लिवर के लिए घातक हैं ये 8 आदतें ( 8 Habits Which Are Harmful For Your Liver)

यह तो आप जानते ही होंगे कि लिवर हमारे शरीर के सबसे महत्वपूर्ण अंगों में से एक है. यह हमारे शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालकर शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है. इसके अलावा भी लिवर के अनेक कार्य हैं. कहना ग़लत न होगा कि हमारा स्वास्थ्य प्रत्यक्ष रूप से हमारे लिवर के स्वास्थ्य पर निर्भर करता है. सबसे अच्छी चीज़ यह है कि हमारा लिवर ख़ुद ब ख़ुद क्षतिग्रस्त सेल्स को रिप्लेस कर देता है, लेकिन अफ़सोस की बात यह है कि हमारी कुछ आदतें लिवर को इतना क्षतिग्रस्त कर देती हैं कि उसे ठीक कर पाना नामुक़िन हो जाता है. तो जानिए क्या हैं ये आदतें, ताकि समय रहते उन्हें सुधारकर आप अपने लिवर को ख़राब होने से बचा सकें.

 

 

शराब का सेवन


शराब हमारे लिवर का सबसे बड़ा दुश्मन है. यह लिवर के लिए धीमे जहर का काम करता है. आवश्यकता से अधिक शराब का सेवन करने से लिवर की कार्यक्षमता घटती है और यह शरीर से सही ढंग से टॉक्सिन्स निकालने में असमर्थ हो जाता है. हाल ही में हुए अध्ययनों से यह सिद्ध हुआ है कि दिनभर में तीन या उससे अधिक ग्लास शराब का सेवन करने से लिवर कैंसर होने का ख़तरा बढ़ जाता है.

दवाओं का अत्यधिक सेवन


बहुत से लोगों को छोटे-मोटे दर्द में बिना डॉक्टर की सलाह लिए पेन किलर खाने की आदत होती है. यह आदत लिवर के लिए बेहद हानिकारक है, क्योंकि पेन किलर लिवर और किडनी को नुक़सान पहुंचा सकती है. इसके अलावा कुछ लोग फिट रहने और वज़न कम करने के लिए अलग अलग तरह के आकर्षक विज्ञापनों से देखकर दवाएं ले लेते हैं. इन दवाओं के सेवन से भी लिवर को नुक़सान पहुंचता है. पैरासिटामोल भी लिवर के लिए नुक़सानदेह साबित हो सकती है. डॉक्टरों के मुताबिक़ पैरासिटामोल की हैवी डोज़ लिवर को नाकाम कर सकती है. शराब पीने वालों के लिवर को यह दवा दुगुना नुक़सान
पहुंचाती है. इसलिए बेहतर यही होगा कि आप ख़ुद को पेन किलर का गुलाम न बनाएं और डॉक्टर की सलाह लिए बिना इनका सेवन न करें.

धूम्रपान

सिगरेट लिवर को अप्रत्यक्ष रूप से प्रभावित करती है. सिगरेट के धुंए में पाए जाने वाले जहरीले केमिकल्स अंत में लिवर तक पहुंचते हैं और लिवर सेल्स को नुक़सान पहुंचाते हैं. अगर आप चाहते हैं कि आपका लिवर स्वस्थ रहे तो सिगरेट पीने की आदत छोड़ दें.

नींद की कमी
जरनल ऑफ एनॉटमी में प्रकाशित एक स्टडी के मुताबिक़ नींद की कमी से लिवर पर अधिक दबाव पड़ता है. लिवर के साथ साथ अपने शरीर के अन्य अंगों को ठीक रखने के लिए हमें 8 घंटे की नींद लेना ज़रूरी होता है.

ये भी पढ़ेंः गारंटीः उपाय जो दिलाएंगे कब्ज़ से पक्का निजात

ज़्यादा प्रोटीन का सेवन
शोध कहते हैं कि अधिक मात्रा में प्रोटीन का सेवन शरीर के लिए नुक़सानदेह होता है. पर्याप्त कार्बोहाइड्रेट के बिना ज़्यादा प्रोटीन का सेवन लिवर से जुड़ी समस्याओं को बढ़ा सकता है इसलिए मीट और अंडे के साथ हरी सब्ज़ियां और स्टार्च भी भरपूर मात्रा में ग्रहण करना चाहिए.

