न्यूज़ टाइम- आज की 5 ख़ास ख़बरें… (Today’s Updates: Top 5 Breaking News)

नौकायन टीम का संघर्ष व जीत

इंडोनेशिया के जकार्ता-पालेमबर्ग में चल रहे 18वें एशियाई खेलों का छठा दिन भी भारत के लिए मिला-जुला रहा. जैसे-जैसे एशियन गेम्स आगे बढ़ता जा रहा है, वैसे वैसे भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन में भी निखार आता जा रहा है. पहली बार रोइंग टीम ने एक स्वर्ण व दो कांस्य के साथ तीन पदक पर कब्ज़ा किया. दत्तू भोकानाल, स्वर्ण सिंह, ओमप्रकाश व सुखमीत सिंह रोइंग मैन्स टीम ने 6:17:17 के समय के साथ गोल्ड अपने नाम किया. दुष्यंत ने बीमार होने के बावजूद कांस्य पदक जीता. भगवान सिंह व रोहित ने लाइटवेट डबल स्कल्स में ब्रॉन्ज़ मेडल जीता. रोइंग टीम को बहुत-बहुत बधाई. रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने डबल्स टेनिस में कजाकिस्तान के एलेक्सांद्र बुबलिक व डेनिस येवसेयेव को हराकर गोल्ड अपने नाम किया. अनुभवी निशानेबाज़ हीना सिद्धू ने ब्रॉन्ज़ मेडल जीता. ख़ुशी के साथ थोड़े ग़म भी भारत के हिस्से में आए हैं यानी पहली बार जहां पुरुष कबड्डी टीम को कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा, वहीं महिला कबड्डी टीम ने सिल्वर मेडल जीता. इसी के साथ भारत 6 गोल्ड, 4 सिल्वर व 13 ब्रॉन्ज़ यानी कुल 23 पदक के साथ पदक तालिका में सातवें स्थान पर है.

आधार- चेहरा वेरिफाई करना होगा ज़रूरी

यूआईडीएआई (यूनिक आईडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया) ने नोटिफिकेशन जारी किया है कि जल्द ही आधार द्वारा ली जानेवाली सभी सेवाओं के लिए चेहरे का मिलान करना भी आवश्यक होगा यानी आधार के साथ चेहरा वेरिफाई करना भी ज़रूरी होगा. यह नियम मोबाइल कंपनियों पर विशेष तौर पर लागू की जाएगी. यह सुविधा मोबाइल कंपनियों के साथ 15 सितंबर से शुरू की जाएगी. इसके बाद इसे बैंक का अकाउंट ओपन करने, राशन कार्ड के लिए भी इस्तेमाल में लाया जाएगा. ध्यान रहे, यदि मोबाइल कंपनियां इन नियमों का पालन नहीं करेंगी, तो उन पर जुर्माना भी लगाया जाएगा. यूआईडीएआई के अनुसार, उन्होंने यह निर्णय फिंगरप्रिंट की गड़बड़ी या उसकी क्लोनिंग रोकने के लिए किया है. दरअसल, जून महीने में हैदराबाद के मोबाइल सिम कार्ड वितरक ने आधार में गड़बड़ी करके हज़ारों सिम कार्ड एक्टिवेट करवाए थे. इसी कारण यूआईडीएआई को यह सख़्त क़दम उठाना पड़ा.

 

गार्डन में होगी बीमारी छूमंतर

नोएडा के सेक्टर 91 में एक ऐसा बगीचा बन रहा है, जो आपकी बीमारियों को दूर करने में मदद करेगा. यहां पर औषधीय गुणों से भरपूर पौधे, पेड़ आदि लगाए जा रहे हैं, जैसे- आंवला, हरसिंगार, करीपत्ता, अर्जुन, बहेड़ा, रीठा, कचनार, दालचीनी, चंपा, बेल, इमली, नीम. इसमें वनस्पति विज्ञान यानी बॉटनी के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी, जो बॉटनी के स्टूडेंट्स के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद होगा. इसके अलावा पार्क में लिली पॉन्ड, नेचुरल झील, ओपन थिएटर, लैब आदि भी बनाए जा रहे हैं. 25 एकड़ में फैले इस गार्डन को बनाने में 23.94 करोड़ रुपए ख़र्च होने की संभावना है. औषधी पार्क नामक इस बगीचे को लोगों के लिए नवंबर में खोल दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें: न्यूज़ टाइम- आज की 5 ख़ास ख़बरें… (Today’s Updates: Top 5 Breaking News)

गूगल ने बंद किए ईरान के चैनल्स

गूगल ने यूट्यूब पर चल रहे ईरान के क़रीब 39 चैनल्स, 13 गूगल प्लस, 6 ब्लॉगर के अकाउंट को बंद कर दिया है. उनके अनुसार, प्रोटेक्ट योर इलेक्शन के अभियान के तहत उन्होंने ईरान द्वारा चलाए जा रहे इन अकाउंट्स को बंद किया है. गूगल द्वारा की गई छानबीन से पता चला कि फिशिंग और हैंकिंग की कोशिश विदेशी सरकारों द्वारा की जा रही थी. ऐसे में डिजिटल माध्यम पर राजनीतिक अभियान को सुरक्षित रखने के लिए ही उन्होंने यह कड़ा कदम उठाया.

 

रणदीप का सराहनीय क़दम

जब से केरल में बाढ़ व प्राकृतिक आपदा आई है, तब से पूरे भारतभर से सहयोग के हाथ बढ़ते रहे हैं. हर रोज़ इससे जुड़े कोई न कोई सराहनीय कदम सामने आ रही है. अब हिंदी सिनेमा के बेहतरीन कलाकार रणदीप हुड्डा ने इंसानियत की मिसाल पेश की है. उन्होंने न केवल अपना जन्मदिन केरल बाढ़ पीड़ितों के साथ मनाया, बल्कि वहां लंगर करके सभी को अपने हाथों से खाना भी खिलाया. साथ ही उन्होंने असहाय लोगों को शरणार्थी घर तक भी पहुंचाया. वे खालसा एड ग्रुप की ओर से वहां गए थे. इससे पहले भी पेरिस अटैक हो या सीरिया में युद्ध से पीड़ित लोग, उनकी मदद के लिए यह ग्रुप आगे रहा है.

– ऊषा गुप्ता

Usha Gupta :
© Merisaheli