Health

वर्टिगो- बैलेंस डिसऑर्डर: खोया संतुलन फिर से पाएं, वर्टिगो से छुटकारा पाने के लिए इसे मैनेज करने के सही तरीक़े अपनाएं… (Regain Balance: Effective Management of Vertigo Is Important)

वर्टिगो, कानों के अंदरूनी हिस्से की समस्याओं से होने वाला एक बैलेंस डिसऑर्डर है, इससे पूरी दुनिया में 10 में…

डेंटल केयरः बच्चों को कैसे रखें कैविटी से दूर (Dental Care: 5 Ways To Prevent Cavities In Children)

चॉकलेट, आइसक्रीम, बिस्किट आदि से बच्चों को दूर रखना बहुत मुश्किल है. हर पल उनपर नज़र रखना आपके लिए आसान…

गरम पानी पीने के 10 हेल्थ बेनीफिट्स (10 Amazing Health benefits of drinking hot water)

हेल्दी रहने के लिए शरीर को हाइड्रेटेड रखने और ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीने की सलाह दी जाती है, लेकिन…

रोज़ पीएं ये डिटॉक्स वॉटर, वेटलॉस के अलावा मिलेंगे कई और फायदे (Drink These Detox Water Daily, It Helps In Weight Loss And Has Many Health Benefit Too)

यदि आप हेल्दी तरीके से वेट लॉस करना चाहते हैं, तो ज़रूरी है बॉडी को डिटॉक्स और क्लींज़ करना. ये…

डेली रूटीन में अपनाएं ये होम रेमेडीज़, हमेशा रहेंगे फिट और हेल्दी (Try These Home Remedies In Daily Routine To Stay Fit And Healthy)

