Categories: TVEntertainment

‘कवच महाशिवरात्रि’ सीरियल की एक्ट्रेस दीपिका सिंह के 10 फिटनेस मंत्र (10 Fitness Mantra Of Kavach Mahashivratri Serial Actress Deepika Singh)

टीवी एक्ट्रेस दीपिका सिंह (Diya Aur Baati Hum Actress Deepika Singh) ने डिलीवरी के बाद 18 किलो वज़न कम किया और एक बार फिर पहले…

टीवी एक्ट्रेस दीपिका सिंह (Diya Aur Baati Hum Actress Deepika Singh) ने डिलीवरी के बाद 18 किलो वज़न कम किया और एक बार फिर पहले की तरह स्लिम-ट्रिम हो गई हैं. पॉप्युलर सीरियल ‘दीया और बाती हम’ में आईपीएस ऑफिसर संध्या का किरदार निभाकर घर-घर की चहेती बन चुकी दीपिका सिंह इन दिनों कलर्स चैनल पर प्रसारित हो रहे ‘कवच महाशिवरात्रि’ (Kavach Mahashivratri) सीरियल में अभिनय कर रही हैं. मां बनने के बाद दीपिका ने अपने बढ़े हुए वज़न को कैसे कम किया? कैसे ख़ुद को स्लिम-ट्रिम और खूबसूरत बनाया? इसके सीक्रेट्स जानना चाहते हैं, तो चलिए हम आपको बताते हैं टीवी एक्ट्रेस दीपिका सिंह के 10 फिटनेस मंत्र.

1) डिलीवरी के 2 महीने बाद दीपिका सिंह ने थोड़े समय के लिए जिम जाना शुरू किया. जिम में दीपिका ट्रेडमिल, क्रॉस ट्रेनर, कार्डियो वगैरह करती थी, क्योंकि ब्रेस्ट फीडिंग की वजह से वो वेट ट्रेनिंग नहीं सकती थी. अब दीपिका अपने वज़न को डांस और योगा से बैलेंस करती हैं.

2) दीपिका सिंह को डांस करना बहुत पसंद है. दीपिका ने अपने गुरु सनातन चक्रवर्ती जी से ओड़िसी डांस की ट्रेनिंग ली है. दीपिका सिंह ये मानती हैं कि डांस एक अच्छी एक्सरसाइज़ है और इससे उन्हें बहुत ख़ुशी मिलती है.

3) जिम, डांस, योगा, मेडिटेशन के साथ-साथ दीपिका सिंह अपनी डायट पर भी ख़ास ध्यान देती हैं. दीपिका सिंह का मानना है कि हमें हर चीज़ खानी चाहिए, लेकिन लिमिट में. डायटिंग का ये मतलब नहीं है कि ख़ुद को खाने से इतना दूर कर दो कि आपकी इम्यूनिटी ही ख़राब हो जाए. फिर कल को जब आप कोई चीज़ खाएं तो आपकी बॉडी उसे डाइजेस्ट ही न कर पाए. दीपिका सिंह ने कभी क्रैश डायट नहीं की है, लेकिन वो खाना पचाने के लिए रेग्युलर एक्सरसाइज़ हमेशा करती हैं.

यह भी पढ़ें: शादी की तीसरी सालगिरह सेलिब्रेट करने के लिए फॉरेन ट्रिप पर निकले दिव्यांका त्रिपाठी व विवेक दहिया, देखें पिक्स (Diyvanka Tripathi And Vivek Dahiya Kickstart Their 3rd Wedding Anniversary Celebration With A Trip)

4) दीपिका सिंह ये मानती हैं कि आप यदि राइट टाइम पर राइट चीज़ें और राइट प्रपोर्शन में खाते हैं, तो आपका वज़न जल्दी घटता है. आप जिस टाइम पर खाते हैं, रोज़ उसी टाइम पर खाइए. ख़ूब पानी पीएं और एक्टिव रहें. रेग्युलर एक्सरसाइज़ करें. दीपिका सिंह बार-बार नहीं खाती, वो दिन में 3-4 बार ही खाती हैं, वो भी घर का बना नॉर्मल खाना. दीपिका सिंह के अनुसार, हेल्दी डायट के साथ-साथ रेग्युलर एक्सरसाइज़ भी बेहद ज़रूरी है, ताकि आपका खाना अच्छी तरह पच जाए.

5) दीपिका सिंह सुबह छह बजे उठकर एक बॉटल गर्म पानी में 1-2 टीस्पून दालचीनी पाउडर मिलाकर पीती हैं. दीपिका का कहना है कि ये शरीर के टॉक्सिन बाहर निकालकर शरीर की सफ़ाई का काम करता है.

