Categories: FILMEntertainment

दोनों बेटों और करियर में कैसे बैलेंस करती हैं करीना कपूर, और सैफ की किस बात से गुस्सा आता है उन्हें, करीना ने खुद किया खुलासा (Kareena Kapoor reveals how she strikes a balance between Taimur-Zeh and why she gets annoyed with Saif)

करीना इसी साल दूसरी बार मां बनी हैं, तभी से सैफ, करीना, तैमूर और ज़ेह अक्सर ही कैमरे में कैद होते हैं, कभी वेकेशन पर…

करीना इसी साल दूसरी बार मां बनी हैं, तभी से सैफ, करीना, तैमूर और ज़ेह अक्सर ही कैमरे में कैद होते हैं, कभी वेकेशन पर जाते हुए, कभी फैमिली आउटिंग तो कभी घर के बाहर. डिलीवरी बाद से ही बेबो बैक इन एक्शन हैं और उन्हें देखकर अक्सर उनके फैंस हैरान रह जाते हैं कि वो दो बच्चों के साथ पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में कैसे बैलेंस बनाती हैं. एक एक्ट्रेस, मां, वाइफ, बेटी या फ्रेंड- करीना हर रोल में परफेक्ट लगती हैं. तो ये सीक्रेट अब खुद करीना ने रिवील कर दिया है.

हाल ही में अपने एक इंटरव्यू में करीना ने बताया कि तैमूर और ज़ेह के लिए वो कैसे टाइम मैनेज करती हैं. साथ ही करीना ने ये भी शेयर किया कि पेरेंटिंग के मामले में सैफ की कौन सी आदत उन्हें बिल्कुल पसंद नहीं.

करीना ने इस इंटरव्यू में बताया कि अपने हैक्टिक शेड्यूल के बावजूद वो दोनों बच्चों के लिए टाइम कैसे निकालती हैं. “इसके लिए मैंने प्रॉपर टाइम डिवीजन किया हुआ है. मुझे पता है कि तैमूर को मेरी ज़रूरत कब है और ज़ेह को कब. एक बात अच्छा है मेरे साथ कि इन दिनों तैमूर ज़ेह के बाद उठता है. तो वो एक घन्टा मैं पूरी तरह ज़ेह को देती हूं. जैसे ही ज़ेह का ब्रेकफास्ट होता है, मुझे पता होता है कि अब तैमूर के ब्रेकफास्ट का टाइम है. तो मैं दोनों के बीच बैलेंस करती हूँ, बिना किसी स्ट्रेस या प्रेशर के. मैं चाहती हूँ कि बच्चों के साथ रोज़ाना टाइम स्पेंड करूँ, उन्हें अपनी डेली लाइफ में शामिल करूँ. तो मैंने ऐसा कोई रूल नहीं बनाया है कि मुझे ये करना है, वो करना है. हम उस तरह के पैरेंट्स नहीं हैं.”

इस इंटरव्यू में करीना ने बताया कि पेरेंटिंग के मामले में सैफ की किस हरकत पर उन्हें गुस्सा आता है. ” सैफ की एक बात से मुझे गुस्सा आता है. रात में सोने के वक्त सैफ बोलते हैं, नहीं, नहीं उसे थोड़े टाइम और रहने दो. हम मूवी देखेंगे या एवेंजर देखेंगे. या उन्हें तैमूर के साथ कोई एक्शन फिल्म देखनी होती है. और मैं कहती हूं कि उसे सोने दो. उसकी स्कूल है, ऑनलाइन क्लासेस हैं. लेकिन सैफ बच्चों के लिए बहुत लिनिएंट हो जाते हैं और कहते हैं नहीं नहीं, उसे आधा घन्टा और रहने दो. लेकिन मैं सोचती हूँ कि बच्चों को टाइम पर सोना चाहिए. पर अब ज़ेह के बाद मुझे सैफ का ये रूटीन भी बदलना होगा. मैं चाहती हूँ कि मेरे बच्चों को कम से कम 12 घण्टे की नींद मिले. मैं बच्चों की नींद के साथ कोई कॉम्प्रोमाइज नहीं करना चाहती.”

बता दें कि करीना कपूर खान अक्सर ही पेरेंटिंग पर खुलकर बात करती हैं और उनकी पेरेंटिंग स्टाइल उनके फैंस को काफी पसंद भी आती है. वर्क फ्रंट की बात करें तो हाल ही में करीना कपूर ने अपने प्रोड्यूसर बनने की भी घोषणा की है. सच्ची घटना पर आधारित करीना के इस प्रोजेक्ट को हंसल मेहता डायरेक्ट करेंगे. एकता कपूर अपने बैनर बालाजी टेलीफिल्म्स के तले इस प्रोजेक्ट को को-प्रोड्यूस करेंगी.

Photo courtesy: pepperfry

Share
Published by
Pratibha Tiwari

Recent Posts

कहानी- ज़मीन की तलाश में… (Short Story- Zamin Ki Talash Mein…)

जो कॉलेज के ज़माने में एक प्रबल नारीवादी कवियत्री हुआ करती थी… अपनी कविताओं में…

लाइफस्टाइल से जुड़ी ये 10 बुरी आदतें करती हैं मेटाबॉलिज़्म को स्लो (These 10 Lifestyle Bad Habits Can Slow Down Your Metabolism)

हममें अधिकतर लोग मेटाबॉलिज़्म की तरफ़ बिल्कुल भी ध्यान नहीं देते हैं. लेकिन क्या आप…

© Merisaheli