Categories: TVEntertainment

भाबीजी घर पर हैं में ‘आई लाइक इट’ कहनेवाले सक्सेनाजी को कितना लाइक करते हैं आप, जानें उनके बारे में मज़ेदार बातें और देखें फनी वीडियोज़ (Unknown Facts And Funny Videos Of Bhabiji Ghar Par Hain Fame Saanand Verma)

करंट लगने पर या थप्पड़ खाने पर जब पगलैट अनोखेलाल सक्सेना 'आई लाइक इट' कहते हैं, तो हर किसी के चेहरे पर बड़ीवाली स्माइल आ…

करंट लगने पर या थप्पड़ खाने पर जब पगलैट अनोखेलाल सक्सेना ‘आई लाइक इट’ कहते हैं, तो हर किसी के चेहरे पर बड़ीवाली स्माइल आ जाती है. उनका यह डायलॉग इतना पॉप्युलर हो गया है कि घर घर में बच्चों के मुंह से बदस्तूर आई लाइक इट निकल ही जाता है. अनोखेलाल सक्सेना का किरदार निभानेवाले सानंद वर्मा आज घर-घर में मशहूर हैं. कभी घर ख़र्च में मदद करने के लिए 15 रुपये में ट्यूशन पढ़ानेवाले सक्सेनाजी आज महीने के लाखों रुपए कमाते हैं, आइए जानें सानंद वर्मा के बारे में कुछ दिलचस्प व मज़ेदार बातें व देखें उनके गुदगुदानेवाले फन्नी वीडियोज़.

आपको जानकर हैरानी होगी कि भाबीजी घर पर हैं का उनका कैरेक्टर इतना पॉप्युलर हुआ है कि असल ज़िंदगी मे भी लोग सानंद वर्मा को सक्सेनाजी कहकर बुलाते लगे हैं. उनका लोकप्रिय किरदार आज उनकी पहचान बन चुका है. एक कलाकार के लिए इससे बड़ी बात भला क्या हो सकती है कि उसका किरदार ही उसकी पहचान बन जाए.

थप्पड़ खाने या करंट लगने पर ‘आई लाइक इट’ कहने का उनका जो रिएक्शन होता है, वह देखकर दर्शकों को मज़ा आ जाता है. कहना नहीं होगा कि सानंद वर्मा ने अपने नाम को इस शो के ज़रिए पूरी तरह सार्थक कर दिया है. उनके नाम का अर्थ ही है आनंद के साथ, सचमुच लोग उन्हें सानंद ही देखते हैं.

24 अप्रैल, 1982 में पटना बिहार में जन्मे सानंद वर्मा की शुरुआती ज़िंदगी आनंदपूर्वक नहीं गुज़री थी. उनके घर की आर्थिक स्थिति कुछ अच्छी नहीं थी, इसलिए महज़ 8 साल की उम्र में वो किताबें बेचने पटना जाया करते थे. इसके लिए नन्हे सानंद को 25 किलोमीटर पैदल चलना पड़ता था. 12 साल की छोटी सी उम्र में महज़ 15 रुपये में वो बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने लगे थे. ज़िंदगी में कई मुश्किलें आईं, पीकर उन्हें मुस्कुराते हुए सब झेला और अपने लक्ष्य की तरफ़ निरंतर बढ़ते रहे.

साल 2010 से एक्टिंग की शुरुआत करनेवाले सानंद ने पहले सीआईडी, अदालत,  एक नई उम्मीद रोशनी, मिस्टर एंड मिसेज शर्मा इलाहाबादवाले, लापतागंज, जुगनी चली जालंधर, आरके लक्ष्मण की दुनिया, तू मेरे अगल बगल है जैसे टीवी शोज़ में काम किया. लेकिन उन्हें असली पहचान मिली 2015 में शुरू हुए शो भाबीजी घर पर हैं से.

टीवी शोज़ के अलावा उन्होंने अपहरण और सेक्रेड गेम्स जैसी वेब सीरीज़ में भी काम किया था. साथ ही उन्होंने फिल्मों में भी अपनी किस्मत आज़माई और रेड, मर्दानी, पटाखा व छिछोरे जैसी फिल्मों में भी अपने अभिनय की छाप छोड़ी है. सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद उन्होंने फ़िल्म छिछोरे में उनके साथ काम करने के अनुभव को लेकर अपनी वीडियो क्लिप शेयर करते हुए सोशल मीडिया पर शेयर किया था, ‘यह सीन मुझे ताउम्र याद रहेगा.’

सानंद वर्मा टीवी के उन पॉप्युलर कलाकारों में से एक हैं, जिनकी फीस काफ़ी अच्छी है. आप भी सुनकर दंग रह जाएंगे कि सक्सेनाजी शो में पिटने और करंट खाने के लिए रोज़ाना 15000 हज़ार रुपये बतौर फीस लेते हैं.

फिलहाल लॉकडाउन के बाद एक बार टीवी शोज़ की शूटिंग शुरू हो गई है. सक्सेनाजी भी भाबीजी घर पर हैं के सेट पर पहुंचकर शूटिंग शुरू कर दिए हैं. जल्द ही आपको इस शो के नए एपिसोड्स देखने को मिलेंगे. उम्मीद है कि सानंद वर्मा अपने सभी फैन्स को हमेशा आपकी कलाकारी से ख़ुश और सानंद रखेंगे.

यह भी पढ़ें: सुशांत सुसाइड केस: संजय लीला भंसाली से पुलिस ने पूछे 30-35 सवाल, जवाब में कहीं ये बातें (Sushant Singh Suicide Case: Sanjay Leela Bhansali reveals details about his conversation with Sushant in three-hour questioning by police)

Share
Published by
Aneeta Singh

Recent Posts

कहानी- हां वेरा तुम! (Short Story- Haan Vera Tum!)

"आपको ऐसे आना चाहिए था क्या मेरे सामने? लोग तरह-तरह की बातें कर रहे हैं हमारे…

Monsoon Snacks: बारिश में लें गर्म-गर्म चाय के साथ टेस्टी पकौड़ों का मज़ा (5 Easy Pakoda Recipes)

बरसात के मौसम में गर्म-गर्म चाय के साथ पकौड़े खाने के लिए मिल जाएं, तो मनचाही…

#Birthday Special: जब सुरेश वाडकर ने माधुरी दीक्षित से शादी के लिए मना कर दिया था… (Happy Birthday To Suresh Wadkar, Who Has Give Us Melodious Songs…)

सुरेश वाडकर एक लाजवाब गायक हैं. उन्होंने मनोरंजन से भरपूर गाने हिंदी, मराठी, भोजपुरी व…

© Merisaheli