यह भी पढ़ें: ‘कसौटी ज़िंदगी की 2’ के सेट पर पहुंचकर अनुराग व प्रेरणा के साथ हिना ख़ान ने की खूब मस्ती, देखें पिक्स व वीडियोज़ (When Hina Khan Was Back On The Set Of Kasautii Zindagii Kay 2)

6) दीपिका सिंह सुबह 8 बजे तक नाश्ता कर लेती हैं. नाश्ते में वो पोहा या ओट्स में मूंगफली, फ्रूट्स वगैरह डालकर खाती हैं. वर्कआउट, डांस, योगा वगैरह के बाद दीपिका सिंह शिकंजी (नींबू पानी) या छाछ पीती हैं.

7) दीपिका सिंह एक-डेढ़ बजे तक लंच कर लेती हैं. लंच में 2 रोटी, 2 सब्ज़ी (एक सूखी और एक रस वाली), दाल, दही, हरी मिर्च, प्याज़… बिल्कुल देसी स्टाइल में खाना खाती हैं.

8) शाम पांच बजे दीपिका सिंह चाय के साथ बिस्किट या खाखरा लेती हैं. कई बार चना या मूंगफली भी खाती हैं.

9) दीपिका सिंह शाम चार बजे तक ख़ूब पानी पीती हैं और उसके बाद ज़रूरत के हिसाब से पीना पीती हैं.

10) दीपिका सिंह शाम सात बजे तक डिनर कर लेती हैं.

यह भी पढ़ें: ‘दीया और बाती हम’ की एक्ट्रेस पूजा शर्मा बनीं मां, देखें पिक्स (Diya Aur Baati Hum Actress Pooja Sharma Becomes A Proud Mother Of A Lil Girl!)

…इसलिए फिट रहना ज़रूरी है
दीपिका सिंह कहती हैं कि फिट रहकर, सही डायट लेकर, रेग्युलर एक्सरसाइज़ करके आप बीमारियों से दूर रह सकते हैं, बढ़ती उम्र के संकेतों को कम कर सकते हैं और हमेशा कॉन्फिडेंट नज़र आ सकते हैं.

Recent Posts

हेल्दी और फिट रहना है, तो बचें इन हेल्दी चीज़ों के ओवर डोज़ से… (Stop Overdoing These 11 Healthy Habits To Stay Fit And Healthy)