हेल्दी और फिट रहने के लिए आपको अलग से कुछ बड़ा प्लान करने की ज़रूरत नहीं, बल्कि छोटे-छोटे स्टेप्स अपने डेलीरूटीन में फ़ॉलो करेंगे तो हमेशा फिट और हेल्दी रहेंगे.  सुबह समय से उठने का नियम बनाएं. अपने दिन की शुरूआत बेहतर करें. पॉज़िटिव माइंड के साथ अपनी दिनचर्या को हेल्दी रखें.सबसे पहले एक ग्लास गुनगुना पानी पीएं.अगर नींबू और शहद मिलाकर पानी पिएं तो भी अच्छा है.हेल्दी ऑयल्स को अपने डायट में शामिल करें. रोज़ सुबह 1 टीस्पून फिश ऑयल लेना भी काफ़ी हेल्दी होता है.डेली आधा घंटा एक्सरसाइज़, योग या वॉक ज़रूर करें.ब्रेकफ़ास्ट ज़रूर करें क्योंकि आपको हेल्दी व  फिट बनाए रखने में इसका बहुत बड़ा हाथ है. रिसर्च बताते हैं कि जोलोग नाश्ता करते उन्हें डायबिटीज़ का ख़तरा नाश्ता ना करनेवालों की तुलना में कम रहता है. इसके अलावा जो लोग नाश्ता नहीं करते उनकी वेस्ट लाइन यानी कमर नाश्ता करनेवालों की तुलना में अधिक होतीहै, क्योंकि हेल्दी ब्रेकफ़ास्ट आपको मीठा और  जंक फ़ूड खाने की क्रविंग्स से बचाता है. रोज़ाना भरपूर पानी पीएं. ये बॉडी को टॉक्सिन फ्री रखने में मदद करता है.इसके अलावा पानी का एक और हेल्थ बेनीफिट ये भी है कि यदि आपको सिर दर्द हो रहा है तो थोड़े-थोड़े अंतरालपर पानी पीते रहें, इससे आपकी बॉडी हाइड्रेट रहेगी और सिर दर्द में भी राहत मिलेगी.छोटी-मोटी तकलीफ़ों में पेन किलर्स लेने की बजाय घरेलू नुस्ख़े आज़माएं. गले में ख़राश, दर्द या खांसी है तो चुटकीभर दालचीनी पाउडर शहद में मिलाकर चाटें.दालचीनी पाउडर लेकर ऊपर से पानी पीने से सिर दर्द में भी आराम मिलता है.आप इसे सलाद, चाय या दही में भी मिक्स करके ले सकते हैं, ये वेट लॉस में भी मदद करता है. फेफड़ों में कफ जमा हो जाए तो गुनगुने सरसों के तेल में सेंधा नमक मिलाकर छाती की मालिश करें. सरसों के तेल में लहसुन की कलियां मिलाकर भी मालिश करने से आराम मिलता है. माइग्रेन या सामान्य सिर दर्द में भी सेब पर नमक बुरककर खाने से राहत मिलती है.इतना ही नहीं, सेब में एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं, जो पेट के स्वास्थ्य के लिए भी अच्छे माने जाते हैं. सेब फाइबर का अच्छा स्रोत भी है और गुड बैक्टीरिया को पनपाने में भी मदद करता है. अपना आहार संतुलित व पौष्टिक रखें. मौसमी फल और सब्ज़ियां ज़रूर खाएं. हर रंग के फल व सब्ज़ियां खाएं.पपीते में विटामिन ए, बी और सी और कई तरह के एन्ज़ाइम्स होते हैं, जो खाने को डायजेस्ट करने में मदद करतेहैं. स्टडीज़ बताती हैं कि पपीता खाने से डायजेस्टिव सिस्टम में सुधार होता है. ग्रीन टी को अपने रूटीन में शामिल करें. बहुत ज़्यादा नमक और मीठा खाने से बचें.बहुत ज्यादा चाय-कॉफी या अल्कोहल से बचें.हेल्दी रहने के लिए अपने डायट में प्रोटीन, फ़ाइबर, कैल्शियम और फ़ैटी एसिड्स शामिल करें.केले में फाइबर और पेक्टिन भरपूर मात्रा में होता है, जो आंतों के स्वास्थ्य के लिएबहुत फायदेमंद होता है. दूध, छाछ, दही, ग्रीन लीफी यानी हरी पत्तेदार सब्ज़ियों को ज़रूर लें.फिश ब्रेन हेल्थ के लिए काफ़ी फायदेमंद है. अगर आप नॉन वेज खाते हैं तो फिश को डायट में शामिल करें.अगर आप नॉन वेज नहीं खाते तो अखरोट का सेवन करें. ये भी ब्रेन हेल्थ के लिए काफ़ी लाभकारी है.खाना खाने के कुछ देर बाद लेमन शॉट लें. ये आपकी पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है. हेल्दी स्नैकिंग करें. ड्राई फ़्रूट्स, सलाद, सूप्स, ब्राउन ब्रेड सैंडविच, सूखा भेल आदि लें. ड्राई फ़्रूट्स और फ़्रूट सलाद में एक बात का ध्यान रखें कि अगर आपकी फ़िज़िकल एक्टिविटी कम है तो ड्राई फ़्रूट्सऔर शुगरी फ़्रूट्स कम लें या फिर शाम को 6-7 बजे se पहले ही खा लें.खाने के फ़ौरन बाद पानी न पिएं. डिनर भी सोने से 3-4 घंटे पहले ही कर लें. नींद पूरी लें. रिलैक्स होकर सोएं. सोने से पहले मीठा दूध पिएं. अगर नींद की समस्या है तो सोते समय सारे विचारमन से निकालकर मंत्र का जाप करें. अपना ध्यान सांस पर केंद्रित रखें. सिर से लेकर पैर तक शरीर को रिलैक्स कर दें. कहते हैं पेट ठीक रहेगा तो पूरा शरीर सही रहेगा इसलिए अपने पाचन तंत्र को ठीक रखने की कोशिश करें. इसी तरह अपनी इम्यूनिटी को भी बेहतर बनाने की तरफ ध्यान दें. संतरा, नींबू, टमाटर, बेरीज़, अंगूर, गाजर, मेथी, पालक- ये सभी इम्यूनिटी बूस्टर फूड्स हैं. साथ ही शहद, तुलसी, गिलोय, सीड्स, ओट्स, बींस, दालें भी आपको हेल्दी रखते हैं- इनको अपने डायट में शामिल करें.लहसुन, अदरक, शकरकंद, मशरूम,  विटामिन डी, दही आदि भी इम्यूनिटी बूस्ट करते हैं.योगासन, प्राणायाम और मेडिटेशन भी इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाते हैं. गोल्डी शर्मा 

