ऑफिस पॉलिटिक्स से दूर रहने के 8 स्मार्ट टिप्स (8 Smart Tips To Deal With Office Politics)

घर से दूर ऑफिस (Office) के नए माहौल में सेटल (Settled) होना इतना आसान नहीं होता, ये तब और मुश्किल…

घर से दूर ऑफिस (Office) के नए माहौल में सेटल (Settled) होना इतना आसान नहीं होता, ये तब और मुश्किल (Difficult) हो जाता है, जब आप ऑफिस में नए (New) होते हैं. कई बार ऑफिस पॉलिटिक्स (Office Politics) के चलते लोग जॉब बदल लेते हैं. आप इस स्थिति से कैसे बच सकते हैं, आइए जाने?

1. हर बात शेयर न करें
ऑफिस में सभी के साथ मिलकर रहना अच्छी बात है, लेकिन कलीग के साथ अपनी पर्सनल और जॉब से जुड़ी बातों को शेयर करने से बचें. सैलरी पैकेज और इंक्रीमेंट के बारे में भी सहकर्मियों को न बताएं.


क्या करें:
यदि कोई आपसे सैलरी के बारे में पूछते है, तो हंसते हुए यह कहकर टाल दें कि किसी की सैलरी के बारे में नहीं पूछना चाहिए, ऐसा करके आगे आनेवाली परेशानियों से बचा जा सकता है.

2. सर्तक रहे

ऑफिस में क्या चल रहा है, इसकी ख़बर रखें और अपने काम को लेकर सतर्क रहें. काम समय पर पूरा करें और इस बात की जानकारी रखें कि आपके कलीग किस तरह काम करते हैं. आपकी आसपास किस तरह के लोग हैं और वो आपके खिलाफ किस तरह की रणनीति बनाते हैं. इस बात की जानकारी रखें कि कहीं आपका नाम बेकार की गॉसिप में तो नहीं घसीटा जा रहा.

क्या करें
अगर आपको लगता है कि लोग आपके बारे में बेकार की बातें कर रहें हैं या किसी बात में आपका नाम घसीटा जा रहा है, तो इस बारे में बात करके मामला सुलझाएं. हमेशा अपना स्टैंड क्लीयर रखें.

3. खुद परखें
किसी दूसरे की बातों में न आए. यदि कोई दूसरा सहकर्मी किसी अन्य के काम या स्वभाव के बारे में कुछ कहता है, तो उस पर आंख बंद करके विश्‍वास न करें. उस कलीग का स्वभाव कैसा है, ख़ुद जानने का प्रयास करें.
क्या करें
सहकर्मी पर विश्‍वास करे, लेकिन अंधविश्‍वास नहीं.

और भी पढ़ें: 10 अनहेल्दी ऑफिस हैबिट्स (10 Unhealthy Office Habits)

4. विनम्र बनें
ऑफिस में सभी के साथ विनम्र व्यवहार करें. अच्छा व्यवहार सभी को आकर्षित करता है और इसी गुण की वजह से दूसरे लोग भी आपके साथ अच्छा व्यवहार करते है.


क्या करें
जूनियर हों या सीनियर सबके साथ अपना व्यवहार सही बनाए रखें. किसी भ बात पर न तो ज़्यादा ख़ुश हों और न ही ग़ुस्से में किसी को बुराभला कहें.

5. तटस्थ रहें

ऑफिस के सहकर्मियों के साथ बातचीत के दौरान तटस्थ रहना सीखें. यदि कोई चुगली करता है, ते आप अपनी ओर उस पर कोई कमेंट न करें, क्योंकि जो आपके सामने दूसरों की चुगली कर रहा है, वो दूसरों के सामने आपकी भी बुराई कर सकता है.

क्या करें
अपने आपको ऑफिस गॉसिप से दूर रखें. किसी भी दबाव में ग़लत का साथ न दें. अपना पक्ष रखना सीखें.

