आलिया-रणबीर कपूर ने शादी में क्य...

आलिया-रणबीर कपूर ने शादी में क्यों लिए 7 फेरों की जगह सिर्फ 4 फेरे? जानें आलिया के मंगलसूत्र में बने नम्बर 8 का सीक्रेट(Why Alia Bhatt took only four pheras with Ranbir Kapoor at their wedding? Know the Secret behind No 8 desinged on Alia’s mangalsutra)

रणबीर कपूर-आलिया भट्ट फाइनली कल शादी के बंधन में बंध गए. दोनों ने कल बेहद ही प्राइवेट सेरेमनी में अपने फैमिली और क्लोज फ्रेंड्स की मौजूदगी में शादी रचा ली है. फिलहाल उनकी ड्रीमी शादी की तस्वीरें और न्यूज़ इंटरनेट पर छाई हुई हैं. फैन्स लम्बे समय से अपने इस फेवरेट कपल की शादी का इन्तजार कर रहे थे. ऐसे में रणबीर-आलिया की वेडिंग फोटोज़ देखकर फैंस बेहद खुश हैं. बॉलीवुड सेलेब्स और फैंस न्यूली वेड कपल रणबीर और आलिया को लगातार बधाई दे रहे हैं और उन पर जमकर प्यार बरसा रहे हैं.

4 फेरों में शादी रचाई रणबीर-आलिया ने

शादी के बाद शादी की कई डिटेल्स भी सामने आ रही हैं. खासकर रणबीर-आलिया ने शादी में जिस तरह कई स्टीरियोटाइप को तोड़ा है, वो चर्चा का विषय बना हुआ है. चाहे आलिया के दुल्हन के रूप में मिनिमल मेकअप हो या दुल्हन के जोड़े के रूप में सिम्पल आइवरी साड़ी लुक हो, लोग उनकी खूब तारीफ कर रहे हैं. इस बीच पता चला है कि आलिया भट्ट और रणबीर कपूर ने शादी में 7 फेरों की जगह केवल 4 ‘फेरे’ लिए हैं. इस बात का खुलासा आलिया के भाई राहुल भट्ट ने किया है और साथ ही 4 फेरे लेने के पीछे रणबीर-आलिया का लॉजिक भी बताया है.

भाई राहुल ने बताया 4 फेरे लेने के मायने

आलिया भट्ट के भाई राहुल भट्ट ने बताया कि एक पंडित हैं, जो कपूर परिवार से लम्बे समय से जुड़े हुए हैं. राहुल ने बताया कि जब रणबीर-आलिया के फेरे हो रहे थे, तो वो उनके पास ही बैठे थे. “वो पण्डित जी हर फेरे का महत्व समझा रहे थे. पंडित जी ने बताया कि एक फेरा होता है धर्म के लिए,  वहीं दूसरा फेरा अर्थ यानी धन के बारे में होता है कि दोनों को किस प्रकार से सीमित आय में खुद को सुखी रखना चाहिए. तीसरे फेरे में काम के भाव से संबंधित ज्ञान दिया जाता है और चौथे फेरे में नवविवाहित जोड़े को मोक्ष का महत्‍व बताया जाता है. हम ऐसी फैमिली से आते हैं जहां कई धर्मों के लोग हैं, ऐसे में मुझे ये सब पहले से नहीं पता था. तो मेरे लिए ये काफी एक्साइटिंग था. आलिया और रणबीर ने 7 नहीं बल्कि 4 फेरे ही लिए हैं.”

सिख समुदाय में शादी में लिए जाते हैं चार फेरे और 7 वचन


बता दें कि रणबीर आलिया की शादी पंजाबी रीति-रिवाज से हुई है. सिख समुदाय की शादी में ऐसा माना जाता है कि 4 फेरे लेकर ही विवाह संपन्‍न हो जाता है. इसे लवण या फिर लावा या फेरा कहा जाता है. इन 4 फेरों में पहले 3 फेरों में कन्‍या आगे रहती है तो वहीं आखिरी फेरे में वर आगे रहता है. ऐसी मान्यता है कि इन 4 फेरों में वर और वधू वैवाहिक जीवन के सभी पहलुओं से जुड़ा ज्ञान प्राप्‍त करते हैं. वैसे फेरों के संबंध में पारिष्कर गृहसूत्र और यजुर्वेद में भी उल्लेख मिलता है कि चार फेरे और 7 वचन लिए जाते हैं. मूल रूप से फेरों के माध्यम से जीवन के चार लक्ष्य धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष का पाठ पढ़ाया जाता है.

आलिया का मंगलसूत्र है इस वजह से खास

आलिया के मेकअप और वेडिंग आउटफिट के अलावा उनका मंगलसूत्र भी न्यूज़ में बना हुआ है और इसकी वजह भी बेहद खास हैं. दरअसल आलिया के पेंडेट के पास एक इनफिनिटी का डिजाइन बना हुआ है, जो नंबर आठ की तरह दिख रहा है. आपको बता दें कि आठ नंबर रणबीर कपूर का लकी नम्बर है और 8 नम्बर से रणबीर को खास लगाव है, इसीलिए आलिया ने खासतौर पर नम्बर 8 के साथ अपना मंगलसूत्र को डिजाइन कराया गया है.

काफी लंबे इंतजार के बाद बॉलीवुड के सबसे क्यूटेस्ट कपल रणबीर और आलिया कल शादी के बंधन में बंध गए. 13 अप्रैल को शुरू हुई मेहंदी सेरेमनी के बाद 14 अप्रैल को दोनों ने ‘वास्तु’ में सात फेरे लिए. शादी के बाद आलिया ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर कुछ खूबसूरत तस्वीरें पोस्ट की. शादी के बाद केक कटिंग सेरेमनी की भी कई तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिस पर फैंस खूब प्यार लुटा रहे हैं.


×