हेल्दी और फिट रहना है, तो बचें इन हेल्दी चीज़ों के ओवर डोज़ से… (Stop Overdoing These 11 Healthy Habits To Stay Fit And Healthy)

हेल्दी और फिट रहने के लिए हेल्दी आदतों का होना अच्छी बात है, लेकिन जब यही अच्छी आदतें हद से ज़्यादा बढ़कर सनक बन जाती हैं तो आपको फिट रखने की बजाय नुक़सान ही ज़्यादा पहुंचाती हैं. ऐसे में बेहतर होगा कि कुछ चीज़ों केओवर डोज़ से बचा जाए…  बहुत ज़्यादा डायटिंग करना: अपने बढ़ते वज़न पर नज़र रखना और उसको कंट्रोल में रखने के लिए डायटिंग करना अच्छी बात है, लेकिन जब ये डायटिंग हद से ज़्यादा बढ़ जाती है तो वो आपको फिट और स्लिम रखने की बजाय कमज़ोर करने लगती है. कुछ लोग पतले बने रहने के चक्कर में खाना-पीना ही बंद कर देते हैं, जबकि डायटिंग का मतलब खाना बंद करना नहीं होता, बल्कि अनहेल्दी खाने को हेल्दी खाने से रिप्लेस करना होता है. लेकिन जब आप खाना एकदम ही कमकर देते हो, तो शरीर में पोषण की कमी होने लगती है और आप कमज़ोर होकर कई हेल्थ प्रॉब्लम्स से घिर जाते हो. बहुत ज़्यादा एक्सरसाइज़ करना: फिट रहने के लिए एक्सरसाइज़ करना बहुत ही हेल्दी हैबिट है, लेकिन ओवरएक्सरसाइज़ से आपको फ़ायदा कम और नुक़सान ज़्यादा होगा. यह न सिर्फ़ आपको थका देगी, बल्कि इससे आपकीमसल्स या बॉडी डैमेज तक हो सकती है. हेवी वर्कआउट के बाद बॉडी को रेस्ट की भी ज़रूरत होती है, वरना शरीर थकजाएगा और आप ऊर्जा महसूस नहीं करेंगे.  बहुत ज़्यादा सप्लीमेंट्स खाना: कुछ लोगों की आदत होती है कि वो अपनी हेल्थ को लेकर ज़्यादा ही सोचते हैं और इसओवर कॉन्शियसनेस की वजह से खुद को फायदे की बजाय नुक़सान पहुंचा लेते हैं. बिना किसी सलाह के सिर्फ़ यहां-वहांसे पढ़कर या किसी की सलाह पर सप्लीमेंट्स खाना आपको गंभीर रोगों के ख़तरे तक पहुंचा सकता है. अगर आप फिट हैंऔर हेल्दी खाना खाते हैं तो सप्लीमेंट की ज़रूरत ही क्या है. इसी तरह से जो लोग बहुत ज़्यादा मल्टी विटामिंस लेते हैं उन्हेंकैंसर का ख़तरा अन्य लोगों की तुलना में अधिक होता है, क्योंकि इनके अधिक सेवन से कोशिकाओं का सामान्य निर्माणक्रम प्रभावित होकर रुक जाता है. अगर आप विटामिन सी अधिक मात्रा में लेते हैं, तो डायरिया का ख़तरा बढ़ जाता है, इसी तरह बहुत ज़्यादा विटामिन बी6 नर्व को डैमेज कर सकता है और अगर गर्भावस्था में विटामिन ए की अधिकता हो गईतो उससे बच्चे में कुछ बर्थ डिफ़ेक्ट्स हो सकते हैं. बेहतर होगा जो भी खाएं सीमित और संतुलित मात्रा में ही खाएं. पानी बहुत ज़्यादा पीना: पानी सबसे हेल्दी और सेफ माना जाता है, लेकिन अति किसी भी चीज़ की अच्छी नहीं होती. बहुतज़्यादा पानी पीने से रक्तप्रवाह में सोडियम को पतला कर देता है, जिससे मस्तिष्क की कार्य प्रणाली बिगड़ सकती है औरयहां तक कि व्यक्ति की मौत भी हो सकती है. इस अवस्था को हाईपोरिट्रेमिया कहते हैं जो उन लोगों में अधिक पाई जातीहै, जो खुद को बहुत ज़्यादा हाइड्रेट करते हैं, जैसे- एथलीट्स वग़ैरह. इसी तरह जिन लोगों को कुछ मेडिकल कंडिशन होतीहै उनको भी ज़्यादा पानी मना है, जैसे- कोरॉनरी हार्ट डिसीज़ वालों को अधिक पानी के सेवन से बचना चाहिए. दरअसलआपके शरीर को जब भी किसी चीज़ की ज़रूरत होती है, तो वो खुद ही आपको सिग्नल दे देता है, इसीलिए जब शरीर कोपानी की ज़रूरत होती है, तो आपको प्यास लगती है, लेकिन कुछ लोगों की आदत ही होती है कि वो बिना सोचे-समझेगिन-गिनकर नाप-तोलकर ज़बर्दस्ती पानी पीते रहते हैं ये सोचकर कि इससे उनका पाचन अच्छा होगा और स्किन भी ग्लोकरेगी.  