Health Update

महिलाएं ऐसे दूर करें अपना तनाव, अपनाएं ये 10 आसान उपाय (10 Simple Ways To Relieve Stress Immediately)

मां और मैम, कितना मुश्किल है दोनों की ज़िम्मेदारी को साथ-साथ मैनेज करना. दोनों शब्दों के बीच के गैप को…

पीएम मोदी ने लिया कोरोना वैक्सीन का पहला डोज़, लोगों से की अपील- आइए देश को कोरोना मुक्त बनाते हैं! (PM Modi Takes First Dose Of Covid-19 Vaccine At AIIMS)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली AIIMS में COVID वैक्सीन का पहला डोज़ लिया. आज से शुरू हुए कोरोना टीकाकरण के…

युवाओं में तेज़ी से बढ़ रहे हैं विटामिन D की कमी के मामले, क्या आपको भी पर्याप्त सनलाइट नहीं मिलती? इन 4 तरीकों से विटामिन D की ज़रूरत को पूरा कर सकते हैं (Not Getting Enough Sunlight? Here Are 4 Tips To Up Your Vitamin D Intake)

विटामिन डी के कई लाभ हैं- हड्डियों, मांसपेशियों और दांतों को मज़बूती देने से लेकर इम्यूनिटी बढ़ाने तक में ये लाभकारीहै. सबसे अच्छी बात तो यह है कि हमारा शरीर धूप के द्वारा खुद ही विटामिन डी का निर्माण कर सकता है. लेकिनआजकल की लाइफ़स्टाइल और कम फ़िज़िकल एक्टिविटी के चलते हमें सूरज की रोशनी पर्याप्त रूप में नहीं मिल पाती. इसके अलावा और भी कई तरह की रुकावटें आती हैं जिनमें से बढ़ती उम्र भी एक है, क्योंकि उम्र बढ़ने के साथ हीविटामिन डी का निर्माण कम होने लगता है. इसके अलावा वायु प्रदूषण जो कि भारत में बहुत ज़्यादा है वो भी हमारे औरसूरज की रोशनी के बीच रुकावट का काम करता है और फिर सर्दियों में तो वैसे ही विटामिन डी का स्तर कम हो जाता है. इसीलिए भले ही भारत गर्म प्रदेशों में आता है लेकिन भारतीयों में विटामिन डी की कमी काफ़ी पाई जाती है. डॉक्टर संजीव गोयल द्वारा की गई एक स्टडी में पाया गया कि 76% भारतीय आबादी में विटामिन डी की कमी है, जिनमेंसे 18-30 वर्ष के लोग सबसे अधिक प्रभावित हैं, लगभग 82.5%. इस शोध पर एबॉट के मेडिकल डायरेक्टर डॉक्टर श्रीरूपा दास ने कहा है कि शोध से ये बात साफ़ हो जाती है कि सिर्फ़उम्रदराज़ लोगों में ही नहीं, युवाओं में भी विटामिन डी की कमी सोचनीय है. ये एक तरह से लोगों की सेहत के साथ जोखिमवाली बात है. विटामिन डी की कमी हृदय संबंधी रोग, डायबिटीज़, उच्च रक्तचाप, ऑस्टीओपरोसिस व अन्य हड्डियों से जुड़े रोगों को जन्म दे सकती है.  ऐसे में यह ज़रूरी हो जाता है कि विटामिन डी के महत्व के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाई जाए ताकि हर कोई इसमहत्वपूर्ण पोषक तत्व को प्राप्त करने की दिशा में क़दम उठा सके और स्वस्थ रह सके. यहां कुछ बेहद आसान टिप्स हैं जिन पर आप फ़ौरन अमल करके विटामिन डी का स्तर बढ़ाने की दिशा में क़दम उठासकते हैं. 1. सूर्य के प्रकाश में अधिक समय बिताएं  सबसे पहला समाधान यही है कि सूरज की रोशनी में अधिक देर तक रहें लेकिन ये भी ज़रूरी है कि आप सही समय परधूप लें जिससे सबसे अधिक लाभ मिले. दोपहर के समय 35-40 मिनट की सीधी धूप सबसे बेहतर होगी. आप अपनी छतया बाल्कनी का उपयोग कर सकते हैं, वो भी अपना लैपटॉप लेकर आप वहां काम भी जारी रख सकते हैं जिससे माहौल मेंभी बदलाव महसूस होगा... या आप ख़ाली समय में वहां कोई बुक पढ़ सकते हैं और इस तरह से आसानी से अपनी सेहतकी ज़रूरतों का भी ख़्याल रख सकते हैं. 2. बाहरी गतिविधियों को तवज्जो दें  आजकल की लाइफ़स्टाइल ने शारीरिक गतिविधियों को कम कर दिया है और इसी वजह से विटामिन डी का स्तर कम होरहा है और मोटापा भी बढ़ रहा है. नियमित रूप से वॉक, साइकल, योगा या अन्य कसरत करने से ना सिर्फ़ धूप के संपर्कमें अधिक रहेंगे बल्कि बनाने भी नियंत्रण में रहेगा और सेहत भी बनी रहेगी. हालाँकि आज जब लोग घर से काम कर रहे हैं और कम्प्यूटर व ऑनलाइन ही सारी मीटिंग्स होती हैं तो बाहर जाना इतनाआसान भी नहीं, इसलिए यहां कुछ विटामिन डी से भरपूर खाद्य पदार्थ हम दे रहे हैं जो आपकी मदद कर सकते हैं. 3. अपनी ग्रोसरी शॉपिंग लिस्ट में इन पदार्थों को शामिल करें  विटामिन डी के बेहतरीन स्रोत हैं ये- सालमन, टूना और सर्ड़िन जैसी मछलियां, कॉड लिवर ऑइल और झींगा. ये तमामपदार्थ ओमेगा-3 फैटी एसिड से भी भरपूर हैं. शाकाहारी लोगों को भी परेशान होने की ज़रूरत नहीं, क्योंकि मशरूम औरचीज़ भी विटामिन डी से भरपूर होते हैं. 4. अपने डॉक्टर से ज़रूर संपर्क करें ताकि आप सही दिशा की ओर बढ़ सकें …

