मोतियाबिंद के 10 घरेलू उपचार (10 Best Home Remedies For Cataract)

मोतियाबिंद (Home Remedies For Cataract)  आंखों की पुतलियों या दृष्टि पटल के पर्दों पर छाई परान्धता को कहते हैं. यह जैसे-जैसे पकता है, वैसे-वैसे दृष्टि…

मोतियाबिंद (Home Remedies For Cataract)  आंखों की पुतलियों या दृष्टि पटल के पर्दों पर छाई परान्धता को कहते हैं. यह जैसे-जैसे पकता है, वैसे-वैसे दृष्टि धुंधली होती जाती है. इस रोग में आंखों की काली पुतलियों में स़फेद मोती जैसा बिंदु उत्पन्न हो जाता है, जिससे व्यक्ति की देखने की क्षमता कम हो जाती है. इसमें आंखों को सभी चीज़ें धुंधली नज़र आती हैं. तेज़ प्रकाश में देखना मुश्किल हो जाता है.

* सौंफ और धनिया को समान मात्रा में लेकर उसमें भूरी शक्कर मिलाएं. इसे 10-10 ग्राम की मात्रा में सुबह-शाम सेवन करने से लाभ होता है.
* 6 बादाम और 7 कालीमिर्च को पीसकर पानी मिलाकर छलनी से छान लें. उसमें मिश्री मिलाकर पीने से लाभ होता है.
* 10 ग्राम गिलोय के रस में 1-1 टीस्पून सेंधा नमक व शहद मिलाकर बारीक़ पीसकर रख लें. इसे काजल की तरह आंखों में लगाएं.
* त्रिफला को पानी में पीसकर पेस्ट बना लें. इसे आंखों पर रखकर पट्टी बांध दें.
* 10 मि.ली. प्याज़ का रस, 10 मि.ली. शहद, 2 ग्राम भीमसेनी कपूर- तीनों को अच्छी तरह मिलाकर बॉटल में भरकर रख लें. रात को सोते समय आंखों में लगाएं. सुबह भी ऐसा करें. इससे मोतियाबिंद में काफ़ी लाभ होता है.
* गाजर, पालक और आंवले के रस का सेवन करने से मोतियाबिंद बढ़ता नहीं और दो-तीन महीने में ही कटकर साफ़ हो जाता है.
* एक चम्मच पिसा हुआ धनिया एक कप पानी में उबालकर छान लें. ठंडा होने पर आंखों में डालें. इस प्रयोग से मोतियाबिंद ठीक हो जाता है.
* आंखों की तकलीफ़ हो, तो गाय का दूध ज़्यादा पीएं. मेथी, भिंडी, पालक, केला, अंगूर, सेब, नारंगी, अनार आदि अधिक खाएं. खट्टी व तीखी चीज़ें न खाएं. तेज़ रोशनी और मानसिक तनाव से भी बचना ज़रूरी है, क्योंकि इनकी वजह से तकली़फें और भी बढ़ सकती हैं.

यह भी पढ़े: नींबू के 19 चमत्कारी फ़ायदे

यह भी पढ़े: स्वादिष्ट खजूर के 10 अनोखे फ़ायदे

मोतियाबिंद का अचूक इलाज
* बहुत पुरानी ईंट का टुकड़ा पीसकर छान लीजिए. ख़ूब बारीक़ होना आवश्यक है. फिर उसे आक के दूध में भिगोकर रख दें. कुछ समय बाद दूध सूख जाएगा, तब उसके 10 ग्राम चूरे में 5-6 लौंग पीसकर मिला दें. उसी चूरे को बार-बार दिन में 5-6 बार सूंघें. इसे सूंघने पर मोतियाबिंद का जाला साफ़ हो जाता है. यह प्रयोग गांव-कस्बों में आज भी प्रचलित है.

सुपर टिप
लहसुन आंखों के लेंस को साफ़ करता है. हर रोज़ लहसुन की दो कलियां चबाने से मोतियाबिंद व आंखों की अन्य तकलीफ़ों में लाभ होता है.

– मूरत गुप्ता

 दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazana

 

Share
Published by
Usha Gupta

Recent Posts

ब्यूटी प्रॉब्लम्स: क्या कंप्यूटर के सामने ज़्यादा बैठने से आंखों को नुकसान हो रहा है? (Beauty Problems: Protect Your Eyes While Working On Computer)

मैं वर्किंग वुमन हूं. ऑफ़िस में कंप्यूटर पर ज़्यादा देर काम करने के कारण मेरी…

कोरोना काल के लॉकडाउन के दौरान बच्‍चों का ध्‍यान कैसे रखें? (How You Can Take Care Of Children During Lockdown)

दुनियाभर में अचानक आए सोशल आइसोलेशन या क्वारंटाइन जैसी स्थिति में, लोगों का भयभीत और…

अपने फेवरेट फूड को सामने देख डाइट प्लान तक भूल जाते हैं टीवी के ये स्टार्स (These Tv Stars Forget Diet Plans For Their Favourite Food)

स्लिम लुक पाने के लिए स्टार्स को क्या-क्या नहीं करना पड़ता है, यहां तक की…

दांतों और मसूड़ों का यूं रखें ख़्याल (Tips For Healthy Teeth And Gums)

जब आप हंसते-मुस्कुराते हैं, तो दुनिया को अपनेपन का एक ख़ूबसूरत संदेश देते हैं. इसमें…

© Merisaheli