रक्षाबंधन 2019: राखी बांधने का शुभ मूहुर्त-पूजा विधि-तिथि-महत्व (Rakshabandhan 2019: Right Time To Tie Rakhi)

रक्षाबंधन का ख़ास पर्व इस बार 15 अगस्त 2019 के दिन है. सबसे अच्छी ख़बर ये है कि रक्षाबंधन के दिन इस बार भद्रा काल…

रक्षाबंधन का ख़ास पर्व इस बार 15 अगस्त 2019 के दिन है. सबसे अच्छी ख़बर ये है कि रक्षाबंधन के दिन इस बार भद्रा काल नहीं होगा. ऐसा मौका कई साल बाद आ रहा है इसलिए इस बार रक्षाबंधन का त्योहार ख़ास रहने वाला है. रक्षाबंधन के शुभ पर्व को यदि सही तरीके से मनाया जाए तो उसका फल भी शुभकारी और मनोकामना पूरी करने वाला होता है. विधि-विधान से रक्षाबंधन किया जाए, तो इससे भाई की रक्षा होती है और भाई अपने जीवन में यश-कीर्ति प्राप्त करता है. इस साल राखी बांधने का शुभ मूहुर्त-पूजा विधि-तिथि और महत्व क्या है, ये बता रहे हैं ज्योतिष व वास्तु एक्सपर्ट पंडित राजेंद्र जी.

 

 

* इस बार राखी बांधने की समय अवधि लंबी रहेगी, जिसके कारण बहनें पूरे दिन राखी बांध पाएंगी. इस बार रक्षाबंधन के दिन यानी 15 अगस्त 2019 के दिन बहन अपने भाई को सुबह 05:49 बजे से लेकर शाम के 6:01 बजे तक राखी बांध सकती हैं.

* इस बार का रक्षाबंधन बहुत ख़ास रहने वाला है, क्योंकि इस साल रक्षाबंधन के दिन भद्रा काल नहीं होगा. ऐसा मौका कई साल बाद आ रहा है.

* रक्षाबंधन के शुभ पर्व को यदि सही तरीके से मनाया जाए तो उसका फल भी शुभकारी और मनोकामना पूरी करने वाला होता है.

यह भी पढ़ें: राशि के अनुसार चुनें करियर और पाएं सफलता (Astrology: The Best Career For Your Zodiac Sign)

 

ये है रक्षाबंधन का सही तरीका
* रक्षाबंधन के दिन सबसे पहले भाई-बहन उठकर स्नान आदि कार्य निपटा लें. फिर नए या साफ-सुथरे कपड़े पहनकर सूर्य देव को जल चढ़ाएं. फिर घर के मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना करें. ईश्‍वर की अराधना करने के बाद राखी बांधने से संबंधित सामान एकत्रित कर लें. इसके लिए चांदी, पीतल, तांबे या स्टील की कोई भी साफ थाली लें. उसमें एक सुंदर कपड़ा बिछा लें. उसमें एक कलश, नारियल, सुपारी, कलावा, रोली, चंदन, अक्षत, दही, राखी और मिठाई रख लें. थाली में भाई की आरती उतारने के लिए घी का दीपक भी रखें. अब यह थाल पहले भगवान को समर्पित करें, कृष्ण भगवान और गणेश जी को राखी अर्पित करें. भगवान को राखी अर्पित करने के बाद शुभ मुहूर्त देख भाई को पूर्व या उत्तर की तरफ मुंह करवाकर बिठाएं. फिर भाई को पहले तिलक लगाएं, फिर राखी यानी रक्षा सूत्र बांधें और भाई की आरती करें. इस बात का ध्यान रखें कि राखी बांधते समय भाई का सिर किसी कपड़े से ढका होना चाहिए.

राखी बांधते समय बहन भाई की लंबी उम्र के लिए इस मंत्र का उच्चारण कर सकती हैं :

येन बद्धो बलि राजा, दानवेन्द्रो महाबल: ।
तेन त्वां मनुबध्नामि, रक्षे मा चल मा चल ।।

 

 

इसके बाद भाई को मुंह मिठा करें. रक्षा सूत्र बंधवाने के बाद बड़ों का आशीर्वाद लें. इसके बाद भाई अपनी बहन को अपनी श्रद्धा अनुसार उपहार दें.

यह भी पढ़ें: अपनी राशि के अनुसार कौन सा रत्न पहनें जिससे हो भाग्योदय (Zodiac Birthstones: Gemstones You Should Wear According To Your Zodiac Sign)
Share
Published by
Kamla Badoni

Recent Posts

बॉलीवुड एक्ट्रेसेस जो हॉटनेस के लिए बल्कि क्यूटनेस और इनोसेंट लुक्स के लिए जानी जाती हैं. (Top 10 Cutest Actresses Of Bollywood)

यूं तो ग्लैमर इंडस्ट्री में हर कोई सेक्सी और हॉट लगना चाहता है लेकिन कुछ…

लव स्टोरी- केसरिया रंग रंगा रे मन… (Love Story- Kesariya Rang Ranga Re Maan…)

ढलती शाम के आसमान में छाया केसरिया रंग मुझे बेहद प्रिय है. किस उम्र में…

करिश्मा कपूर अपनी इस बहन से करती हैं नफरत, ये है असली वजह (Kapoor Sisters Karishma Kapoor And Riddhima Kapoor Don’t Like Each Other)

कपूर खानदान की दो बेटियों की आपस में नहीं बनती और ये कोई नई बात…

टेलीविजन की 10 ऐक्ट्रेसेस, जिनकी पहली शादी रही बुरी तरह फेल, मिला बुरी तरह धोखा (10 Television Actresses Who Had failed marriages, Ugly breakups)

टीवी की कई एक्ट्रेसेस हैं, जिन्हें अपने को स्टार को देखते ही प्यार हुआ और…

© Merisaheli