Categories: FILMEntertainment

बॉलीवुड के ये टॉप एक्टर्स अपने लुक की वजह से शुरुआत में झेल चुके हैं रिजेक्शन (Top Bollywood Actors Who Faced Rejection Due To Their Looks In The Beginning)

बॉलीवुड में कई एक्टर्स ऐसे हैं, जो आज बेहद सक्सेसफुल हैं, लेकिन करियर की शुरुआत में इन एक्टर्स को अपने लुक्स, फ़िज़िक और स्किन कलर…

बॉलीवुड में कई एक्टर्स ऐसे हैं, जो आज बेहद सक्सेसफुल हैं, लेकिन करियर की शुरुआत में इन एक्टर्स को अपने लुक्स, फ़िज़िक और स्किन कलर की वजह से काफी रिजेक्शन झेलना पड़ा था. लेकिन इन्होंने अपने लुक्स को अभी खुद पर हावी नहीं होने दिया, अपने टैलेंट पर यकीन किया और आज बेहद सक्सेसफुल हैं.

राजकुमार राव

राजकुमार राव की गिनती आज बॉलीवुड के टॉप एक्टर्स में होती है. वो एक से बढ़कर एक कई बेहतरीन मूवीज कर चुके हैं और नेशनल अवॉर्ड से भी सम्मानित हो चुके हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि यहां तक पहुंचना राजकुमार राव के लिए इतना आसान नहीं था. करियर की शुरुआत में राजकुमार राव अपने लुक्स की वजह से कई बार भी रिजेक्शन झेल चुके हैं. शुरुआत में ऑडिशन के बाद कई डायरेक्टर्स ने उनसे कहा कि हीरो के रोल के लिए जो फ़िज़िक या लुक्स चाहिए वो उनके पास नहीं है, लेकिन उन्होंने सबको झुठला दिया और आज अच्छे एक्टर्स के तौर पर अपनी पहचान बना चुके हैं.

मनोज बाजपेयी

इस लिस्ट में मनोज बाजपेयी का नाम सबसे टॉप पर है. एक से बढ़कर एक ब्लॉक बस्टर परफॉर्मेंस देने के बाद भी इस नेशनल अवार्ड विनिंग एक्टर को इंडस्ट्री में वो प्यार या जगह नहीं मिली, जो मिलनी चाहिए थी. एक इंटरव्यू के दौरान मनोज बीपी कि फ़िल्म जुबैदा में अवॉर्ड विनिंग परफॉर्मेंस के बाद भी उन्हें अपने लुक के लिए नेगेटिव कमेंट्स सुनने पड़े थे. कुछ क्रिटिक्स ने यहां तक कहा था कि फ़िल्म में वो प्रिंस जैसे बिल्कुल नहीं लगे. इस सबसे मनोज को तब बहुत बुरा लगा था, लेकिन आज मनोज बाजपेयी खुद को एक बेहतरीन एक्टर के तौर पर प्रूव कर चुके हैं और उन्होंने उन सबको गलत ठहरा दिया है, जो कहते थे कि एक साधारण चेहरे वाला सक्सेसफुल एक्टर नहीं बन सकता.

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी बॉलीवुड के मंजे हुए एक्टर हैं. उनकी एक्टिंग के सभी दीवाने हैं. लेकिन डार्क कॉम्प्लेक्शन की वजह से उन्हें भी शुरुआत में काफी रिजेक्शन झेलना पड़ा. एक कास्टिंग डायरेक्टर ने तो एक इंटरव्यू में यहां तक कह दिया कि नवाज़ुद्दीन के डार्क कॉम्प्लेक्शन की वजह से उन्हें फ़िल्म में सभी डार्क कॉम्प्लेक्शन वाले एक्टर्स को लेना पड़ा. हालांकि नवाज़ुद्दीन कहते है कि वो कभी अपने कॉम्प्लेक्शन पर ध्यान ही नहीं देते. उनका पूरा फोकस सिर्फ एक्टिंग पर होता है. शायद यही वजह है कि वो खुद को बतौर एक्टर साबित कर पाए हैं.

रणवीर सिंह

आपको यकीन नहीं होगा, लेकिन रणवीर सिंह को भी करियर की शुरुआत में अपने स्किन कलर की वजह से रिजेक्शन झेलना पड़ा था. ये बात एक इंटरव्यू में खुद रणवीर ने बताया था कि उन्हें कई बार ये कहकर रिजेक्ट कर दिया गया था कि वो गुड लुकिंग नहीं हैं और उनमें हीरो मटेरियल नहीं है. इस वजह से उन्हें फिल्में भी नहीं मिलती थीं. लेकिन अपने टैलेंट के बल पर आज रणवीर हर बड़े बैनर के साथ काम कर रहे हैं.

आदिल हुसैन

आदिल हुसैन अपने खास लुक और बेहतरीन एक्टिंग के ज़रिए इंडस्ट्री में अपनी जगह बना चुके हैं. आदिल हुसैन ने अपने के इंटरव्यू में स्किन कलर को लेकर हो रहे डिस्क्रिमिनेशन पर बात की है. उनका कहना है कि स्किन कलर को लेकर अब लोगों की सोच बदल रही है, लेकिन ये बदलाव बहुत धीमा है. वो चाहते हैं कि सिनेमा के ज़रिए भी हम इस बदलाव में योगदान दें. वो ऐसा इसलिए कहते हैं क्योंकि स्किन कलर की वजह से वो भी काफी रिजेक्शन झेल चुके हैं.

बिपाशा बसु

बिपाशा बसु को उनके स्किन कलर की वजह से इंडस्ट्री में ही नहीं, बल्कि बचपन में रिश्तेदारों के भी ताने सुनने पड़े. यहाँ तक कि बॉलीवुड में सक्सेस पाने के बाद भी उनके नाम के साथ डार्क एंड हॉट जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया जाता था. इतना ही नहीं करीना ने तो एक बार उन्हें काली बिल्ली तक कह दिया था. लेकिन बिपाशा ने कभी अपने कॉम्प्लेक्शन की वजह से अपना कॉन्फिडेंस कम नहीं होने दिया और उन्होंने हमेशा कहा कि मेरा स्किन कलर मुझे डिफाइन नहीं करता. मुझे ये पसंद है और मैं इसे नहीं बदलना चाहती.




Recent Posts

कहानी- पहला सबक (Short Story- Pahla Sabak)

वह सोच रही थी, ‘वरदान ने आज से पहले तो कभी इतनी लंबी चुप्पी नहीं…

© Merisaheli