Categories: FILMEntertainment

अमिताभ बच्चन की पहली फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ के 52 साल, बिग बी ने फोटो शेयर कर याद किया गुज़रा ज़माना (52 years of Amitabh Bachchan’s first film ‘Saat Hindustani’, Big B Remember Those Days by Sharing a Photo)

हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन ने अपने फिल्मी करियर में एक से बढ़कर एक हिट फिल्में दी हैं, इसलिए उन्हें बॉलीवुड के शहंशाह…

हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन ने अपने फिल्मी करियर में एक से बढ़कर एक हिट फिल्में दी हैं, इसलिए उन्हें बॉलीवुड के शहंशाह और सदी महानायक के तौर पर भी जाना जाता है. आज से करीब 52 साल पहले उन्होंने हिंदी सिनेमा में कदम रखा था और 7 नवंबर 1969 को उनकी पहली फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ रिलीज़ हुई थी. अपनी डेब्यू फिल्म के 52 साल पूरे होने की खुशी में अमिताभ बच्चन ने अपने ऑफिशियल सोशल मीडिया अकाउंट पर एक फोटो शेयर करके उस गुज़रे हुए ज़माने को याद किया है. तस्वीर देखकर फैन्स भी पुराने ज़माने में चले गए हैं. इस फिल्म में बिग बी के काम की खूब सराहना की गई थी और इसके लिए उन्हें बेस्ट न्यू एक्टर के नेशनल अवॉर्ड से भी नवाज़ा गया था.

फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

इस खास मौके पर बिग बी ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम पर सात हिंदुस्तानी की अपनी ब्लैक एंड व्हाइट फोटो शेयर की है. इसके साथ उन्होंने कैप्शन लिखा- 15 फरवरी 1969 को मेरी पहली फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ साइन की और यह 7 नवंबर 1969 को रिलीज़ हुई. 52 साल… आज… इस तस्वीर को फैन्स काफी पसंद कर रहे हैं और लाइक्स व कमेंट्स के ज़रिए इस तस्वीर पर अपना प्यार लुटा रहे हैं. यह फोटो बिग बी के चाहने वालों को पुराने दौर की याद एक बार फिर से दिला रहा है. यह भी पढ़ें: सुपर स्टार अमिताभ बच्चन ने पूरे परिवार के संग शेयर की दिवाली सेलिब्रेशन की खूबसूरत फोटो, बेटी श्वेता ने भी दिखाई बच्चन परिवार के साथ दिवाली सेलिब्रेशन की झलकियां, देखें तस्वीरें (Super Star Amitabh Bachchan Shares Family Photo Of Diwali Celebration, Daughter Shweta Bachchan Also Shares Her Photos)

बता दें कि ‘कौन बनेगा करोड़पति 13’ के सेट पर भी बिग बी ने अपनी पहली फिल्म से जुड़े किस्से को बयां किया था. उन्होंने उस दौर को याद करते हुए कहा था कि जब मैं सात हिंदुस्तानी के ऑडिशन के लिए गया तो ख्वाजा अहमद अब्बास ने मेरा नाम पूछा. जब मैंने उन्हें बताया कि मैं अमिताभ बच्चन हूं तो उन्होंने मुझसे मेरे पिता का नाम पूछा और मैंने उन्हें बताया कि मेरे पिता का नाम हरिवंशराय बच्चन है. जब उन्होंने मेरे पिता का नाम सुना तो मुझे बाहर रुकने के लिए कहा. उन्हें लगा कि घर से भाग कर ऑडिशन देने आया हूं. मुझे बाहर रुका कर उन्होंने मेरे पिताजी को फोन किया और यह पूछा कि क्या उन्हें इस बारे में पता है कि मैं ऑडिशन देने आया हूं.  

फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

बिग बी ने आगे बताया कि मेरे पिता को मेरे एक्टिंग जुनून के बारे में पता था, इसलिए उन्होंने अहमद अब्बास को बताया कि उन्हें इसके बारे में पता है. हरिवंश राय बच्चन से फोन पर बात करने के बाद ख्वाजा अहमद अब्बास ने मेरा ऑडिशन लिया और फिर मुझे इस फिल्म के लिए साइन किया. बता दें कि ख्वाजा अहमद अब्बास फिल्म ‘सात हिंदुस्तान’ के प्रोड्यूसर, डायरेक्टर, राइटर और स्क्रीनप्ले राइटर भी थे. फिल्म गोवा को पुर्तगाली शासन से आज़ाद कराने की कहानी पर आधारित थी. यह भी पढ़ें: ‘KBC’ के एक एपिसोड के लिए अमिताभ बच्चन लेते हैं इतने करोड़ की फीस, सबसे अमीर शहंशाह हैं बिग बी (Amitabh Bachchan Charges So Many Crores For An Episode Of ‘KBC’, Big B Is The Richest Emperor)

फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

गौरतलब है कि फिल्म सात हिंदुस्तानी की रिलीज़ के बाद उसे उस साल राष्ट्रीय एकता पर बनी सर्वश्रेष्ठ फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला, जबकि अमिताभ बच्चन को बेस्ट न्यू एक्टर के नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था. इसके साथ ही इस फिल्म के ‘आंधी आए कि तूफान कोई गम नहीं’ और ‘एक मंजिल पर सबकी निगाहें रहें’ जैसे गानों के लिए गीतकार कैफी आज़मी को भी राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. यह भी पढ़ें: सलमान के पिता सलीम खान ने अमिताभ बच्चन को दी रिटायर होने की सलाह, बोले- जिंदगी के कुछ साल खुद के लिए भी रखें (Salman’s Father Salim Khan Advised Amitabh Bachchan for Retirement, Says- Keep a Few Years of Life For Yourself)

Recent Posts

कहानी- अल्पविराम (Short Story- Alpviram)

"आपको काफ़ी देर से अकेले बैठे देख रहा था, इसलिए मिलने चला आया. आइए मैं…

फिल्म समीक्षा: कंगना रनौत का आग उगलता धाकड़पना दिखा ‘धाकड़’ में… (Movie Review: Dhaakad)

कंगना रनौत उन अभिनेत्रियों में से हैं जो हमेशा कुछ अलग और ख़ास करने की…

© Merisaheli