Her Special Stories

बंद होगा सरोगेसी का कारोबार ( Surrogacy business will close)

लंबे समय से सरोगेसी को लेकर चल रही बहस पर विराम लगाते हुए कैबिनेट ने सरोगेसी बिल पास कर दिया है यानी अब हर किसी को आसानी से किराए की कोख उपलब्ध नहीं होगी. Surrogacy business

 

सरोगेसी बिल

बिल में साफ़ कहा गया है कि विदेशियों को भारत में किराए की कोख नहीं मिल पाएगी. साथ ही भारतीय कपल्स को भी आसानी से ये सुविधा नहीं मिल सकती. सरोगेसी का सहारा लेने से पहले उन्हें साबित करना होगा कि वो नेचुरल तरी़के से बच्चा पैदा करने में असमर्थ हैं. मेडिकली अनिफट होने की बात साबित होने पर ही उन्हें सरोगेसी की इजाज़त मिलेगी, लेकिन अविवाहित, समलैंगिक दंपति और लिव इन में रहनेवाले कपल्स को सरोगेसी की इजाज़त नहीं होगी. बिल में कहा गया है कि किसी महिला को एक ही बार सरोगेसी की अनुमति होगी. सरोगेसी के लिए पुरुष की उम्र 26 से 55 के बीच और महिला की उम्र 23 से 50 साल के बीच होनी चाहिए. शादी के पांच साल बाद ही इसकी इजाज़त होगी और यह काम रजिस्टर्ड क्लीनिकों में ही होगा. सरकार ने सरोगेसी के बढ़ते व्यावसायिक इस्तेमाल पर रोक के मक़सद से ही सरोगेसी बिल पास किया. साथ ही सरोगेसी के मामलों की निगरानी के लिए एक बोर्ड बनाने का प्रस्ताव भी है.

ज़रूरत शौक़ बन गई है

बिल पास होने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि सरोगेसी कुछ सेलेब्रिटीज़ के लिए एक शौक़ बन गया है और जिनके पास बेटे और बेटियां हैं वे भी सरोगेसी का इस्तेमाल कर रहे हैं, क्योंकि उनकी पत्नियां प्रेग्नेंसी नहीं चाहती हैं. सरकार आगे से इसकी इजाज़त नहीं देगी. दरअसल, सरोगेसी का मकसद ज़रूरतमंद कपल्स की मदद करना था, मगर धीरे-धीरे ये पूरी तरह से व्यवसायिक बन गया है, इतना ही नहीं अब तो अधिकांश महिलाएं प्रेग्नेंसी के दर्द से बचने के लिए इस आसान रास्ते का इस्तेमाल करने लगी हैं.

बिल की अहम बातें

* स्वास्थ्य मंत्री की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सरोगेसी बोर्ड का गठन किया जाएगा.

* सरोगेसी बोर्ड में दो सांसद सदस्य होंगे.

* स़िर्फ भारतीय नागरिकों को सरोगेसी का अधिकार होगा.

* यह अधिकार एनआरआई और ओसीआई होल्डर को नहीं मिलेगा.

* सिंगल पैरेंट्स, होमोसेक्सुअल जोड़े, लिव इन में रहनेवालों को सरोगेसी की इजाज़त नहीं होगी.

* सरोगेसी के अनैतिक इस्तेमाल पर रोक लगेगी, गरीब महिलाओं की कोख किराए पर लेना गुनाह होगा.

* सरोगेसी के व्यावसायिक इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगेगा.

* सरोगेसी का प्रावधान केवल निःसंतान दंपतियों के लिए.

* निःसंतान दंपति को भी केवल एक बार ही सरोगेसी की इजाज़त होगी.

* एक महिला एक ही बार सरोगेट मदर बन सकेगी. उसका विवाहित होना और एक स्वस्थ बच्चे की मां होना ज़रूरी है.

बॉलीवुड सेलिब्रेटी ने भी ली सरोगेसी की मदद

* हाल ही में तुषार कपूर सरोगेसी के ज़रिए एक बेटे के पिता बनें, जबकि अभी तक उन्होंने शादी नहीं की है.

* शाहरुख़ ख़ान के तीसरे बेटे अब्राहम ख़ान का जन्म आईवीएफ तकनीक के ज़रिए सरोगेसी से हुआ है.

* आमिर ख़ान व किरण राव के बेटे आज़ाद राव ख़ान का जन्म भी आईवीएफ तकनीक के ज़रिए सरोगेसी से ही हुआ है.

* फराह ख़ान ने भी अपने तीनों बच्चे के आईवीएफ तकनीक से होने की बात सार्वजनिक रूप से कही थी.

