कोरोना संक्रमित घर पर सेल्फ आइसो...

कोरोना संक्रमित घर पर सेल्फ आइसोलेशन में कैसे रहें? जल्दी रिकवरी के लिए रखें इन बातों का ख्याल (Treating COVID-19 at home: Self Isolation Guidelines For Covid Positive Patients)


कोरोना से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा अब रोज़ाना तीन लाख के पार जाने लगा है. हॉस्पिटल्स में बेड नहीं मिल रहे और लोग इतने डरे हुए हैं कि पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद हॉस्पिटल भाग रहे हैं, लेकिन मेडिकल एक्सपर्ट्स बार बार कह रहे हैं कि सभी पॉजिटिव मरीजों को हॉस्पिटल में एडमिट होने की ज़रूरत नहीं है. अगर आप कोरोना से हल्के रूप से संक्रमित हुए हैं, तो घर पर ही रहकर और कुछ बातों को ध्यान देकर जल्दी रिकवर हो सकते हैं. घर पर इलाज करवाते समय आपको क्या करना है, क्या नहीं? आइये जानते हैं.

पहचानें कोरोना के लक्षण

Treating COVID-19 at home

अगर आपको सर्दी-जुकाम है, फीवर आ रहा है, थकान सिरदर्द और बदन दर्द की शिकायत है,
गले में खराश है, लगातार खांसी आ रही है, मुंह का स्वाद और सूंघने की क्षमता खत्म हो गई है, सांस लेने में तकलीफ हो रही है. ये या इनमें से कोई भी लक्षण नजर आएं तो आपको कोरोना हो सकता है.

खुद को आइसोलेट करें

Self Isolation Guidelines For Covid Positive

अगर इनमें से कोई लक्षण आपको खुद या किसी फैमिली मेम्बर में दिखाई दें, तो सबसे पहले खुद को या जिसमें भी ये लक्षण नजर आएं, उन्हें फौरन आइसोलेट करें, क्योंकि हो सकता है आपको कोरोना हो.

टेस्ट करने में देर न करें

Self Isolation Guidelines For Covid Positive

कोरोना के लक्षण दिखने पर टेस्ट करवाने में देर न करें. आम सर्दी-जुकाम या फीवर होगा, ये सोचकर कुछ दिन इंतज़ार करनेवाला रवैया बिल्कुल न अपनाएं. ध्यान रखें, बीमारी का जल्दी पता चलने पर आप तो किसी तरह के कॉम्प्लिकेशन्स से बचेंगे ही, दूसरों को भी संक्रमित होने से बचाएंगे.


पैनिक न हों
अगर आपकी रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, तो पैनिक न हों. अपने डॉक्टर से बात करें. अगर आपको कोरोना के हल्के लक्षण हैं तो आपको किसी खास तरह के ट्रीटमेंट की ज़रूरत नहीं है. आप घर पर रहकर ही ठीक हो जाएंगे. बस अपने डॉक्टर के संपर्क में बने रहें.

सेल्फ आइसोलेशन में कैसे रहें?

Self Isolation Guidelines For Covid Positive

– अगर आप कोरोना पॉजिटिव हैं तो ऐसे ऐसे कमरे में रहें, जिसमें प्रॉपर वेंटिलेशन हो और जो हवादार हो.
– खुद के बर्तन, टॉवल और संपर्क में आनेवाली सारी चीजें अलग कर लें. ध्यान रखें कि कोरोना पॉजिटिव मरीज की कोई भी चीज़ किसी के साथ भी शेयर न करें.
– न खुद उस कमरे से बाहर जाएं और न ही फैमिली के किसी भी मेम्बर को अपने कमरे में न आने दें.
– ज्यादा से ज्यादा रेस्ट करें. हेल्दी डायट लें और डॉक्टर के संपर्क में बने रहें.
– डॉक्टर की सलाह पर समय समय पर अपना ऑक्सीजन लेवल चेक करते रहें.
– मेडिकल एक्सपर्ट्स के अनुसार
आइसोलेशन पीरियड कम से कम 14 दिनों का होना चाहिए. इस बारे में में अपने डॉक्टर से सलाह लें.
– आइसोलेशन में रहते हुए भी सभी जरूरी एहतियात बरतें. मास्क लगाएं, खांसते या छींकते वक्त मुंह पर रुमाल या टिश्यू पेपर जरूर रखें, समय-समय पर हाथ धोते रहें.

बाथरूम शेयर न करें 

Self Isolation Guidelines For Covid Positive


– सेल्फ आइसोलेशन में हैं तो अलग बाथरूम का इस्तेमाल करें. कोविड पॉजिटिव का बाथरूम कोई और यूज़ न करे.
– बाथरूम के क्लीननेस का ख्याल रखें.
– खासकर अगर घर में एक ही बाथरूम है और उसे परिवार के सभी सदस्य इस्तेमाल करते हैं तो कोशिश करें कि संक्रमित व्यक्ति द्वारा इस्तेमाल के बाद बाथरूम को अच्छे से सैनिटाइज करें, ताकि दूसरे लोगों को संक्रमण का खतरा न हो.

कब जाएं हॉस्पिटल?  

Self Isolation Guidelines For Covid Positive

अगर ये लक्षण दिखाई दें तो घर में रहने की गलती न करें. अगर निम्नलिखित में से कोई भी लक्षण दिखाई दें तो फौरन डॉक्टर से कांटेक्ट करें और अगर वो कहें तो हॉस्पिटल में एडमिट हो जाएं.

– सांस लेने में दिक्कत
– ऑक्सीजन लेवल कम होना
– सीने में दर्द होना
– होठों का नीला पड़ जाना 

ये लक्षण दिखें तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

×