हेल्दी और फिट रहने के लिए हेल्दी आदतों का होना अच्छी बात है, लेकिन जब यही अच्छी आदतें हद से ज़्यादा बढ़कर सनक बन जाती हैं तो आपको फिट रखने की बजाय नुक़सान ही ज़्यादा पहुंचाती हैं. ऐसे में बेहतर होगा कि कुछ चीज़ों केओवर डोज़ से बचा जाए…  बहुत ज़्यादा डायटिंग करना: अपने बढ़ते वज़न पर नज़र रखना और उसको कंट्रोल में रखने के लिए डायटिंग करना अच्छी बात है, लेकिन जब ये डायटिंग हद से ज़्यादा बढ़ जाती है तो वो आपको फिट और स्लिम रखने की बजाय कमज़ोर करने लगती है. कुछ लोग पतले बने रहने के चक्कर में खाना-पीना ही बंद कर देते हैं, जबकि डायटिंग का मतलब खाना बंद करना नहीं होता, बल्कि अनहेल्दी खाने को हेल्दी खाने से रिप्लेस करना होता है. लेकिन जब आप खाना एकदम ही कमकर देते हो, तो शरीर में पोषण की कमी होने लगती है और आप कमज़ोर होकर कई हेल्थ प्रॉब्लम्स से घिर जाते हो. बहुत ज़्यादा एक्सरसाइज़ करना: फिट रहने के लिए एक्सरसाइज़ करना बहुत ही हेल्दी हैबिट है, लेकिन ओवरएक्सरसाइज़ से आपको फ़ायदा कम और नुक़सान ज़्यादा होगा. यह न सिर्फ़ आपको थका देगी, बल्कि इससे आपकीमसल्स या बॉडी डैमेज तक हो सकती है. हेवी वर्कआउट के बाद बॉडी को रेस्ट की भी ज़रूरत होती है, वरना शरीर थकजाएगा और आप ऊर्जा महसूस नहीं करेंगे.  बहुत ज़्यादा सप्लीमेंट्स खाना: कुछ लोगों की आदत होती है कि वो अपनी हेल्थ को लेकर ज़्यादा ही सोचते हैं और इसओवर कॉन्शियसनेस की वजह से खुद को फायदे की बजाय नुक़सान पहुंचा लेते हैं. बिना किसी सलाह के सिर्फ़ यहां-वहांसे पढ़कर या किसी की सलाह पर सप्लीमेंट्स खाना आपको गंभीर रोगों के ख़तरे तक पहुंचा सकता है. अगर आप फिट हैंऔर हेल्दी खाना खाते हैं तो सप्लीमेंट की ज़रूरत ही क्या है. इसी तरह से जो लोग बहुत ज़्यादा मल्टी विटामिंस लेते हैं उन्हेंकैंसर का ख़तरा अन्य लोगों की तुलना में अधिक होता है, क्योंकि इनके अधिक सेवन से कोशिकाओं का सामान्य निर्माणक्रम प्रभावित होकर रुक जाता है. अगर आप विटामिन सी अधिक मात्रा में लेते हैं, तो डायरिया का ख़तरा बढ़ जाता है, इसी तरह बहुत ज़्यादा विटामिन बी6 नर्व को डैमेज कर सकता है और अगर गर्भावस्था में विटामिन ए की अधिकता हो गईतो उससे बच्चे में कुछ बर्थ डिफ़ेक्ट्स हो सकते हैं. बेहतर होगा जो भी खाएं सीमित और संतुलित मात्रा में ही खाएं. पानी बहुत ज़्यादा पीना: पानी सबसे हेल्दी और सेफ माना जाता है, लेकिन अति किसी भी चीज़ की अच्छी नहीं होती. बहुतज़्यादा पानी पीने से रक्तप्रवाह में सोडियम को पतला कर देता है, जिससे मस्तिष्क की कार्य प्रणाली बिगड़ सकती है औरयहां तक कि व्यक्ति की मौत भी हो सकती है. इस अवस्था को हाईपोरिट्रेमिया कहते हैं जो उन लोगों में अधिक पाई जातीहै, जो खुद को बहुत ज़्यादा हाइड्रेट करते हैं, जैसे- एथलीट्स वग़ैरह. इसी तरह जिन लोगों को कुछ मेडिकल कंडिशन होतीहै उनको भी ज़्यादा पानी मना है, जैसे- कोरॉनरी हार्ट डिसीज़ वालों को अधिक पानी के सेवन से बचना चाहिए. दरअसलआपके शरीर को जब भी किसी चीज़ की ज़रूरत होती है, तो वो खुद ही आपको सिग्नल दे देता है, इसीलिए जब शरीर कोपानी की ज़रूरत होती है, तो आपको प्यास लगती है, लेकिन कुछ लोगों की आदत ही होती है कि वो बिना सोचे-समझेगिन-गिनकर नाप-तोलकर ज़बर्दस्ती पानी पीते रहते हैं ये सोचकर कि इससे उनका पाचन अच्छा होगा और स्किन भी ग्लोकरेगी.  शुगर की जगह आर्टिफ़िशियल स्वीटनर का ज़्यादा प्रयोग: माना शुगर कम करना हेल्दी हैबिट है, लेकिन इसकी जगह आर्टिफ़िशियल स्वीटनर का ही इस्तेमाल करना शुरू देना वज़न कम करने की बजाए बढ़ाता है. इसके अलावा शुगर काएकदम ही प्रयोग बंद करने से आपका शुगर लेवल कम होकर कमज़ोरी का एहसास कराएगा. ऊर्जा के लिए शुगर भी ज़रूरी है.  दांतों को बहुत ज़्यादा और देर तक ब्रश करना: कई लोगों की ये मान्यता है कि दांतों को जितना घिसेंगे, वो उतने हीचमकेंगे. लेकिन बहुत ज़्यादा देर तक ब्रश करने से आप दांतों के इनामल को नुक़सान पहुंचाते हैं और साथ ही मसूड़े भीडैमेज होते हैं इससे. बेहतर होगा सॉफ़्ट ब्रिसल्स वाला टूथ ब्रश यूज़ करें और बहुत ज़ोर लगाकर ब्रश न करें. हेल्दी फल व सब्ज़ियों का ज़्यादा सेवन: चाहे फल हों या सब्ज़ियां या कोई भी हेल्दी फूड उनका ज़रूरत से ज़्यादा सेवन भीख़तरनाक हो सकता है. हरी सब्ज़ियां जहां आपका पर अपसेट कर सकती हैं, वहीं गाजर से आपको ऑरेंज स्किन कीसमस्या हो सकती है. इसी तरह इन दिनों ऑलिव ऑइल भी बहुत पॉप्युलर है लेकिन इसके ज़्यादा प्रयोग से आप सिर्फ़अधिक कैलरीज़ और फ़ैट्स ही बढ़ाएंगे.  साबुन-पानी की बजाय बहुत ज़्यादा सैनिटायज़र का इस्तेमाल: माना आज COVID के चलते सैनिटायज़र बेहद ज़रूरीऔर मस्ट हैव प्रोडक्ट बन चुका है, लेकिन अगर आप घर पर हैं और साबुन से हाथ धोने का ऑप्शन है तो बेहतर होगा कि…

© Merisaheli