साइंटिफिक रिसर्च में करियर बनाएं (Careers Opportunities In Scientific Research)

छोटे-से अविष्कार के लिए भी बहुत रिसर्च की आवश्यकता होती है. क्योंकि हर प्रोडक्ट को कस्टमर्स तक पहुंचाने के लिए उस पर काफ़ी साइंटिफिक रिसर्च…

छोटे-से अविष्कार के लिए भी बहुत रिसर्च की आवश्यकता होती है. क्योंकि हर प्रोडक्ट को कस्टमर्स तक पहुंचाने के लिए उस पर काफ़ी साइंटिफिक रिसर्च (Scientific Research) की जाती है. पब्लिक सेक्टर और प्राइवेट सेक्टर दोनों में ही किसी भी प्रोडक्ट या तकनीक के लिए बहुत ज़्यादा रिसर्च करनी पड़ती है. इसलिए इस क्षेत्र में करियर बनाने का अपना अलग ही मज़ा है.

साइंटिफिक रिसर्च चुनौती भरा करियर है. इसके लिए एमएससी के बाद नेट क्वालिफाई करके इस क्षेत्र में आगे बढ़ा जा सकता है. नई चीज़ों की खोज हमेशा आनंददायी होती है. लेकिन 5 साल की इस रिसर्च में कड़ी मेहनत की ज़रूरत होती है. अब तो रिचर्स के साथ ही महीने की सैलरी भी मिलने लगी है, जो आजकल युवाओं को इस ओेर खींचने में सफ़ल साबित हो रही है. देश-विदेश घूमने का मौका मिलता है. कई इंस्टीट्यूट अब इस क्षेत्र में खुलकर आगे आ रहे हैं, जिससे छात्रों को वैराइटी मिलने लगी है. होनहार और विज्ञान में रुचि रखनेवालों के लिए ये एक बेहतरीन ऑप्शन है.

क्या है साइंटिफिक रिसर्च?
नई चीज़ों की खोज करना ही आम बोलचाल की भाषा में साइंटिफिक रिसर्च कहलाता है.

शैक्षणिक योग्यता
एम.एस.सी. के बाद नेट क्वालिफाई करके आप इस क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं. इस योग्यता के साथ तेज़ दिमाग़ वाले इस प्रोफेशन की जान होते हैं.

और भी पढ़ें: फर्नीचर डिज़ाइनिंग: बदलें घर-ऑफिस का नक्शा (Career As A Furniture Designer)

प्रमुख संस्थान
– टी.आई.एफ.आर. मुंबई और बैंगलोर.
– एन.सी.बी.एस. बैंगलोर.
– आई.आई.एस.सी. बैंगलोर.
– एन.पी.एल., दिल्ली.
– एन.सी.एल., पुणे.

रोजगार की संभावनाएं
रिसर्च करते हुए और करने के बाद दुनिया के किसी भी रिसर्च सेंटर में आप आसानी से जॉब कर सकते हैं.

और भी पढ़ें: पब्लिक रिलेशन में बनाएं करियर (Make Career In Public Relations)

Recent Posts

काजोल ने ट्रोलर्स से निपटने के लिए अपने बच्चों को दिया ये दमदार मंत्र (Kajol Gave This Powerful Mantra To Her Children To Deal With Trollers)

सोशल मीडिया ने जहां लोगों की जिंदगी काफी आसान कर दी है, वहीं इससे लोगों…

© Merisaheli