बनाए अपने सेहत का पंचांग… (4 Steps To A Healthy Lifestyle)

यदि पंचांग की बात करें, तो उससे तात्पर्य यह होता है कि जहां ज्योतिष ग्रह, नक्षत्र द्वारा सौभाग्य, शुभ आदि…

हर तरह के वेजाइनल इंफेक्शन से बचने के लिए अपनाएं इंटिमेट हाइजीन ये 20+ बेहद कारगर टिप्स (20+ Intimate Hygiene Tips Which Will Protect You From All Types Of Vaginal Infection)

इंटिमेट हाइजीन का ख्याल रखना महिलाओं के लिए बेहद जरूरी है. इससे न केवल आप स्वच्छ और फ्रेश महसूस करने…

वर्ल्ड कैंसर डे: क्यों बढ़ रहा है भारत में कैंसर? कब रहें एलर्ट, क्या सावधानी बरतें?(World Cancer Day: Why are cancer cases on rise in India? Warning Signs And Prevention Guide)

पूरी दुनिया में ही नहीं, बल्कि हमारे देश में भी कैंसर तेज़ी से फैल रहा है. हालिया सर्वे के अनुसार भारत में…

कोविड टीकाकरण के प्रभावी मुहिम के लिए मज़बूत को-विन इकोसिस्टम की ज़रूरत है… (A strong Co-Win Ecosystem Is Needed For An Effective Campaign For Covid Vaccination…)

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए भारत ने वैक्सीन लगाने की मुहिम शुरू तो कर दी है, पर अब भी…

एयर प्यूरिफायर: साइंस कहता है शुद्ध हवा के साथ-साथ कई ऐसे हेल्थ बेनीफिट्स भी हैं, जिन्हें शायद ही आप जानते हों! (Amazing, Unknown And Unbelievable Health Benefits Of Air Purifiers, According To Science)

जैसे-जैसे हम तऱक्क़ी करते जा रहे हैं, वैसे-वैसे उसकी क़ीमत भी चुका रहे हैं. औद्योगिक विकास हो या फिर तकनीकी,…

15+ डेली हैबिट्स जो कर सकती हैं आपकी किडनी को डैमेज (15 + Common Habits That Can Damage Your Kidney)

ब्लड प्योरिफाई करने से लेकर बॉडी को डिटॉक्सीफाई करने और एसिड का संतुलन बनाए रखने जैसे बॉडी के कई महत्वपूर्ण…

भारत में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें? ये है रजिस्ट्रेशन का सही तरीका (How To Register For Corona Vaccination In India, This Is The Correct Method Of Registration)

भारत के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान का लाभ आप कैसे उठा सकते हैं? कोरोना वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें?…

शिशु को इन्फेक्शन से बचाने के स्मार्ट टिप्स.. (Smart Tips To Protect Your Baby From Infection..)

नई मांएं जहां अपने नन्हे शिशु को लेकर उत्साहित रहती हैं, वहीं शिशु की देखभाल को लेकर सचेत भी रहती…

मैमोग्राम से जुड़ी 11 बातें जो हर महिला को जाननी चाहिए… (Mammogram: 11 Things Every Woman Should Know…)

कैंसर को लेकर कई लोगों को कुछ भ्रम बना रहता है, ख़ासकर ब्रेस्ट कैंसर के मामले में. इसी से जुड़े…

© Merisaheli