Short Stories

मेरी सहेली की कहानी (Kahani) भावनाप्रधान, रोमांटिक (Romantic) व मर्मस्पर्शी होती हैं. ये ऐसी हिंदी कहानियां (Hindi Kahaniya) हैं, जो जीने की प्रेरणा देने के साथ-साथ हमें आत्मनिर्भर व आत्मविश्‍वासी भी बनाती हैं

लघुकथा- मां का प्रेम (Short Story- Maa Ka Prem)

पक्षी को देख कर साफ़ लग रहा था कि उसने उड़कर जान बचाने की कोशिश नही की थी. यह देखकर…

कविता- भूख (Poem- Bhukh)

सामने दलिया या खिचड़ी के आते ही तलाशने लगती उसकी सूखी आंखें अचार के किसी मर्तबान या स्टोर रूम के…

कविता- करवा चौथ (Poetry- Karwa Chauth)

जीवन की आपाधापी में शौक सिंगार का सोया सा फिर पुलक उठा, मुस्काया सखी फिर करवा चौथ आया दीवान के…

रंग तरंग- भूखे इश्क़ न होत सजना… (Satire- Bhukhe Ishq Na Hot Sajna…)

''सिया उठो, सरगी का टाइम हो गया, मां बुला रही हैं.'' मैंने जान-बूझकर करवट ले ली. मन ही मन भगवान…

कहानी- बेड़ियां (Short Story- Bediyan)

"घर नहीं मां, मकान! और आप प्लीज़ इतना भावुक मत हुआ करिए पुरानी चीज़ों को लेकर… यादें कभी-कभी बेड़ियां हो…

लघुकथा- प्रतीक्षा (Short Story- Pratiksha)

पहले करवा चौथ में मां ने उसकी हर भाभी को फलाहार करने की प्रेरणा दी थी. पर एक दिन भूख…

लघुकथा- विरासत… (Short Story- Virasat…)

क्या करें बेटी ये दौर ही कुछ ऐसा है कि बाहर दिखावे के लिए शिक्षा, आधुनिकता और समानता का चकाचौंध…

अकबर-बीरबल की कहानी: हथेली पर बाल क्यों नहीं उगते? (Akbar-Birbal Story: Why Is There No Hair On The Palm?)

एक दिन बादशाह अकबर के दरबार की कार्यवाही चल रही थी कि अचानक बादशाह को न जाने क्या सूझी और…

लघुकथा- शरद पूर्णिमा (Short Story- Sharad Purnima)

शीतल, मंद, सुगंधित पवन यों लहरा रही थी मानो शरीर को गुदगुदाते हुए आत्मा में उतर जाना चाहती हो. दादी…

लघुकथा- मुखौटा (Laghukatha- Mukhauta)

"ओ हो, बडी गर्मजोशी के साथ ख़ातिरदारी हो रही है." इलू ने उसे छेड़ा. अनु बोली, "हां, हां उनके पति…

कहानी- नहले पे दहला (Short Story- Nahle Pe Dahla)

वकील साहब आज बाऊजी की वसीयत पढ़नेवाले थे यानी आज उनकी विरासत का बंटवारा होना था. सबके अंतर्मन में बहुत…

व्यंग्य- मैं और मेरा किचन (Vyangy- Main Aur Mera Kitchen)

इस किचन के बाहुपाश से निकलना बड़ा ही मुश्किल है. किसी ने कहा है कि व्यक्ति के दिल का रास्ता…

© Merisaheli