गर्भपात रोकने के 5 चमत्कारी घरेलू उपाय (How To Prevent Miscarriage Naturally- Top 5 Home Remedies)

गर्भपात रोकने के 5 चमत्कारी घरेलू उपाय आपको मां बनने का सुख देते हैं. गर्भपात के कारण कई महिलाएं मां नहीं बन पातीं और उनका मां बनने का सपना अधूरा रह जाता है. गर्भपात के कारण महिलाओं को शारीरिक-मानसिक कष्ट से गुज़रना पड़ता है, इससे बचने के लिए हम आपको बता रहे हैं गर्भपात रोकने के 5 चमत्कारी घरेलू उपाय.

1) हरी दूब के पंचांग (जड़, तना, पत्ती, फूल, फल) को पीसकर, उसमें मिश्री व दूध मिलाकर 150-200 ग्राम शरबत के रूप में सुबह-शाम पीने से गर्भपात नहीं होता.
2) गाय का ठंडा किया हुआ दूध व जेठीमधु का काढ़ा बनाकर पिलाएं. साथ-साथ इसी काढ़े को नाभि के नीचे के भाग पर लगाएं. इससे गर्भस्राव की संभावना कम हो जाती है.
3) अशोक की छाल का क्वाथ बनाकर कुछ दिनों तक सुबह-शाम पिलाने से गर्भवती स्त्री के गर्भस्राव की संभावना नहीं रहती.
4) एक पके केले को मथकर, उसमें शहद मिलाकर गर्भवती को खिलाएं. ऐसा करके गर्भपात की संभावना को रोका जा सकता है.
5) पीपल और बड़ी कंटकारी की जड़ पीसकर भैंस के दूध के साथ कुछ दिनों तक लेने से भी गर्भपात नहीं होता.

यह भी पढ़ें: स्तनों (Breast) को बड़ा और सुडौल बनाने 5 अचूक घरेलू उपाय (Breast Enhancement: 5 Home Remedies To Increase Breast Size)

 

गर्भपात रोकने के लिए ये नुस्ख़े भी हैं बहुत काम के

* वंशलोचन, मिश्री, नागकेशर को लेकर बारीक चूर्ण कर लें. इसे 2 ग्राम की मात्रा में सुबह-शाम गाय के दूध के साथ खाने से लाभ होता है.
* मूली के बीजों का कपड़छन बारीक चूर्ण और भीमसेनी कपूर को गुलाब के अर्क में मिलाकर गर्भ ठहरने के बाद योनि में कुछ दिनोें तक मलने से बहुत लाभ होता है. अगर किसी स्त्री को बार-बार गर्भस्राव होता है तो उसके लिए यह प्रयोग बहुत ही फ़ायदेमंद है.

गर्भपात रोकने के 5 चमत्कारी घरेलू उपाय जानने के लिए देखें वीडियो:

 

Kamla Badoni :
© Merisaheli