Categories: FILMEntertainment

सोनू सूद को दुर्गा मां के भक्तों का सलाम, पूजा पंडाल में लगाई सोनू सूद की मूर्ति (Durga Bhakts Pay Tribute To Sonu Sood, Actor Is Honoured by Durga Puja Pandal For Helping People)

कोरोना संकट के समय पिछले साल लॉकडाउन में मजदूरों के लिए सोनू सूद मसीहा बनकर सामने आए थे और लाखों लोगों को अपने घर ही…

कोरोना संकट के समय पिछले साल लॉकडाउन में मजदूरों के लिए सोनू सूद मसीहा बनकर सामने आए थे और लाखों लोगों को अपने घर ही नहीं पहुंचाया, बल्कि उनको रोजगार भी दिया. नेक कामों की उनकी यह मुहिम अभी तक जारी है, जिसके चलते वह गरीबों की लगातार मदद कर रहे हैं, बच्चों की पढ़ाई के लिए सुविधाएं मुहैया करा रहे हैं. उनकी इस दरियादिली के चलते उनके फैंस उनको भगवान मानने लगे हैं. उनकी तमाम नेक कामों के लिए आभार व्यक्त करने के लिए कोलकाता में लोगों ने उनकी मूर्ति को दुर्गा पंडालों में लगा दिया है, जो इन दिनों सुर्खियों में बना हुआ है.

कोलकाता के केशोपुर प्रफुल्ल कानन पंडाल में पिछले साल भी देवी मां की मूर्ति के साथ सोनू सूद की प्रतिमा भी लगाई थी. और इस साल भी उन्होंने दुर्गा पूजा की झांकी में सोनू सूद की प्रतिमा लगाकर उनकी दरियादिली को सलाम किया है. उनका कहना है ये सोनू सूद को मां के भक्तों द्वारा आभार प्रदर्शन है.

जी हां इस पांडाल में सोनू सूद की बड़ा सा स्टेच्यू लगाया गया है और वहां के लोगों का कहना है कि सोनू सूद के नेक कार्यों का शुक्रिया अदा करने का उनका ये एक तरीका है. पिछले साल सोनू सूद ने प्रवासी मजदूरों की मदद तो की है, यास तूफान से प्रभावित लोगों की भी बढ़ चढ़ कर मदद की. इस बार केशोपुर प्रफुल्ल कानन पंडाल में तूफान से पीड़ित एक गांव को थीम बनाया गया है और इसी के साथ मसीहा के तौर पर सोनू सूद की प्रतिमा रखी गई है, जिसमें सोनू सूद को तूफान पीड़ित लोगों की मदद करते दिखाया गया है.

यहाँ सोनू सूद का जो स्टेच्यू लगाया गया है, उसमें उन्हें ज़रूरतमंद लोगों की मदद करते दिखाया गया है. थीम में सोनू सूद लोगों को राहत सामग्री देते नजर आ रहे हैं. इस दुर्गा पूजा पांडाल के ऑर्गनाइजर्स का कहना है कि सोनू सूद ने लोगों के लिए इतना कुछ किया है तो उन्हें धन्यवाद देने के लिए इतना तो बनता है. उनका कहना है उन्होंने लोगों के लिए जो भी किया है, उससे हम सबको सीख लेनी चाहिए और लोगों तक यही बात पहुंचाने व उन्हें ट्रिब्यूट देने के लिए पांडाल में उन्हें भी स्थान दिया गया है.

पंडालों में मूर्ति लगाने पर सोनू सूद ने भी रिएक्शन दिया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा,’इतना प्यार पाकर मैं अभिभूत और सम्मानित महसूस कर रहा हूं. पिछले साल भी उन्होंने पांडाल में मुझे जगह दी थी, लेकिन इस बार ये ज़्यादा बड़े स्तर पर है. जब लोग इन पांडालों में सेल्फी क्लिक करते हैं और सोशल मीडिया पर मुझे टैग करते हैं तो मुझे लगता है कि दुर्गा मां के आशीर्वाद से ही मैं ये सब कर पाया, उन्होंने ही मुझे ये राह दिखाई.”

बता दें कि सोनू सूद ने जिस तरह लोगों की दिन रात मदद की और अब भी कर रहे हैं, उससे वो लोगों के मसीहा बन गए हैं. उनके फैंस उन्हें इतना प्यार करते हैं कि कुछ लोगों ने उनके नाम पर अपनी दुकान का नाम रख दिया है तो किसी ने अपने घर का नाम सोनू हाऊस रख लिया है. इतना ही नहीं पिछले दिनों जब सोनू सूद के यहां इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने रेड डाली और उनके खिलाफ कई तरह की बातें की गईं, तब भी उनके फैंस उनके साथ उतनी ही मजबूती से खड़े रहे.

Share
Published by
Pratibha Tiwari

Recent Posts

कहानी- बेस्ट फ्रेंड (Short Story- Best Friend)

शरद कुमार का पहला प्रश्न था, "तनुजा आपकी कॉलेज की फ्रेंड है?" "जी!" पहली बार…

इस वजह से मिली हार से बिलख-बिलख कर रोई थीं आलिया भट्ट (Alia Bhatt Cried Bitterly Due To The Defeat Because Of This)

आज के समय में आलिया भट्ट बॉलीवुड की नंबर वन ऐक्ट्रेस में से एक हैं.…

जब अर्जुन कपूर को करना पड़ा था रिजेक्शन का सामना, डेब्यू फिल्म पाने के लिए एक्टर ने की खूब मेहनत (When Arjun Kapoor got Rejected, Actor Worked Hard to Get His Debut Film)

बॉलीवुड के जाने-माने प्रोड्यूसर बोनी कपूर के बेटे अर्जुन कपूर का नाम आज इंडस्ट्री के…

फिल्मों में आने से पहले हुमा कुरैशी के पिता ने रखी थी इतनी बड़ी शर्त (Huma Qureshi’s Father Had Placed Such A Big Condition Before Coming To Films)

हुमा कुरैशी बॉलीवुड की टैलेंटेड एक्ट्रेस में से एक हैं. उन्होंने बेशक गिनी चुनी फिल्में…

क्या आप जानते हैं आंसू बहाने में पुरुष भी कुछ कम नहीं… (Do you know even men are known to cry openly?)

अक्सर सुनने में आता है कि मर्द को दर्द नहीं होता.. कमोबेश कुछ ऐसे ही…

© Merisaheli