मोबाइल से पेमेंट करते समय अपनाएं ये 10 सेफ्टी टिप्स (10 Must Follow Tips For Safe Mobile Payments)

टेक्नोलॉजी के दौर में स्मार्टफोन का इस्तेमाल सिर्फ बातचीत या वेब ब्राउज़िंग तक ही सीमित नहीं रह गया है. पेमेंट व मनी ट्रांसफर करने के लिए पहले आपको घंटों लाइनों में लगना पड़ता था, लेकिन अब आप उन्हीं कामों को मिनटों में स्मार्टफोन की सहायता से निपटा सकते हैं मोबाइल पेमेंट ऐप के ज़रिए, लेकिन क्या आप जानते हैं कि मोबाइल द्वारा भुगतान करते समय आपको सतर्क रहने की ज़रूरत है, आइए जानें कैसे?

 

 

1. सार्वजनिक वाई-फाई का उपयोग न करें

अगर आप सार्वजनिक वाई-फाई का इस्तेमाल करके अपने मोबाइल द्वारा के्रडिट कार्ड की सूचनाएं, जैसे- बैंक अकाउंट नंबर, पिन नंबर आदि मेन्युली टाइप कर रहे हैं या फिर कार्ड स्वाइप करके दर्ज़ कर रहे हैं, तो आपका डाटा लीक होने की संभावना हो सकती है, क्योंकि आपको यह पता नहीं होता है कि आप जिस वाई-फाई रूट से भुगतान कर रहे हैं, वो सेफ डाटा सोर्स है या नहीं. इसलिए सार्वजनिक जगहों पर उपलब्ध वाई-फाई का उपयोग मोबाइल द्वारा भुगतान करने के लिए न करें.
इसके अलावा सार्वजनिक वाई-फाई द्वारा मोबाइल पेमेंट करने से हैकर्स के लिए आपका पासवर्ड/पिन हैक करना आसान हो जाएगा.

2. पासवर्ड स्ट्रॉन्ग होना चाहिए: अगर आप अपने मोबाइल का इस्तेमाल वित्तीय

लेन-देन करने के लिए करते हैं, तो इस बात का ध्यान रखें कि आपका पासवर्ड स्ट्रॉन्ग हो, जिसे कोई आसानी से हैक न कर सके. पासवर्ड बनाते समय अपनी व्यक्तिगत जानकारियां, जैसे- जन्म तिथि, फ्लैट नंबर, मोबाइल नंबर, गली/रोड का नाम, बच्चों के नाम के अलावा ऐसा कोई भी नंबर, जो आपसे जुड़ा हो- उसे पासवर्ड में न डालें. इन जानकारियों को हासिल करना हैकर्स के लिए बहुत आसान होता है.
सुरक्षा की दृष्टि से आजकल स्मार्टफोन में अनेक सुविधाएं दी जाती हैं, जैसे- चेहरे की पहचान, फिंगर प्रिंट अनलॉक आदि.
इन सुविधाओं के द्वारा भी आप अपने पासवर्ड/पिन को सुरक्षित रख सकते हैं.

3. अनऑथोराइज़ ऐप डाउनलोड करने से बचें

पेमेंट और मनी ट्रांसफर करने के लिए कोई भी अनऑथोराइज़ ऐप डाउनलोड न करें. अगर आपने कोई अनऑथोराइज़ या फर्ज़ी ऐप
डाउनलोड किया है, तो आपके वन टाइम पासवर्ड का ग़लत इस्तेमाल हो सकता है. इसलिए किसी ऐप को डाउनलोड करने से पहले उसकी विश्‍वसनीयता की जांच अच्छी तरह कर लें.

4. केवल विश्‍वसनीय ऐप ही डाउनलोड करें

अगर आप किसी विश्‍वसनीय ऐप में अपनी भुगतान संबंधी जानकारी शेयर करते हैं, तो अपने मोबाइल पर डाउनलोड किए गए अन्य ऐप के बारे में सावधान रहें, क्योंकि इनमें कुछ स्पाइवेयर हो सकते हैं, जो भुगतान संबंधी जानकारी को कैप्चर करने के लिए डिज़ाइन किए जाते हैं और हैकर्स इनका फ़ायदा उठा सकते हैं.

यह भी पढ़ें: ‘वाहन’ से जानें किसी भी वाहन की जानकारी

5. सुरक्षित पेमेंट ऐप यूज़ करें

अगर आप अपने स्मार्टफोन में भुगतान संबंधी जानकारी जोड़ना चाहते हैं, तो स्वयं के मोबाइल में मौजूद सॉफ्टवेयर (एप्पल पे या एंड्रॉइड पे) का इस्तेमाल करें. मोबाइल में मौजूद सॉफ्टवेयर में विश्‍वसनीयता की गारंटी होती है. इसके अलावा प्रतिष्ठित और आधिकारिक मोबाइल भुगतान ऐप कंपनियां आपके क्रेडिट कार्ड विवरण को संग्रहित करके नहीं रखती हैं.

6. केवल एक पेमेंट ऐप का इस्तेमाल करें

भुगतान करने के लिए अपने मोबाइल पर अनेक पेमेंट ऐप डाउनलोड करने की ग़लती न करें. ध्यान रखें कि आप जो भी पेमेंट ऐप डाउनलोड करते हैं, वे सुरक्षित व विश्‍वसनीय होना चाहिए. बहुत सारे पेमेंट ऐप का इस्तेमाल एक साथ करने से डाटा लीक होने की संभावना हो सकती है.

7. ऑफिशियल ऐप स्टोर से डाउनलोड करें

अगर आप अपने मोबाइल में पेमेंट ऐप डाउनलोड करने की सोच रहे हैं, तो ऑफिशियल ऐप स्टोर, जैसे- गूगल प्ले स्टोर, एप्पल प्ले स्टोर और विंडोज़ स्टोर में जाकर ही डाउनलोड करें.

8. अगर फोन खो जाए या चोरी हो जाए तो

अगर फोन खो जाए या चोरी हो जाए, तो तुरंत पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज़ करें और बैंक को भी सूचित करके अपनी ई बैंकिंग पर रोक लगवाएं, ताकि मोबाइल द्वारा किए जानेवाले भुगतान को रोका
जा सके.

9. मोबाइल पेमेंट करते समय क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करें

क्रेडिट कार्ड की अपेक्षा, डेबिट कार्ड में धोखा होने की संभावना अधिक होती है. इसलिए मोबाइल द्वारा भुगतान करते समय के्रडिट कार्ड का इस्तेमाल अधिक करना चाहिए.

10. अपने क्रेडिट कार्ड अकाउंट पर नज़र रखें

हमेशा अपने क्रेडिट कार्ड अकाउंट के लेन-देन को चेक करते रहें. चाहे आप मोबाइल द्वारा भुगतान कर रहे हों या नहीं. अगर आपको लगता है कि मोबाइल पेमेंट ऐप द्वारा किए लेन-देन के साथ कोई छेड़खानी की गई है, तो तुरंत अपना पासवर्ड बदल दें.

– देवांश शर्मा

यह भी पढ़ें: Wow! पोर्न साइट को ब्लॉक करेगा हर हर महादेव ऐप

यह भी पढ़ें: 6 ऐप्स जो आपके स्मार्टफोन को रखेंगे सेफ

 

 

 

Aneeta Singh :
© Merisaheli