Categories: FinanceOthers

होम लोन लेते समय न करें ये 15 ग़लतियां (Keep These 15 Things In Mind While Applying For A Home Loan)

बढ़ती प्रतिस्पर्धा के दौर में बहुत से बैंक होम लोन की सुविधा मुहैया कराते हैं. लेकिन होम लोन संबंधी सही जानकारियां प्राप्त न होने के…

बढ़ती प्रतिस्पर्धा के दौर में बहुत से बैंक होम लोन की सुविधा मुहैया कराते हैं. लेकिन होम लोन संबंधी सही जानकारियां प्राप्त न होने के कारण अधिकतर लोग ऐसी ग़लतियां कर बैठते हैं, जिनका अहसास उन्हें बाद में होता है. वित्तीय एक्सपर्ट्स भी इस बात को मानते हैं कि छोटी-छोटी ग़लतियों की वजह से आपका लोन की अर्ज़ी कैंसल हो सकती है. आइए जानें इन छोटी-छोटी ग़लतियों के बारे मेें-

1. होम लोन लेने से पहले विभिन्न बैंकों से सारी जानकारी एकत्रित करें, जैसे- आपके इलाके के कौन से बैंक होम लेते हैं, उनकी ब्याज़ दर, किश्त की राशि और समयावधि के बारे में पूरी जानकारी हासिल करें.

2. बैंकों से ही नहीं, मार्केट में लोन लेने के दूसरे विकल्प (जैसे- वित्तीय कंपनियां) भी मौजूद हैं. आप उनसे भी संपर्क कर सकते हैं.

3. होम लोन से जुड़े ़फैसले जल्दबाज़ी में न लें. सही व पूरी जानकारी प्राप्त करने के बाद ही बैंक से लोन लेने के लिए संपर्क करें.

4. लोन के बारे में यदि आपके दिलो-दिमाग़ में किसी तरह की आशंका हो, तो उसे पहले ही बैंक से क्लीयर कर लें.

5. लोन के लिए अप्लाई करते समय आपको जिन-जिन दस्तावेज़ों की ज़रूरत पड़ेगी, उन्हें पहले से ही तैयार रखें. पेपर्स पूरे नहीं, होंगे, तो लोन लेने की प्रक्रिया पहली ही स्टेज पर कैंसल हो जाएगी.


6. पेपर वर्क से बचने के लिए बैंक की बजाय वित्तीय संस्थाओं के झांसे में न आएं.

7. लोन संबंधी दस्तावेज़ों पर हस्ताक्षर करते समय इस बात का ध्यान रखें कि सभी दस्तावेज़ों पर हस्ताक्षर एक ही तरह से होने चाहिए. इसका कारण यह है कि लोने लेने की प्रक्रिया लंबी और मुश्किलोंभरी होती है. बहुत सारी जगहों पर हस्ताक्षर करना पड़ता है, यदि अलग-अलग पेपर पर अलग-अलग तरह के हस्ताक्षर होंगे, तो आपका लोन ऐप्लीकेशन कैंसल हो सकता है.

और भी पढ़ें: इन 12 बातें को ध्यान में रखकर करें सुरक्षित बैंक का चुनाव (12 Things To Consider When Choosing A Bank)

8. यदि आपने किसी बैंक से कोई लोन लिया है और दूसरा लोन लेना चाहते हैं, तो पहले वाले बैंक से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट लेना न भूलें.

9. अगर आपका पहला लोन पूरा हो चुका है, तो भी आपको पहले वाले बैंक से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट लेना ज़रूरी है.

10. बैंक लोन लेने से पहले आपका सिबिल स्कोर चेक करता है. यदि बैंक सिबिल स्कोर के बारे में नहीं पूछता है, तो आप ख़ुद ही बताएं.

11. यदि आपके सीआईबीआईएल रिपोर्ट में नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट का ब्यौरा नहीं दिया गया है, तो भी आपकी लोन की अर्ज़ी रद्द हो सकती है.

12. क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड या किसी अन्य बिल का भुगतान आपने बैंक को नहीं किया है, तब भी लोन की ऐप्लीकेशन रद्द हो सकती है.

13. होम लोन लेने के लिए हर बैंक की ब्याजदर अलग-अलग होती है. ब्याज की दर कस्टमर की प्रोफाइल के अनुसार बदलती रहती है. जैसे- मल्टीनेशनल कंपनी में ऊंचे पद पर काम करनेवाले व्यक्ति की प्रोफाइल अच्छी होती है.

14. यदि किसी कारण से आप अपने लोन को एक बैंक से दूसरे बैंक में ट्रांसफर कराना चाहते हैं, तो करा सकते हैं. लेकिन ट्रांसफर कराने के पहले उस बैंक की ब्याजदर औ प्रोसेसिंग फी के बारे में जान लें.

15. यदि आप चाहें, तो होम लोन की तय अवधि से पहले भी लोन का भुगतान कर सकते हैं. उसे प्री-पेमेंट का ऑप्शन भी होता है.

और भी पढ़ें: कन्या विवाह के लिए ये हैं सरकारी तोह़फे (Government Schemes For Girl Marriage)

– देवांश शर्मा

Recent Posts

कहानी- पहला सबक (Short Story- Pahla Sabak)

वह सोच रही थी, ‘वरदान ने आज से पहले तो कभी इतनी लंबी चुप्पी नहीं…

© Merisaheli