Categories: FILMEntertainment

सुशांत सिंह राजपूत केस में बोलीं कंगना रनौत, कहा अगर अपनी बात को साबित नहीं कर पाई, तो लौटा दूंगी पद्मश्री (Sushant Singh Rajput Case: Kangana Ranaut Will Return Padma Shri If She Can’t Prove Her Claims)

बेबाक और बिंदास कंगना ने हमेशा अपनी बात मज़बूती के साथ रखी है. बॉलीवुड में चल रहे भाई भतीजावाद पर वो पहले भी बोल चुकी…

बेबाक और बिंदास कंगना ने हमेशा अपनी बात मज़बूती के साथ रखी है. बॉलीवुड में चल रहे भाई भतीजावाद पर वो पहले भी बोल चुकी हैं, पर सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से ही कंगना रनौत ने बॉलीवुड में चल रहे नेपोटिज़्म के ख़िलाफ़ खुलकर अपनी बात रखी. स्टार किड्स को फेवर करने और टैलेंटेड ऐक्टर्स को आउटसाइडर्स की तरह ट्रीट करनेवाले गुट के ख़िलाफ़ एक तरफ़ से उन्होंने मोर्चा खोल रखा है. हाल ही में एक न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि अगर मैं अपनी बात साबित नहीं कर पाई, तो पद्मश्री सम्मान लौटा दूंगी.

सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद कंगना रनौत के कई वीडियोज़ सोशल मीडिया पर शेयर किए, जिसमें उन्होंने बॉलीवुड में कुछ लोगों को सुशांत के ख़िलाफ़ गुटबाज़ी का आरोप भी लगाया. कंगना ने अपने वीडियो में बताया किस तरह सुशांत बॉलीवुड और मीडिया दोनों से ही प्रेशर और रिजेक्शन झेल रहे थे. उन्होंने मीडया के कुछ रिपोर्टर्स को भी सेलेब्स के नाम लिए बिना उनके बारे में ब्लाइंड आर्टिकल्स लिखने के लिए झाड़ा. उन्होंने यहां तक पूछा कि जिस तरह का व्यवहार उनके साथ किया गए, उसके सुशांत का ऐसा कदम सुसाइड है या प्लांड मर्डर.

हाल ही में एक न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में कंगना ने बताया कि उन्हें सुशांत सिंह राजपूत केस में पुलिस का समन आया था. पुलिस उनका बयान लेना चाहती थी, पर जब मुझे फोन आया, तो मैंने बताया कि मैं मनाली में हूं, आप मुंबई से किसी को भेज दीजिये स्टेटमेंट लेने के लिए. उसके बाद से उनका कोई रिप्लाई नहीं आया.

क्वीन एक्ट्रेस कंगना ने कहा कि अगर मैंने कुछ ऐसा कहा है, जो मैं साबित नहीं कर पाई या फिर वो पब्लिक डोमेन में नहीं है, तो मैं अपना पद्मश्री लौटा दूंगी. मैं ऐसी नहीं हूं, जो कुछ भी कहे, मैंने जो कुछ भी कहा है, वो पब्लिक डोमेन में हैं.

कंगना ने यहां तक कहा कि कल को ये ज़रूरतमंद आउटसाइडर्स स्वरा भास्कर और तापसी पन्नू उठकर कहेंगी कि वो इस इंडस्ट्री से कितना प्यार करती हैं. मकीन सिर्फ़ इतना पूछना चाहती हूं कि अगर आप इस इंडस्ट्री से प्यार करती हो या करण जौहर से प्यार करती हो, आपको उतना काम क्यों नहीं मिलता, जितना आलिया और अनन्या को मिलता है. उनका इस इंडस्ट्री में होना ही नेपोटिज़्म का प्रूफ है. कंगना ने यह भी कहा कि मेरे इस इंटरव्यू के बाद मेरे बारे में लिखा जाएगा कि मैं पागल हो गयी हूं, मुझे पता है.

कंगना ने मुंबई पुलिस की जांच पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्होंने करण जौहर, आदित्य चोपड़ा, महेश भट्ट और फ़िल्म क्रिटिक राजीव मसंद को समन क्यों नहीं भेजा. महेश भट्ट पर गंभीर आरोप लगाते हुए कंगना ने कहा कि अपनी फिल्मों को चलाने के लिए वो परवीन बॉबी की बीमारी को बेचते आ रहे हैं. कंगना ने कहा कि पुलिस ने संजय लीला भंसाली को समन भेजा और तो और इंडस्ट्री में देवता समान शेखर कपूर को भी समन भेजा. इस तरह से कंगना ने मुंबई पुलिस की जांच पर ही सवालिया निशान लगाए हैं.

यह भी पढ़ें: ‘देवों के देव महादेव’ की पार्वती सोनारिका भदौरिया टीवी ऐक्ट्रेस से बन गई हैं फिल्म ऐक्ट्रेस, जानें उनकी असल ज़िंदगी से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें (Unknown Facts About Devon Ke Dev Mahadev Fame Sonarika Bhadoria)

Recent Posts

© Merisaheli