Entertainment

फिल्म एनिमल में रणबीर कपूर संग ‘लिक माय शू…’ जूता चाटने वाले सीन पर तृप्ति डिमरी ने तोड़ी चुप्पी… इंटिमेट सीन को लेकर ट्रोल होने पर भी एक्ट्रेस ने किया रिएक्ट… (Triptii Dimri Reacts To Film Animal’s Controversial Scene ‘Lick My Shoe’ With  Ranbir Kapoor)

फ़िल्म एनिमल आजकल कई बातों को लेकर चर्चा में है. रणबीर कपूर से लेकर बॉबी देओल की परफॉरमेंस तक और तृप्ति डिमरी के रणबीर के साथ इंटिमेट सीन से लेकर लिक माय शू जैसे डायलॉग तक सभी के बारे में बातें हो रही हैं.

फ़िल्म ने ताबड़तोड़ कमाई की है और खूब तारीफ़ भी बटोरी है, वहीं फ़िल्म की आलोचना भी हो रही है और ऐक्टर्स को ट्रोल भी किया जा रहा है. इन सबके बीच सबसे ज़्यादा चर्चा बटोरी है एक्ट्रेस तृप्ति डिमरी ने. तृप्ति ने रणबीर के साथ बेहद इंटिमेट सीन दिया है जिसे लेकर उनकी आलोचना भी हो रही है. वहीं फ़िल्म के लिक माय शू वाले बयान पर भी काफ़ी कंट्रोवर्सी हो रही है.

इन सब पर एक्ट्रेस तृप्ति ने चुप्पी तोड़ी और रिएक्ट किया. तृप्ति ने ईटाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा कि फिल्म बुलबुल में किए गए रेप सीन के मुकाबले यह इंटिमेट सीन ज़रा भी चैलेंजिंग नहीं था. इसमें कुछ ग़लत नहीं था. मैंने अपना बेस्ट दिया.

तृप्ति ने कहा कि फिल्म बुलबुल और कला ने उन्हें एक एक्टर के तौर पर स्थापित किया वहीं एनिमल एक लंबे समय के बाद उनकी बड़ी फिल्म थी. तृप्ति बोलीं- मैं भूल गई थी कि बड़े पर्दे पर खुद को देखना कैसा लगता है? एनिमल ने मुझे सब याद दिला दिया. बड़े स्क्रीन के साथ आप ज़्यादा और नए दर्शकों से जुड़ते हैं और जब वो आपके काम को देखते हैं, सराहते हैं तो यही हर कलाकार का सपना होता है. बड़ी फ़िल्में अपने प्रभाव के साथ आती हैं. मैं एक एक्टर हूं और मुझे हर तरह के रोल के लिए तैयार रहना चाहिए.

लिक माय शू वाले सीन पर भी काफ़ी बवाल हो रहा है जहां रणबीर कपूर का करैक्टर रणविजय तृप्ति का किरदार ज़ोया से अपना जूता चाटने को कहता है… इस पर भी एक्ट्रेस ने कहा कि उन्होंने उस सीन में खुद को रणबीर के करैक्टर की जगह रखकर देखा. तृप्ति ने कहा कि मैंने सोचा कि यहां एक महिला है जो उसकी पत्नी, पिता, बच्चों- पूरे परिवार को मारने की बात करती है. अगर कोई मुझसे ऐसा कहे, तो शायद मैं उसको पीट दूंगी. यहां, वह उससे जूता चाटने के लिए तो कहता है, पर बाद में चला जाता है. वह बहुत सारे विचारों से गुजर रहा होता है. बाद में जब उनके चचेरे भाई उनसे पूछते हैं कि उन्हें मेरे साथ क्या करना चाहिए, तो वह कहता है कि वो जहां जाना चाहती है उसे जाने दो.

तृप्ति ने कहा कि मेरे एक्टिंग गुरु ने मुझे कहा था कि अपने करैक्टर को कभी जज मत करो. सभी अपना रोल कर रहे हैं और सभी इंसानों की गुड और बैड साइड होती है. अगर हम अपने कैरेक्टर्स को जज करेंगे तो ईमानदारी से अपना रोल नहीं कर पाऊंगी.

Geeta Sharma

Recent Posts

फिल्म समीक्षा: स्पोर्ट्स थ्रिलर एक्शन से भरपूर
‘क्रैक- जीतेगा तो जिएगा’ (Movie Review- Crakk- Jeetegaa Toh Jiyegaa)

पहली बार हिंदी सिनेमा में इस तरह की दमदार एक्शन, रोमांच, रोगंटे खड़े कर देनेवाले…

February 25, 2024

कहानी- अलसाई धूप के साए (Short Story- Alsai Dhoop Ke Saaye)

उन्होंने अपने दर्द को बांटना बंद ही कर दिया था. दर्द किससे बांटें… किसे अपना…

February 25, 2024

आईची शेवटीची इच्छा पूर्ण करण्यासाठी शाहरुखने सिनेमात काम करण्याचा घेतला निर्णय (To fulfill mother’s last wish, Shahrukh decided to work in cinema)

90 च्या दशकापासून आतापर्यंत शाहरुख खानची मोहिनी तशीच आहे. त्याने कठोर परिश्रम करून स्वत:ला सिद्ध…

February 25, 2024
© Merisaheli