career

बढ़ रही है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की डिमांड, कैसे बनाएं इस फील्ड अपना करियर? (How To Make Career In Artificial Intelligence?)

टेक्नोलॉजी ने एक ओर जहां कम समय में काम को आसान तरी़के से करना सीखा दिया है, वहीं दूसरी तरफ युवाओं के लिए रोज़गार के नए-नए अवसर भी खोल दिए हैं. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यानी एआई भी टेक्नोलॉजी से संबंधित एक ऐसा ही क्षेत्र है, जिसकी डिमांड दिनोंदिनों बढ़ती जा रही है. अगर आप भी इस क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो सबसे पहले ये जानना ज़रूरी है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है?

क्या है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस- जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यानि आर्टिफिशियल तरी़के से डेवलप की गई बौद्धिक क्षमता. अधिकतर लोगों को ऐसा ही लगता है. असल में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस डाटा मैनेजमेंट और मेन्यूपुलेशन है. इस क्षेत्र में इंजीनियरिंग की कई ब्रांचेज़- इलेक्ट्रॉनिक्स, इलेक्ट्रिकल्स, कंप्यूटर इंजीनियरिंग, सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग, रोबोटिक्स, मैथेमेटिक्स आदि को एक जगह मिलाकर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का निर्माण किया गया है. इस फील्ड में कंप्यूटर की प्रोग्रामिंग अलग-अलग इंडस्ट्री के अनुसार की जाती है.

आसान भाषा में कहा जाए तो एक मशीन- चाहे वो कम्प्यूटर, रोबोट या कोई चिप हो, उसमें किसी विशेष उद्देश्य से संबंधित डाटा को फीड कर एक नया सॉफ्टवेयर तैयार किया जाता है. ये तैयार सॉफ्टवेयर उपलब्ध डाटा के आधार पर परिस्थितियों का सही आंकलन करता है, अलग-अलग परिस्थितियों में एक्यूरेट एक्शन लेता है, इसी प्रोसेस को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कहते हैं.

एक महत्वपूर्ण बात बता दें कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में सब कुछ डाटा पर निर्भर करता है. अगर मशीन में गलत डाटा फीड होता है, तो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से मिलने वाले परिणाम भी सही नहीं होते हैं.

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रकार

वैसे तो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस अनेक प्रकार के होते हैं. पर इनमें दो महत्वपूर्ण है- रिसर्च आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और अप्लायड आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस. रिसर्च आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल किसी नये नियम की खोज करने, नया डिजाइन बनाने या किसी डिवाइस को बेहतर बनाने के लिए किया जाता है. जबकि अप्लायड आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का यूज रोज़मर्रा की ज़िंदगी में किया जाता है.

योग्यता

– इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए कंप्यूटर साइंस और मैथेमेटिक्स की जानकारी होनी ज़रूरी है.

– करियर की शुरुआत करने से पहले इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल करना ज़रूरी है. यह डिग्री किसी भी सब्जेक्ट्स, जैसे- कंप्यूटर साइंस, सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी, मैथेमेटिक्स, इलेक्ट्रोनिक्स, इलेक्ट्रिकल्स में हो सकती है. कुछ जगहों पर कोर्सेस में एडमिशन के लिए एंट्रेस एग्ज़ाम क्वालिफाई करना होता है.

– कंप्यूटर साइंस से ग्रेजुएट उम्मीदवार भी इस फील्ड में काम कर सकते हैं.

– बीटेक/ एमटेक ग्रेजुएट्स, बीसीए/ एमसीए ग्रेजुएट्स, बीएससी आईटी/ एमएससी आईटी, सॉफ्टवेयर इंजीनियर/डेवलपर/आर्किटेक्ट्स- सभी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का कोर्स कर सकते हैं.

– अगर कैंडिडेट के पास ग्रेजुएशन की डिग्री के साथ-साथ स्टैटिस्टिक्स, प्रोबेबिलिटी थ्योरी, लीनियर अल्जेब्रा और पाइथन प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की बेसिक जानकारी के अलावा यूनिक्स टूल्स स्किल्स और एडवांस्ड सिग्नल प्रोसेसिंग टेक्नीक्स की अच्छी नॉलिज है, तो कैंडिडेट इस फील्ड में टॉप लेवल तक पहुंच सकता है. एआई में करियर बनाने के लिए करें ये कोर्स-

– मशीन लर्निंग और एआई में पीजी प्रोग्राम

– फाउंडेशन ऑफ़ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड मशीन लर्निंग

– आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड मशीन लर्निंग में पीजी प्रोग्राम

– फुल स्टैक मशीन लर्निंग एंड आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस प्रोग्राम

– आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड डीप लर्निंग में पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट प्रोग्राम

प्रमुख संस्थान

– आईआईटी, खड़गपुर, दिल्ली, मुंबई, कानपुर, मद्रास, गुवाहाटी, रुड़की

– सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड रोबोटिक्स, बेंगलुरू

– नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग, मैसूर

– इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बेंगलुरू

– इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद

अगर आप चाहें तो किसी फॉरेन यूनिवर्सिटी से भी एआई में मास्टर डिग्री हासिल कर सकते हैं. आजकल फ्री ऑनलाइन कोर्सेस भी उपलब्ध हैं-

– गूगल फ्री मशीन लर्निंग कोर्स

– उडेसिटी फ्री ऑनलाइन एआई कोर्स

इन पदों के लिए कर सकते हैं अप्लाई

– स्टेटिस्टिक्स साइंटिस्ट

– रोबोटिक्स साइंटिस्ट

– एल्गोरिदम एनालिस्ट

– इंजीनियरिंग सलाहकार

– सर्जिकल तकनीशियन

– कंप्यूटर साइंटिस्ट

– सॉफ्टवेयर इंजीनियर, एनालिस्ट और डेवलपर्स

– डेटा एनालिटिक्स

– यूज़र एक्सपीरियंस

– नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग

– रिसर्च साइंटिस्ट

– डाटा माइनिंग एंड एनालिस्ट

– मशीन लर्निंग इंजीनियर

– डाटा इंजीनियर और साइंटिस्ट

– बिज़नेस इंटेलिजेंस डेवलपर

इन कंपनियों में कर सकते हैं अप्लाई

यहां पर बताई गई इन कंपनियों में आप आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से संबंद्ध पदों के लिए अप्लाई कर सकते हैं-

– अमेजन

– माइक्रोसॉफ्ट

– आईबीएम

– एक्सेंचर

– फेसबुक

– इंटेल

– सैमसंग

– उबेर

– मोटेक टेक्नोलॉजीज़

– पीसीओ इनोवेशन

सैलेरी

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को शुरुआत में 30-35 हजार रुपये हर महीने आसानी से मिल जाते हैं. धीरे-धीरे काम का अनुभव होने के बाद इन्हें लाखों का पैकेज मिलता है. मल्टीनेशनल व फॉरेन कंपनियां एक्सपर्ट्स और प्रोफेशनल्स को शानदार पैकेज देती हैं. इस क्षेत्र में विदेश में काम करने के अवसर भी मिलते हैं. फ्रीलान्स के तौर पर काम करके भी कैंडिडेट अच्छा-खासा कमा सकते हैं.

एक रिपोर्ट के अनुसार- आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का क्रेज युवाओं में तेज़ी से बढ़ रहा है. इसी क्रेज को देखते हुए भविष्य में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का दायरा भी बढ़कर तीन गुना तक हो जाएगा. पिछले कुछ सालों से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के क्षेत्र में नौकरियों की डिमांड बढ़ी है. इसी डिमांड को देखते हुए कह सकते हैं कि आने वाले समय में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का क्षेत्र बढ़ता ही जाएगा. रोज़गार की भरपूर संभावनाओं वाले इस सेक्टर में युवा अपना सुरक्षित और शानदार भविष्य बना सकते हैं.

हर इंडस्ट्री में एक्सपर्ट आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की ज़रूरत फाइनेंस, हेल्थ केयर, एंटरटेनमेंट कंपनियां, टेक्नोलॉजी, मीडिया, मार्केटिंग, सरकार और सेना, नेशनल सिक्योरिटी, आईओटी- सक्षम सिस्टम, कृषि, गेमिंग, रिटेल हर इंडस्ट्री में एक्सपर्ट आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की ज़रूरत होती है.

और भी पढ़ें: यूट्यूब या इंस्टाग्राम से घर बैठे आप भी कर सकते हैं मोटी कमाई, जानें कैसे? (How to Earn Money From YouTube And Instagram?)

– देवांश शर्मा

Poonam Sharma

Recent Posts

व्यंग्य- आप कुछ समझते क्यों नहीं? (Satire- Aap Kuch Samjhte Kyon Nahi?)

बॉस थक जाते हैं, कहते है, “यार ये कुछ समझाता क्यों नहीं."और मुझे लगता है,…

July 22, 2024

श्रावण मास पर विशेष: कहानी- हम में शक्ति हम में शिव… (Short Story- Hum Mein Shakti Hum Mein Shiv…)

तभी मां जो शिव की अनन्य भक्त थीं, बोलीं, ''बेटा! जहां ईश्वर हों, वहां आस्था…

July 22, 2024
© Merisaheli