मोटापा


मोटापा भी लिवर के लिए ख़तरनाक होता है. ज़्यादा खाने से शरीर में चर्बी बढ़ जाती है, जो स्टोरिंग सेल से बाहर आकर लीवर में जमा होने लगती है. जिससे लिवर डैमेज होने लगता है. इतना ही नहीं, लिवर के फैटी होने से हार्ट और कैंसर का ख़तरा भी बढ़ जाता है इसलिए अपने आहार और एक्सरसाइज़ पर ध्यान दें. इन दोनों पर ध्यान न देने की आदत आपका मोटापा बढ़ा सकती है और जैसा कि हमने बताया मोटापा आपके लिवर के लिए नुक़सानदायक होता है.

अत्यधिक मात्रा में प्रोसेस्ड फूड का सेवन
ज़रूरत से ज़्यादा प्रोसेस्ड फूड का सेवन करने से लिवर के ख़राब होने का ख़तरा बढ़ जाता है, क्योंकि प्रोसेस्ड फूड में भरपूर मात्रा में प्रिज़र्वेटिव्स, एडिटिव्स और आर्टिफिशियल स्वीटनर्स होते हैं, जो लिवर को नुक़सान पहुंचाते हैं.

नाश्ता न करना
सुबह का नाश्ता सबसे महत्वपूर्ण भोजन होता है. क्योंकि जब हम सुबह उठते हैं तो एनर्जी बहुत कम होती है, ऐसे में नाश्ता न करने से शरीर का एनर्जी लेवल और कम हो जाता है और लिवर को अपना काम करने में दिक्कत का सामना करना पड़ता है. इसलिए भूल कर भी सुबह का नाश्ता स्किप न करें, यह आपके शरीर व मस्तिष्क दोनों के लिए ज़रूरी है.

करें इन चीज़ों का सेवन

. डेली डायट में सेब और हरी सब्ज़ियों की मात्रा बढ़ा दें. सेब और पत्तेदार सब्जियों में मौजूद पेक्टिन पाचन तंत्र में उपस्थित विषाक्त पदार्थों को बाहर निकाल कर लिवर की रक्षा करता है. इसके अलावा, हरी सब्ज़ियां पित्त के प्रवाह को बढ़ाती हैं.
. एवोकैडो और अखरोट को अपने आहार में शामिल कर आप लिवर की बीमारियों के आक्रमण से बच सकते हैं. एवोकैडो और अखरोट में मौजूद
ग्लुटथायन, लिवर में जमा विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालकर इसकी सफ़ाई करता है.
.लिवर की बीमारियों के इलाज के लिए मुलेठी का इस्तेमाल कई आयुर्वेदिक औषधियों में किया जाता है. इसके इस्तेमाल के लिए मुलेठी की जड़ का पाउडर बनाकर इसे उबलते पानी में डालें. फिर ठंड़ा होने पर छान लें. इस पानी को दिन में एक या दो बार पीएं.
. हल्दी लीवर के लिए बहुत फ़ायदेमंद होती है. इसमें एंटीसेप्टिक गुण मौजूद होते हैं और यह एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करती है. अतःहल्दी को अपने खाने में शामिल करें या रात को सोने से पहले एक ग्लास दूध में थोड़ी-सी हल्दी मिलाकर पीएं.
. एप्पल साइडर विनेगर लिवर में मौजूद विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है. खाने से पहले एप्पल साइडर विनेगर पीने से शरीर की चर्बी घटती है. एक गिलास पानी में एक चम्मच एप्पल साइडर विनेगर सिरका मिलाएं और इसे दिन में दो से तीन बार लें.
. आंवला भी लिवर के लिए बहुत फ़ायदेमंद होता है. इसमें लिवर को सुरक्षित रखने वाले सभी तत्व मौजूद होतो हैं. लिवर के स्वस्थ रखने के लिए दिन में 4-5 कच्चे आंवले का सेवन करें.
ये भी पढ़ेंः चेहरा बताता है सेहत का हाल

 

Shilpi Sharma :
© Merisaheli