Categories: FinanceOthers

प्रॉपटी ख़रीदते-बेचते समय बचें इन 9 ग़लतियों से (Avoid these 9 Mistakes when buying-selling property)

प्रॉपर्टी ख़रीदते-बेचते समय बचें इन ग़लतियो से प्रॉपटी ख़रीदते-बेचते समय अधिकतर लोगों को बहुत-सी बातों के बारे में पता नहीं होता है, जिसके कारण वे अक्सर…

प्रॉपर्टी ख़रीदते-बेचते समय बचें इन ग़लतियो से प्रॉपटी ख़रीदते-बेचते समय अधिकतर लोगों को बहुत-सी बातों के बारे में पता नहीं होता है, जिसके कारण वे अक्सर ऐसी ग़लतियां कर बैठते हैं, जिनसे आसानी से बचा जा सकता है. ऐसी ही कुछ ग़लतियों के बारे में हम आपको बता रहे हैं, ताकि आप ये ग़लतियां न करें.

  • ज़्यादातर धोखाधड़ी के मामले प्रॉपर्टी के टाइटल को लेकर ही होते हैं, इसलिए जब भी प्रॉपर्टी ख़रीदने जाएं, सबसे पहले प्रॉपर्टी का टाइटल चेक करें. यह ज़रूरी है कि टाइटल बेचनेवाले के नाम से हो.
  • प्रॉपर्टी ख़रीदते व़क्त ज़्यादातर लोग एकमुश्त रक़म के बारे में सोचते हैं, जबकि प्रॉपर्टी ख़रीदते व़क्त कई हिडेन कॉस्ट (जिसका ज़िक्र बेचनेवाले नहीं करते) पर उनका ध्यान नहीं जाता, जैसे कि स्टैम्प ड्यूटी, इंस्पेक्शन फीस, इंश्योरेंस, रजिस्ट्रेशन फीस आदि.
  • पड़ोस में घर कितने में ख़रीदे-बेचे जा रहे हैं, यह देखने की बजाय थोड़ा मार्केट रिसर्च करेंगे, तो आपके लिए ही फ़ायदेमंद होगा. एक्सपर्ट्स कहते हैं कि घर ख़रीदने से पहले कम से कम 50 प्रॉपर्टीज़ की जांच ज़रूर करें.
  • प्रॉपर्टी बेचने के लिए बहुत-से सेलर्स कई वादे करते हैं, पर घर समय पर न बनने पर या उसके बाद कोई सहूलियत पूरी न कर पाने के बाद कई बहाने सुना देते हैं. अगर आपका सेलर आपको कुछ प्रॉमिस कर रहा है, तो लिखित में लेना न भूलें.

और भी पढ़ेंप्रॉपर्टी इन्वेस्टमेंट के ईज़ी टिप्स

  • घर ख़रीदते ही लोगों को लगता है कि सब कुछ नया होना चाहिए, जैसे- फर्नीचर, गाड़ी आदि. ऐसा कुछ भी सोचने से पहले अपना बजट देख लें. शोऑफ के लिए अपना कर्ज़ न बढ़ाएं.
  • अगर बिल्डिंग में फ्लैट ले रहे हैं, तो बिल्डर का ऑक्युपेशन सर्टिफिकेट चेक करने के बाद ही पेपर्स साइन करें. इसमें पानी और बिजली की सप्लाई के अलावा कंस्ट्रक्शन की मंज़ूरी आदि की जानकारी होती है.
  • प्रॉपर्टी ख़रीदते व़क्त ही यह भी जांच लें कि 10 साल बाद इसकी सेल वैल्यू कितनी होगी, वरना कहीं ऐसा न हो कि आप कहीं और शिफ्ट होना चाहते हैं और सालों तक ख़रीददार ही ढूंढ़ते रह जाएं.
  • बड़े शहरों में प्रॉपर्टी बेचने के लिए बिल्डर्स ग्राहकों को लुभाने के लिए सोने के सिक्के, ब्रांडेड फर्नीचर, मॉड्युलर किचन जैसे आकर्षक ऑफर्स देते हैं. ऐसे ऑफर्स के चक्कर में न फंसें, क्योंकि ये विश्‍वसनीय नहीं होेते.
  • घर बेचते व़क्त लोग एजेंट का ख़र्च बचाने के चक्कर में सब कुछ ख़ुद ही करने की ग़लती करते हैं, जबकि रियल इस्टेट एजेंट आपकी प्रॉपर्टी की सही मार्केट वैल्यू और सही मार्केटिंग करेगा, जिससे आपको अच्छी डील मिल जाएगी.

और भी पढ़ें: अब सस्ते लोन पर ख़रीदिए घर 

अधिक फाइनेंस आर्टिकल के लिए यहां क्लिक करें: FINANCE ARTICLES 

– रिद्दी चौहान

Share
Published by
Poonam Sharma

Recent Posts

युवराज सिंह बने पिता, पत्नी हेजल किच ने दिया बेबी बॉय को जन्म(Yuvraj Singh-Hazel Keech welcome their first child, Couple Blessed With Baby Boy)

टीम इंडिया के पूर्व स्टार ऑल राउंडर युवराज सिंह के घर शादी की 5 सालों…

जब इन मशहूर एक्ट्रेसेस की प्राइवेट फोटोज़ हुईं थी लीक, मच गया था सोशल मीडिया पर बवाल (When Private Photos of These Famous Actresses Were Leaked, Created Ruckus on Social Media)

ग्लैमर इंडस्ट्री से जुड़े सितारे अपनी पर्सनल लाइफ और अपनी इमेज को लेकर काफी सतर्क…

दलेर मेहंदी 26 जनवरी को पेश करेंगे इंडिया का पहला मेटावर्स कॉन्सर्ट (Daler Mehndi to present India’s first Metaverse concert on January 26)

साल 1998 में इंडिया में ग्रीन स्क्रीन टेक्नोलॉजी की शुरुआत हमारे दिग्गज कलाकार सिंगर दलेर…

© Merisaheli