क्या है सरोगेसी?

गर्भधारण में दिक्क़त होने की वजह से जो लोग मां-बाप नहीं बन पाते, वे किराए की कोख से बच्चा पैदा करते हैं. यही सरोगेसी है. पैरेंट्स के स्पर्म और एग को बाहर फर्टिलाइज़ करके सरोगेट मदर के गर्भ में पहुंचा दिया जाता है.

तेज़ी से बढ़ता सरोगेसी कारोबार

पिछले कुछ सालों से भारत में सरोगेसी का कारोबार बहुत तेज़ी से बढ़ रहा था. आकड़ों के अनुसार हर साल विदेशों से आए दंपतियों के 2000 बच्चे यहां होते हैं. क़रीब 3000 क्लीनिक इस काम में लगे हुए हैं, लेकिन नए क़ानून के बाद इसमें मजबूर महिलाओं के शोषण की गुंजाइश नहीं रहेगी. सरकार देश में सरोगेसी को रेग्यूलेट करने के लिए एक नया क़ानूनी ढांचा तैयार करना चाहती है. अब अगली चुनौती बिल के प्रारूप पर राजनीतिक सहमति बनाकर इसे संसद के शीतकालीन सत्र में पारित कराने की होगी.

सरोगेसी के लिए भारत क्यों है विदेशियों की पसंद?

– अमेरिका में सरोगेसी की लागत 1.20 लाख डॉलर (54.67 लाख रु.) तक हो सकती है, जबकि भारत में इसका खर्च 10 से 25 लाख रुपए के बीच ही है. सिंपल सरोगेसी की लागत गुजरात के आणंद में 7 लाख रुपए है.

– भारत में सरोगेसी पर किसी तरह की पाबंदी लगाने वाला कोई क़ानून नहीं है. ब्रिटेन और कुछ अन्य देशों में सरोगेट मदर को मां का दर्जा मिलता है, जबकि भारत में इच्छुक पैरेंट्स का नाम बर्थ सटिर्फिकेट पर होता है.

– फ्रांस, नीदरलैंड और नॉर्वे जैसे यूरोपीय देशों में कमर्शियल सरोगेसी की इजाज़त नहीं है.

 

– कंचन सिंह

Meri Saheli Team

Share
Published by
Meri Saheli Team

Recent Posts

पहला अफेयर- एक मुलाक़ात… (Love Story- Ek Mulaqat…)

गर्मी की छुट्टियों में मैं मायके गई थी. वहां बाज़ार में अचानक मेरी मुलाक़ात मेरी…

July 10, 2024

मराठी चित्रसृष्टीत नवलाई : ‘बाबू’च्या २५ फूट भव्य पोस्टरचे अनावरण (25 Feet Poster Unveiled For Upcoming Marathi Film ‘Babu’)

मयूर शिंदे दिग्दर्शित 'बाबू' चित्रपट येत्या २ ऑगस्ट रोजी चित्रपटगृहात प्रदर्शित होणार असून अंकित मोहन,…

July 10, 2024

कहानी- गणित रिश्तों का (Short Story- Ganit Rishton Ka)

लकी राजीव मैंने डांटते हुए कहा, “बकवास मत करो,मैं पूछ क्या रही हूं और तुम…”“वही…

July 10, 2024

करण जोहरचा लव्ह लाइफविषयी मोठा खुलासा, दीड वर्षे होता रिलेशनशिपमध्ये… (Karan Johar Opens Up About His Love Life)

गेल्या २६ वर्षांपासून हिंदी चित्रपटसृष्टीत सक्रिय असलेला चित्रपट निर्माता म्हणजे करण जोहर. त्यानं आजवर अनेक…

July 10, 2024

जर्मनी से कैटरीना कैफ ने शेयर की सन किस्ड फोटो, एक्ट्रेस की न्यू पिक पर विक्की कौशल ने किया रिएक्ट (Katrina Kaif Posts Sun Kissed Picture From Germany, Vicky Kaushal Reacts)

कैटरीना कैफ फिलहाल जर्मनी में है. एक्ट्रेस ने वहां से अपनी अपनी न्यू और स्टनिंग…

July 10, 2024

उषा उत्थुप यांच्या टिकलीवर ‘क’ हे हिंदी अक्षर का लिहिलेले असते?  (Usha Uthup always wears a bindi with the Bengali letter ক)

कांजीवरम साडी... हातात बांगड्या, केसात गजरा,  कपाळावर मोठी टिकली... भारतीयत्वात रंगलेले संपूर्ण व्यक्तिमत्त्व आणि तिने…

July 10, 2024
© Merisaheli