप नॉनवेज खाते हैं तो एग या चिकन सैंडविच भी बेहतरीन विकल्प है. आप चाहें तो पीनट बटर सैंडविच भी खा सकते हैं.

ग्रिल्ड चिकन 
आप भुना हुआ चिकन व हरी सब्ज़ियां भी खा सकते हैं. चिकन में मौजूद लीन प्रोटीन्स व कार्बोहाइड्रेट पेट भरने में मदद करते हैं. इसे और हेल्दी बनाने के लिए चिकन को ऑलिव ऑयल में पकाएं और उसमें नमक की मात्रा कम रखें. अगर आप वर्कआउट के बाद सलाद खाना चाहते हैं तो साथ में कम से आधा कप होल ग्रेन्स, जैसे-ब्राउन राइस, पास्ता या कीन्वा ग्रहण करें.

ये भी पढ़ेंः फ्लैट टमी के लिए पीएं ये 5 ड्रिंक्स

भुना हुआ शकरकन्द
1 या 2 शकरकन्द को अवन या गैस पर भूनकर खाएं. शकरकन्द कॉम्पलेक्स कार्बोहाइड्रेट्स से भरपूर होता है. जो वर्कआउट के कारण शरीर में घटे हुए ग्लाइकोजेन को स्तर को पुनः प्राप्त करने में मदद करता है.

चॉकलेट मिल्क

Benefits Of Workout
यदि आप प्रोटीन शेक पी-पीकर ऊब चुके हैं तो टेस्टी चॉकलेट मिल्क शेक ट्राई कीजिए. इसमें मांसपेशियों की रिकवरी के लिए सभी ज़रूरी प्रोटीन्स, कैल्शियम, सोडियम व कार्बोहाइड्रेट्स मौजूद होते हैं, जो वर्कआउट के बाद थकी हुई मांसपेशियों को ऊर्जा प्रदान करने के साथ-साथ ग्लाइकोजेन लेवल बढ़ाने में भी मदद करते हैं.

वे प्रोटीन
वे प्रोटीन का सेवन करने से शरीर में इन्सुलिन के निर्माण की गति बढ़ती है. ग़ौरतलब है कि इन्सुलिन ग्लूकोज़ को एब्जॉर्ब करने व ऊर्जा प्राप्त करने में मांसपेशियों की मदद करता है. इसे आप दूध या फिर पानी के साथ ले सकते हैं. वे प्रोटीन शरीर को आवश्यक अमिनो एसिड्स भी प्रदान करता है. यदि आप प्रोटीन पाउडर नहीं लेना चाहते तो 1 ग्लास सोया मिल्क, 100 ग्राम लो फैट पनीर, 1 प्लेट
स्प्राउट्स या 1-2 बेसन का चीला खाएं. ये खाद्य पदार्थ प्रोटीन के बढ़िया स्रोत हैं.

ड्राय फ्रूट्स
अगर आप बहुत जल्दी में हैं और आपके पास नाश्ता बनाने के लिए समय नहीं है तो मुट्ठी भर ड्राय फ्रूट्स का सेवन करें. ड्राय फ्रूट्स में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, जो मसल्स बनाने में मदद करता है.

ये भी पढ़ेंः आख़िर क्यों नहीं घटता मोटापा

फ्रूट सलाद
ताज़े फलों में भरपूर मात्रा में हेल्दी व आसानी से पचने वाले कार्बोहाइड्रेस, मिनरल्स व एंजाइम्स पाए जाते हैं. एंजाइम्स न्यूट्रिएंट्स को ब्रेक करने में मदद करते हैं, जिससे एक्सरसाइज़ के कारण थकी हुई मांसपेशियों को नई जान मिलती है. अतः मौसमी फलों से बना फ्रूट सलाद ग्रहण कीजिए.

घी

Benefits Of Workout
घी मांसपेशियों को चिकनाई प्रदान करने व शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है. बहुतों को लगता है कि घी मोटापा बढ़ाता है, जबकि वास्तविकता यह है कि घी में फैटी एसिड पाया जाता है, जो लाइपोलिटिक होता है. यह फैट को ब्रेक करने में मदद करता है. घी में ट्रान्स फैट्स नहीं होते. इसलिए शरीरिक ताक़त को बनाए रखने के लिए रोज़ाना एक टेबलस्पून घी का सेवन करें.

कितना व कब खाएं?
कठिन एक्सरसाइज़ करने के बाद शरीर को रिकवर करने के लिए उचित मात्रा में पौष्टिक भोजन ग्रहण करना बहुत ज़रूरी होता है.
इंटरनैशनल सोसायटी ऑफ़ स्पोर्ट्स मेडिसिन के जनरल के अनुसार, वर्कआउट के तुरंत बाद थोड़ा कार्बोहाइड्रेट व थोड़ा प्रोटीन लेना बेहद फ़ायदेमंद होता है. अगर आप मसल्स बनाना चाहते हैं तो वर्कआइट ख़त्म होने के 15 मिनट के अंदर ही 20-25 ग्राम प्रोटीन और 30 से 35 ग्राम कार्बोहाइड्रेट ग्रहण करें. यदि आप वज़न घटाना चाहते हैं तो थोड़ी देर बाद खाएं, लेकिन एक्सरसाइज़ व खाने के बीच का अंतर 45 से 1 घंटे से ज़्यादा नहीं होना चाहिए.

ये भी पढ़ेंः 5 हाई कैलोरी फूड्स, जो वेट लॉस के लिए हैं ज़रूरी