Others

खेलो इंडिया से बदलेगा जम्मू कश्मीर का नक्शा (JK’s maiden Rural Sports Competition under Khelo India scheme commences)

कश्मीर की वादियों में टेरर का दस्तक तो हमेशा रहता है, लेकिन अब वहां स़िर्फ खेल और खिलाड़ी ही पनपेंगे. केंद्र सरकार की खेलो इंडिया स्कीम से प्रदेश में खिलाड़ियों की संख्या में इज़ाफा होगा. सांबा ज़िले में ये प्रतियोगिता आयोजित की गई. इस प्रतियोगिता का मकसद ख़ासतौर पर गांव की प्रतिभा को नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर लाना है.

आगामी ओलिंपिक खेलों में देश की झोली में ज़्यादा से ज़्यादा पदक आएं, उसके लिए इस तरह की योजना बहुत ही फ़ायदेमंद साबित होगी. इतना ही नहीं घाटी में आमतौर पर बच्चों और युवाओं को ग़लत राह पर आसानी से भटकाया जाता है. इस खेल के वजह से मुमक़िन है कि अब युवाओं का ध्यान खेल की ओर बढ़ेगा. उन्हें इस बात का एहसास होगा कि वो भी दुनिया में प्रसिद्ध हो सकते हैं. उनका भी नाम बाकी खिलाड़ियों की तरह स्टार की तरह लिया जा सकता है.

इस प्रतियोगिता में 2800 से भी ज़्यादा खिलाड़ियों ने भाग लिया. ज़िले के 9 ब्लॉक से खिलाड़ियों ने इसमें हिस्सा लिया. केंद्र सरकार की अनूठी पहल खेलो इंडिया योजना का असर देशवासियों को 2020 और 2024 ओलंपिक में देखने को मिलेगा. देश को पदक दिलवाने वाले खिलाड़ियों को चिह्नित करने की दिशा में जारी यह प्रयास प्रशंसनीय है. उम्मीद है कि अब भविष्य में भाग लेने वाले भारतीय ओलंपिक दल में उन्हीं खिलाड़ियों को जगह दी जाएगी, जो सही मायनों में इसके हकदार हैं.

अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो कोच एवं खिलाड़ी अतुल पंगोत्रा ने राज्य में जम्मू-कश्मीर स्टेट स्पोर्ट्स काउंसिल के प्रत्येक जिलों में ब्लाक स्तर पर वॉलीबाल, कबड्डी, फुटबाल, कुश्ती, बॉक्सिंग सहित अन्य खेलों के लिए प्रतियोगिताएं आयोजित करने को एक प्रशंसनीय कदम करार दिया. उन्होंने कहा कि जब तक गांवों में छिपी प्रतिभा को निखारने का मौका नहीं मिलेगा, तब तक पदकों में वृद्धि नहीं हो सकती. शहरी युवाओं की अपेक्षा गांवों के युवा में स्टेमिना अधिक होता है, अगर उनका सही मार्गदर्शन किया जाए तो देश के खेल भविष्य के लिए यह एक अच्छी बात होगी.

खेलो इंडिया में जिस तरह से प्रदेश के युवाओं ने हिस्सा लिया उससे तो यही लगता है कि वो भी बदलाव की बयार का हिस्सा बनना चाहते हैं. वो भी चाहते हैं कि जिस तरह से घाटी की निंदा लोग करते हैं, वो बदल जाएगा. लोगों का नज़रिया भी इससे बदलेगा. देश बदलेगा.

श्वेता सिंह 

Meri Saheli Team

Share
Published by
Meri Saheli Team

Recent Posts

शाप की कोप (Short Story: Shaap Ki Kop)

नीलता कौशलजींचं निधन झालं आणि एक वर्षाच्या आतच एके संध्याकाळी वादळी वार्‍या-पावसाने त्यांच्या दारातील ते…

February 28, 2024

दिखें फॉरएवर यंग, अपनाएं ये आसान ब्यूटी सीक्रेट्स (Easy Beauty Secrets That Can Make You Look Young Forever)

हर महिला चाहती है फॉरएवर यंग दिखना, लेकिन उम्र बढ़ने के साथ ही स्किन और…

February 28, 2024

रकुल प्रीतनंतर आता तापसी पन्नूही चढणार बोहल्यावर, या ठिकाणी पार पडणार मंगलकार्य (Taapsee Pannu is getting married soon With Her Boyfriend Mathias Boe)

अभिनेत्री तापसी पन्नू लवकरच लग्न करणार असल्याची बातमी समोर आहे. तापसी तिचा प्रियकर मॅथियास बो…

February 28, 2024

बऱ्याच वर्षांच्या गॅपनंतर निर्माती-दिग्दर्शक कांचन अधिकारी यांचा नवा चित्रपट ‘जन्मऋण’ सत्य घटनेवर आधारित (Producer- Director Kanchan Adhikari’s New Film “Janmarun” Is Based On Real Life Story)

आपल्या विलक्षण कलागुणांनी अभिनेत्री, लेखिका, निर्माती आणि दिग्दर्शक असा चौफेर वावर करून मनोरंजन विश्वातील अनेक…

February 28, 2024

कविता- क्यों न इनके हिस्से में एक मुलाक़ात लिख दें… (Poetry- Kyon Na Inke Hisse Mein Ek Mulaqat Likh Den…)

अनकही ही रह जाती हैं कितनी ही कविताएंक्यों न उनके हिस्से में हम नए ख़्याल…

February 27, 2024
© Merisaheli