हैंडबैग्स सिलेक्शन

हैंडबैग्स का सिलेक्शन करते समय अपनी पर्सनैलिटी को सूट करता हुआ बैग ही ख़रीदना चाहिए. यदि बड़ा बैग है, तो कंधे पर लटकाकर और यदि क्लच है, तो हाथ में पकड़कर, एक बार आईने में ज़रूर देखें. आइए, हैंडबैग्स सिलेक्शन से जुड़ी और ज़रूरी बातों के बारे में जानें.

स्लिम-टॉल बॉडी
* पतले और लंबे क़द की महिलाओं को छोटा हैंडबैग, जिसका हैंडल या बेल्ट लंबा हो ख़रीदना चाहिए.
* चौड़े हैंडबैग भी लंबे और पतले लोगों पर ख़ूब फबते हैं.
* छोटे स्ट्रैप्स वाले शोल्डर बैग न ख़रीदें. इससे आप और लंबी लगेंगी.

स्मॉल बॉडी
* इन्हें बड़े ओवरसाइज़ बैग लेने की बजाय नॉर्मल बैग लेने चाहिए.
* इसके अलावा आप बड़े स्ट्रैप्सवाले हैंडबैग्स भी ले सकती हैं, इससे आप लंबी लगेंगी.

प्लस साइज़ बॉडी
* इन्हें बड़े अथवा बॉक्सी हैंडबैग्स ख़रीदने चाहिए. यह उनके मोटापे को आसानी से बैलेंस कर लेते हैं.
* छोटे हैंडबैग्स प्लस साइज़ की महिलाओं को इस्तेमाल नहीं करने चाहिए.

नॉर्मल बॉडी
* नॉर्मल बॉडी पर हर साइज़ के बैग्स सूट करते हैं.
* सामान्यतः एक ब्लैक और एक ब्राउन हैंडबैग ख़रीदना चाहिए, जो हर कलर के ड्रेस के साथ सूट करता है.

कैसे चुनें फंक्शनल हैंडबैग्स?
अलग-अलग ओकेज़न और सामान के लिए जो अलग-अलग तरह के हैंडबैग्स इस्तेमाल किए जाते हैं, वे फंक्शनल हैंडबैग्स कहलाते हैं.

टोट बैग्स
ये छोटे से लेकर मीडियम स्ट्रैप्सवाले होते हैं. ये मल्टीपरपज़ के रूप में इस्तेमाल किए जाते हैं. इनमें कई तरह की चीज़ें रखी जा सकती हैं.

हेवरसैक/बैक पैक
यह ट्रैवल बैग होते हैं, इसमें कई कंपार्टमेंट्स होते हैं, जिनमें कपड़ों से लेकर अन्य सामान रखे जा सकते हैं. ये बैग पीठ पर कैरी करने के कारण हाथ फ्री होते हैं, अतः यह ट्रैवलिंग के लिए काफ़ी सुविधाजनक होते हैं.

ब्रीफकेस
यह लेदर/पॉलीयूरेथिन मटेरियल के बने होते हैं. इनमें भी सभी तरह की चीज़ें, कपड़े, बिज़नेस डॉक्यूमेंट्स रखे जा सकते हैं. कई ब्रीफकेस में व्हील और हैंडल भी लगे होते हैं. इससे इन्हें उठाने की बजाय हैंडल से खींचना आसान होता है.

एयर बैग्स/डफल बैग्स
ये बैग छोटे, मीडियम और बड़े यानी तीनों साइज़ों में मिलते हैैं, जो ऊपर से खुलते हैं और ऊपर से चौड़े भी होते हैं. ये कैनवास, नायलॉन या लेदर से बने होते हैं. कई एयर बैग्स में व्हील और हैंडल लगे होते हैं, जिससे इसे आसानी से एक जगह से दूसरी जगह ले जा सकते हैं.

स्लिंग बैग्स
यह छोटे से लेकर मीडियम साइज़ में मिलते हैं. इसे कंधे के एक ओर या गले में सामने भी लटकाया जा सकता है. इसमें कई कंपार्टमेंट होते हैं, जिनमें कई चीज़ें रखी जा सकती हैं. यह काफ़ी सुविधाजनक होते हैं.

डाइपर बैग्स
यह बैग नवजात शिशु से लेकर छोटे बच्चों की मांओं के लिए बहुत फ़ायदेमंद है. इसमें शिशु की दूध की बोतल से लेकर, उसके कपड़े, पानी की बोतल, डाइपर व अन्य आवश्यक चीज़ें आ जाती हैं. ये बैग्स नायलॉन के बने होते हैं, जिन्हें साफ़ करना भी आसान होता है. आजकल कैनवास और लेदर के बने डाइपर बैग भी आने लगे हैं, जो पानी से साफ़ किए जा सकते हैं.

