Entertainment

Movie Review: रिलीज़ हुई साहेब बीवी और गैंगस्टर 3, संजय दत्त में नहीं दिखी गैंगस्टर वाली बात (Saheb Biwi Aur Gangster 3 Movie Review)

साल 2011 में जब डायरेक्टर तिग्‍मांशु धूल‍िया पहली बार साहेब बीवी और गैंगस्टर लेकर दर्शकों के बीच आए थे तो दर्शकों ने फिल्म की प्यार और बदले की कहानी को काफ़ी पसंद किया था, लेकिन साल 2013 में रिलीज़ हुई साहेब बीवी और गैंगस्टर 2 को उनकी पहली फिल्म से भी ज़्यादा सराहना मिली थी.आज क़रीब 5 साल बाद उनकी फिल्म साहेब बीवी और गैंगस्टर 3 सिनेमाघरों में रिलीज़ हुई है. इस फिल्म में संजय दत्त एक गैंगस्टर की भूमिका निभा रहे हैं.

मूवी- साहेब बीवी और गैंगस्टर 3

स्टार कास्ट- संजय दत्त, चित्रांगदा सिंह, माही गिल, जिमी शेरगिल, कबीर बेदी, दीपक तिजोरी. 

डायरेक्टर- तिग्मांशु धूलिया. 

अवधि- 2 घंटा 20 मिनट.

रेटिंग- 2.5/5. 

कहानी

इस फिल्म की कहानी का प्लॉट भी तिग्मांशु की पहले वाली दोनों फिल्मों से मिलता-जुलता है, लेकिन इस बार जिमी शेरगिल और माही गिल के बीच गैंगस्टर के तौर पर एंट्री ली है अभिनेता संजय दत्त ने. फिल्म की कहानी पिछले पार्ट से आगे बढ़ती है, जिसमें  दिखाया जाता है कि साहेब आदित्य प्रताप सिंह (जिमी शेरगिल) जेल में हैं और बीवी माधवी देवी (माही गिल) राजमहल में रहकर सियासत को संभाल रही हैं. उधर लंदन में गैंगस्टर व दूसरी सियासत के राजकुमार उदय प्रताप सिंह (संजय दत्त) अपना एक बार चलाते हैं. माधवी देवी नहीं चाहतीं कि उनके पति जेल से बाहर आएं. इसके लिए जब उदय प्रताप सिंह भारत आते हैं तो वो उनकी मदद लेती हैं. इस बीच दोनों के बीच नज़दीकियां बढ़ जाती हैं, लेकिन एक दिन आदित्य प्रताप को ज़मानत मिल जाती है. उसके बाद साहेब आदित्य और गैंगस्टर उदय का आमना-सामना होता है. जिसे देखने के लिए आपको सिनेमा घरों का रूख़ करना पड़ेगा.

संजय में नहीं दिखी गैंगस्टर वाली बात 

संजय दत्त की बायोपिक संजू में उनकी इमेज को काफ़ी पॉलिश करके दिखाया गया है. इस फिल्म से पहले भी संजय दत्त फिल्मों में खलनायक की भूमिका में नज़र आ चुके हैं, लेकिन इस फिल्म में संजय दत्त के किरदार में गैंगस्टर वाले स्वैग और एटीट्यूड दोनों की कमी नज़र आ रही है. बता दें कि गैंगस्टर वाले रोल्स के मशहूर संजय इस फिल्म के किसी भी सीन में गैंगस्टर वाला फील देने में असफल रहे हैं.

डायरेक्शन 

तिग्मांशु धूलिया एक टैलेंटेड डायरेक्टर हैं. वो अपनी फिल्मों के लिए एक्टर्स बेहद सोच-समझकर चुनते हैं और उन्हें किरदार के हिसाब से बढ़िया तरीके से गढ़ते भी हैं. बेशक पहले वाली दोनों फिल्मों साहेब बीवी और गैंगस्टर को दर्शकों ने बेहद पसंद किया था, लेकिन इस बार उनकी इस फिल्म की कहानी और डायरेक्शन दोनों में कमियां दिखाई दे रही हैं. इस फिल्म में संजय दत्त के किरदार के जो शेड्स दिखने चाहिए थे वो मिसिंग हैं और डायरेक्शन काफ़ी स्लो है.

एक्टिंग

बात करे सितारों के एक्टिंग की तो, फिल्म में जिमी शेरगिल ने अपने किरदार को बांधे रखा है. सिससे वो दर्शकों को ख़ुद से जोड़ने में क़ामयाब साबित होते हैं. माही गिल का किरदार पहले दो हिस्सों की तुलना में इस बार ज़्यादा मज़बूत था और वो इसे निभाने में सफल भी रहीं. फिल्म में चित्रांगदा सिंह गैंगस्टर बने संजय दत्त की गर्लफ्रेंड की भूमिका में हैं. वहीं दीपक तिजोरी ने ठीक-ठाक एक्टिंग की है. इस फिल्म की कहानी में कबीर बेदी, नफीसा अली और दीपक तिजोरी जैसे कलाकारों के किरदारों का ग्राफ नाममात्र है.

बहरहाल, अगर आप यह फिल्म देखना चाहते हैं तो फिर इसमें आपको कई शानदार डायलॉग्स भी मिलेंगे. फिल्म में चित्रांगदा और संजय दत्त का रोमांस आपके चेहरे पर हंसी ला सकता है, लेकिन दोनों की केमेस्ट्री शायद ही आपको पसंद आए. फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर अच्छा है, लेकिन गाने शायद ही आपकी ज़ुबान पर चढ़ पाए. हालांकि तिग्मांशु धूलिया ने अपनी इस फिल्म में एक और सीक्वल की उम्मीद ज़रूर छोड़ी है.

फिल्म- नवाबज़ादे

डायरेक्टर तिग्मांशु धूलिया की फिल्म साहेब बीवी और गैंगस्टर 3 के अलावा कॉमेडी फिल्म नवाबज़ादे भी रिलीज़ हुई है. डायरेक्टर जयेश प्रधान की इस फिल्म में धर्मेंश येलांडे, राघव जुयाल और पुनीत पाठक मुख्य भूमिका में हैं. इस फिल्म के एक गाने में श्रद्धा कपूर, वरुण धवन, बादशाह और आथिया शेट्टी नज़र आएंगी. अगर आप कॉमेडी फिल्म देखने की सोच रहे हैं इस वीकेंड आप यह फिल्म देख सकते हैं.

यह भी पढ़ें: Dhadak Movie Review: ‘धड़क’ में ईशान और जाह्नवी की केमेस्ट्री देख धड़का दर्शकों का दिल (Dhadak Movie Review)

Merisaheli Editorial Team

Recent Posts

व्यंग्य- आप कुछ समझते क्यों नहीं? (Satire- Aap Kuch Samjhte Kyon Nahi?)

बॉस थक जाते हैं, कहते है, “यार ये कुछ समझाता क्यों नहीं."और मुझे लगता है,…

July 22, 2024

श्रावण मास पर विशेष: कहानी- हम में शक्ति हम में शिव… (Short Story- Hum Mein Shakti Hum Mein Shiv…)

तभी मां जो शिव की अनन्य भक्त थीं, बोलीं, ''बेटा! जहां ईश्वर हों, वहां आस्था…

July 22, 2024
© Merisaheli