शुगर की जगह आर्टिफ़िशियल स्वीटनर का ज़्यादा प्रयोग: माना शुगर कम करना हेल्दी हैबिट है, लेकिन इसकी जगह आर्टिफ़िशियल स्वीटनर का ही इस्तेमाल करना शुरू देना वज़न कम करने की बजाए बढ़ाता है. इसके अलावा शुगर काएकदम ही प्रयोग बंद करने से आपका शुगर लेवल कम होकर कमज़ोरी का एहसास कराएगा. ऊर्जा के लिए शुगर भी ज़रूरी है.  दांतों को बहुत ज़्यादा और देर तक ब्रश करना: कई लोगों की ये मान्यता है कि दांतों को जितना घिसेंगे, वो उतने हीचमकेंगे. लेकिन बहुत ज़्यादा देर तक ब्रश करने से आप दांतों के इनामल को नुक़सान पहुंचाते हैं और साथ ही मसूड़े भीडैमेज होते हैं इससे. बेहतर होगा सॉफ़्ट ब्रिसल्स वाला टूथ ब्रश यूज़ करें और बहुत ज़ोर लगाकर ब्रश न करें. हेल्दी फल व सब्ज़ियों का ज़्यादा सेवन: चाहे फल हों या सब्ज़ियां या कोई भी हेल्दी फूड उनका ज़रूरत से ज़्यादा सेवन भीख़तरनाक हो सकता है. हरी सब्ज़ियां जहां आपका पर अपसेट कर सकती हैं, वहीं गाजर से आपको ऑरेंज स्किन कीसमस्या हो सकती है. इसी तरह इन दिनों ऑलिव ऑइल भी बहुत पॉप्युलर है लेकिन इसके ज़्यादा प्रयोग से आप सिर्फ़अधिक कैलरीज़ और फ़ैट्स ही बढ़ाएंगे.  साबुन-पानी की बजाय बहुत ज़्यादा सैनिटायज़र का इस्तेमाल: माना आज COVID के चलते सैनिटायज़र बेहद ज़रूरीऔर मस्ट हैव प्रोडक्ट बन चुका है, लेकिन अगर आप घर पर हैं और साबुन से हाथ धोने का ऑप्शन है तो बेहतर होगा कि साबुन-पानी का उपयोग करें, क्योंकि सैनिटायज़र के अत्यधिक इस्तेमाल से कीटाणु, वायरस और बैक्टीरीया अपनीप्रतिरोधक शक्ति उसके ख़िलाफ़ बढ़ा लेते हैं और फिर एक समय के बाद सैनिटायज़र उनके ख़िलाफ़ अपना असर खोदेता है. बहुत ज़्यादा सोना: यह सच है कि अच्छी और गहरी नींद बेहतर स्वास्थ्य के लिए बेहद ज़रूरी है. साथ ही हेल्दी स्किन केलिए भी आपकी ब्यूटी स्लीप वरदान है, लेकिन अगर आप ये सोचकर ज़रूरत से ज़्यादा ही सोते हैं तो आप सिर्फ़ मोटापेऔर हेल्थ समस्याओं को न्योता देंगे. शोध बताते हैं कि ज़्यादा सोने से बहुत सी हेल्थ समस्या हो सकती हैं.  सोया का बहुत ज़्यादा सेवन: माना ये प्रोटीन का बेहतरीन स्रोत है और काफ़ी हेल्दी माना जाता है, लेकिन स्टडीज़ बतातीहैं कि इसके ज़्यादा इस्तेमाल से रिप्रोडक्टिव सिस्टम कर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. घी-तेल बंद कर देना: माना इनमें फैट्स होता है और इनका बहुत ज़्यादा सेवन नुक़सान करता है, लेकिन देसी घी स्वास्थ्यके लिए और शरीर में नमी बनाए रखने के लिए ज़रूरी है. सीमित मात्रा में इनका प्रयोग ज़रूर करें, वर्ना शरीर भीतर से तोड्राई होगा ही, आपकी स्किन और बाल भी ड्राई होते जाएंगे. बेहतर होगा अच्छे घी और तेल का इस्तेमाल संतुलित मात्रा मेंकरें और वैसे भी गुड फ़ैट्स तो हेल्दी रहने के लिए बहुत ज़रूरी है, इनसे वज़न को कंट्रोल में रखने के लिए मदद ही मिलती.  हनी…