यह भी देखें: 20 बेस्ट डिज़ाइनर सलवार-कमीज़ 

डेलीवेयर हैंडबैग्स
होलो बैग्स- ये छोटे साइज़ के होते हैं, जो कंधों पर आसानी से लटकाए जा सकते हैं.
सेचल बैग्स- यह तिकोने आकार के होते हैं. इसमें क़िताबें आदि रखी जाती हैं.
शोल्डर बैग्स- इसमें सिंगल या डबल स्ट्रैप्स होते हैं. ये बैग्स इस्तेमाल में बहुत ईज़ी होते हैं.
फ्लैप बैग्स- फ्लैप बैग्स में एक फोल्ड होता है, जो बैग को कवर करके रखता है.
डेमी हैंडबैग्स- इनका हैंडल बहुत छोटा होता है. इसे हाथ के अलावा कंधों पर भी आसानी से लटकाया जा सकता है.
शॉपर्स बैग्स- ये टॉप हैंडल हैंडबैग्स होते हैं, जिनमें बंद करने के लिए ज़िप या बटन लगे होते हैं. यह मॉल में शॉपिंग के काम आते हैं.
क्लच- इसमें स्ट्रैप्स या हैंडल नहीं होते. इसे एक हाथ में पकड़ना पड़ता है.

यह भी देखें: साड़ी गाइड: बॉडी टाइप के अनुसार कैसे चुनें परफेक्ट साड़ी 

हैंडबैग्स ख़रीदने से पहले
* सबसे पहले यह देखें कि जो पर्स/हैंडबैग्स आप ख़रीद रही हैं, उसका इस्तेमाल कहां
करनेवाली हैं यानी ऑफिस के लिए, पार्टी के लिए या शॉपिंग करते समय घूमने के लिए. यह भी देखें कि जो सामान आप इसमें रखना चाहती हैं, उतनी पर्याप्त जगह इसमें है या नहीं. इन सारी बातों को ध्यान में रखते हुए ही हैंडबैग्स ख़रीदें.
* ध्यान रहे, जितना पैसा आप बैग पर ख़र्च कर रही हैं, वह उतना क्वॉलिटीवाला और उतना ही टिकाऊ हो.
* यह भी देखें कि हैंडबैग्स का कलर क्या है? यह आपकी स्टाइल और कपड़ों से मैच होता है या नहीं? वैसे ब्लैक और ब्राउन कलर के हैंडबैग्स हर स्टाइल पर मैच होते हैं.

ड्यूरेबिलिटी
बैग्स ख़रीदने से पहले यह देख लें कि आपकी चीज़ें उसमें आसानी से फिट हो सकती हैं या नहीं. साथ ही बैग्स की चेन या पुशबटन सही और अच्छी क्वॉलिटी के होने चाहिए, वरना अधिक इस्तेमाल से ये ख़राब हो जाते हैं.

कंफर्ट
बैग्स ख़रीदते समय उसे हाथ में या कंधे पर लटकाकर अच्छी तरह से तसल्ली कर लें कि आपको यह सुविधाजनक लग रहा है या नहीं. हैंडल की लंबाई पर भी ध्यान दें.

क्वॉलिटी
माना ब्रांडेड बैग्स बहुत महंगे होते हैं, पर ये कंपनियां क्वॉलिटी से कोई समझौता नहीं करतीं. यदि आप ज़्यादा पैसे नहीं ख़र्च करना चाहतीं, तो ब्रांडेड कंपनी के सेल का इंतज़ार करें. क्योंकि सेल में 40-50% छूट में अच्छी क्वॉलिटी के बैग्स मिल जाते हैं. या फिर आप ऑनलाइन भी ऑर्डर कर सकती हैं, उनमें भी काफ़ी छूट मिल जाती है.

क्लासी बैग्स लें
यदि आप एक ही बैग का इस्तेमाल सभी जगह करना चाहती हैं, तो बहुत ज़्यादा ट्रेंडी बैग ना ख़रीदें. इसमें बहुत ज़्यादा बटन्स, चेन्स और डिज़ाइन होते हैं. ऐसे बैग्स हर जगह इस्तेमाल नहीं किए जा सकते. बेहतर होगा सिंपल, पर क्लासी बैग्स ख़रीदें.

– डॉ. सुषमा श्रीराव

फैशन की अन्य ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें
Meri Saheli Team :
© Merisaheli