6. ग़लतियां स्वीकारें
यदि काम के दौरान आपसे कोई ग़लती हो गई है, तो उसे स्वीकार करें. यह एक ऐसी क्वालिटी है, जो ऑफिस पॉलिटिक्स से बचाने में सबसे ज़्यादा कारगर है.

क्या करें
ग़लती पता होने पर भी बहस न करें. इससे आपकी छवि ख़राब होती है.

7. कम्युनिकेशन गैप न रखे
अगर कोई बेवजह आपको ऑफिस पॉलिटिक्स का शिकार बना रहा है, तो सीधे उससे बात करें और विनम्रता से पूछें कि वह ऐसा क्यों कर रहा है. अगर वह समझदार होगा तो अपनी ग़लती के लिए आपसे माफी मांग लेगा. वरना उसके द्वारा शुरू की गई लड़ाई को आपको अंत तक पहुंचाना होगा और ख़ुद की काबिलियत साबित करनी होगी.


क्या करें
यदि सब कुछ सही चलने के बाद भी आप ऑफिस पॉलिटिक्स का शिकार हो रहे हैं, तो बिना देर किए बॉस से मिलकर अपना पक्ष रखें.

8. अपनी लिमिट समझें

सहकर्मियों के साथ बात करते हुए अपनी सीमाओं का ध्यान रखें. कभी भी कोई ऐसा मज़ाक न करें, जिससे कोई आहत हो, साथ ही ऑफिस में किसी के द्वारा किए गए मज़ाक को गंभीरता से न लें.


क्या करें
मज़ाक करने की सीमा तय करें. बेहतर होगी कि मज़ाक में शामिल न हों.

और भी पढ़ें: वर्कप्लेस पर कामयाबी चाहते हैं, तो अपनाएं ये 8 टिप्स (8 Workplace Etiquette Everyone Should Follow)

Poonam Sharma

Recent Posts

इमोशनल अत्याचार: पुरुष भी हैं इसके शिकार (#MenToo Movement: Men’s Rights Activism In India)

जिस तरह सारे पुरुष बुरे नहीं होते, उसी तरह सारी महिलाएं बेचारी नहीं होतीं. कई महिलाएं पुरुषों को इस कदर…

कहानी- सफ़र (Short Story- Safar)

  “अपने से कमतर ओहदे और वेतनवाले जीवनसाथी के साथ हंसते-खेलते पूरी ज़िंदगी जी जा सकती है, लेकिन ऐसी कमतर…

पढ़ाई में न लगे बच्चे का मन तो करें ये 11 उपाय (11 Ways To Increase Concentration Power In Kids)

आजकल पढ़ाई के बढ़ते दबाव और टेक्नोलॉजी के बढ़ते प्रभाव के कारण बच्चे पढ़ाई से जी चुराने लगे हैं या…

क्यों पुरुषों के मुक़ाबले महिला ऑर्गन डोनर्स की संख्या है ज़्यादा? (Why Do More Women Donate Organs Than Men?)

जब किडनी ख़राब होने से बेटे की जान ख़तरे में थी, तो उसके सिरहाने उसकी मां खड़ी थी, जब उसे…

टीवी एक्ट्रेस रश्मि देसाई को मिला नया बॉयफ्रेंड? (Rashami Desai finds love again in actor Arhaan Khan)

एक्टर नंदिश संधू से 2015 में तलाक लेने के बाद अब रश्मि देसाई के जीवन में प्रेम की वापसी हो…

करोड़ों ऑफर किए जाने के बाद भी इस प्रोडक्ट का विज्ञापन करने से शिल्पा शेट्टी ने किया इंकार (Shilpa Shetty REFUSES to endorse This Product)

शिल्पा शेट्टी का नाम सुनते ही हम फिटनेस के बारे में सोचने लगते हैं. 44 की उम्र में भी शिल्पा…

© Merisaheli