75+ हाइजीन हैबिट्स, जो करेंगे इन्फेक्शन और वायरस से आपकी सुरक्षा और रखेंगे आपको बीमारियों से दूर(75+ Good Hygiene Habits which will Reduce the Spread of Infections and Viruses And Keep You Healthy)

अगर खुद को और अपने परिवार को बीमारियों से दूर रखना चाहते हैं, हेल्दी-हैप्पी रहना चाहते हैं, तो बेहद ज़रूरी…

शरीर की सूजन दूर करने के लिए क्विक एंड इफेक्टिव होम रेमेडीज़(Quick Home Remedies For Swollen Feet, Ankles, Face And Body)

सूजन अपने आपमें कोई बीमारी नहीं है, लेकिन ये शरीर में किसी असामान्यता या बीमारी का संकेत हो सकती है.…

एक्‍सपायरी डेट ही नहीं, दवाएं ख़रीदते समय रखें इन बातों का भी ख़्याल, वरना हो सकता है धोखा (From expiry date, storing medicines to buying medicine online, things to keep in mind while buying medicine)

मेडिकल स्टोर से दवाएं ख़रीदते समय अक्सर हम लापरवाही बरतते हैं, जो कई बार ख़तरनाक भी साबित हो सकती है.…

सर्दी-ज़ुकाम से तुरंत राहत पाने के इफेक्टिव घरेलू नुस्ख़े (Effective Home Remedies For Cold And Cough)

ठंड हवाओं ने दस्तक दे दी है. मौसम ने मिज़ाज बदल दिया है. और मौसम के बदलते सेहत भी बिगड़ने…

© Merisaheli